मास्टर प्लान : दूसरे दिन भी गरजे बुलडोजर, मचा हड़कंप पोकलैंड मशीनों से दो बड़ी इमारतों को किया ध्वस्त

दुकानें खाली करते समय दो लोग घायल

मास्टर प्लान : दूसरे दिन भी गरजे बुलडोजर, मचा हड़कंप पोकलैंड मशीनों से दो बड़ी इमारतों को किया ध्वस्त

कार्रवाई के दौरान सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए थे। इस दौरान दो दिनों से कड़ी मेहनत करने वाले पोकलैंड ऑपरेटर का सम्मान भी किया गया। एडीएम जगदीश आर्य ने उसे गोद में भी उठाया और परिषद् की ओर से 5100 रुपए भेंटकर उसका सम्मान किया।

कोटपूतली। नगरीय मास्टर प्लान के तहत सड़कों की चौड़ाई बढ़ाने के उद्देश्य से नगर परिषद् प्रशासन द्वारा प्रस्तावित सड़कों की सीमाओं की जद में आ रही दुकानों को ध्वस्त करने का सिलसिला लगातार दूसरे दिन रविवार को भी जारी रहा। नगर परिषद् ने तीन बड़ी पोकलैंड मशीनों की मदद से दो बड़ी इमारतों को ध्वस्त किया। इन इमारतों को गिराने का काम शनिवार से ही प्रारंभ हो गया था, किन्तु ऊंचाई अधिक होने के कारण उसे जमींदोज करने में नगर परिषद् व प्रशासन को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। कार्रवाई के दौरान सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए थे। इस दौरान दो दिनों से कड़ी मेहनत करने वाले पोकलैंड ऑपरेटर का सम्मान भी किया गया। एडीएम जगदीश आर्य ने उसे गोद में भी उठाया और परिषद् की ओर से 5100 रुपए भेंटकर उसका सम्मान किया। बताया जाता है कि उसकी सूझबूझ के चलते परिषद् ने दोनों ऊंची इमारतों को गिराने में कामयाबी मिली। गत दिवस की भांति आज भी हर गली मोहल्लों के रास्तों पर बैरीकेटिंग कर पुलिस के जवान तैनात रहे। मौके पर एडीएम जगदीश आर्य सहित एएसपी विद्या प्रकाश, डीएसपी डा.संध्या यादव, तहसीलदार सूर्यकांत शर्मा, कोटपूतली सीआई सवाई सिंह, सीआई दिलीप सिंह, पनियाला एसएचओ हितेश शर्मा, सरुंड एसएचओ इन्द्राज सिंह, प्रागपुरा एसएचओ किरण सिंह, परिषद के एक्सईएन दीपक मीणा, जेईएन अनिल जोनवाल व धर्मेन्द्र चौधरी समेत पुलिस के अनेक अधिकारी दल-बल के साथ मुस्तैद थे। अब प्रशासन का जोर मलबे को हटाने पर है और इसके लिए पोकलैंड मशीनों व आधा दर्जन डंपरों की मदद ली जा रही है। परिषद् के आयुक्त फतेहसिंह मीणा ने बताया कि जल्द ही मलबे को हटवाकर आवागमन के लिए रास्ते खोल दिए जाएंगे। अन्य व्यापारियों में भी कार्रवाई का खौफ: लगातार दो दिन तक भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच चली इस कार्रवाई के बाद अन्य व्यापारियों में भी खौफ पैदा हो गया है। नगर परिषद् के आयुक्त फतेहसिंह मीणा ने गत ही स्पष्ट कर दिया था कि वे शनि मंदिर से सरदार स्कूल तक 15 अगस्त के बाद कार्रवाई करेंगे, जबकि चौराहे से पालिका तिराहे तक कार्रवाई जारी रहेगी। ऐसे में शनि मंदिर से सरदार स्कूल तक के अधिकांश व्यापारी पूरी रात अपनी दुकानें खाली करने में जुटे रहे। रविवार को भी अनेक दुकानदारों ने तो परिषद् द्वारा लगाए गए रेड क्रॉस के आधार पर अपने निर्माण को भी हटवाना प्रारंभ कर दिया। चौराहे की तरफ जाने वाले मार्ग पर भी काफी संख्या में दुकानें खाली हो चुकी हैं। आवागमन और बिजली बंद होने से परेशानी: कार्रवाई के चलते शहर के मुख्य बाजार में आवागमन बाधित होने के कारण न केवल आमजन को परेशानी का सामना करना पड़ा, बल्कि व्यापारियों का व्यापार भी चौपट नजर आया। चूंकि, आवागमन में बंद रखने के कारण वाहन तो दूर, कोई पैदल भी नहीं गुजर सका। इधर, उमस भरी गर्मी में अलसुबह से ही इलाके में विद्युत आपूर्ति बंद कर दिए जाने के कारण भी लोग परेशान रहे। हांलाकि, शाम करीब 6 बजे आपूर्ति बहाल कर दी गई। कार्रवाई को देखने के लिए आसपास के ऊंची बिल्डिंगों पर लोग जमा होकर अपने-अपने मोबाइल फोन से रिकार्डिंग करते रहे तो काफी संख्या में लोग जगह-जगह हुई बैरीकेटिंग के पास एकत्र होकर नजारा देखते रहे और फोटो व वीडियो पूरे दिन सोशल मीडिया पर वायरल करते रहे। अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए परिषद की कार्रवाई के दौरान पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों के हाथ-पांव उस समय फूल गए, जब बबलू नाम का एक श्रमिक प्रथम मंजिल से नीचे गिर पड़ा। हुआ यूं कि परिषद् की चेतावनी के बाद प्रतिष्ठान मालिक अपनी दुकान को खाली करवा रहा था। इसी बीच श्रमिक का पैर फिसल गया और वह करीब 12 फिट की ऊंचाई से नीचे से धड़ाम से गिर पड़ा। यह देख बचाव के लिए पुलिस दौड़ पड़ी। तुरंत उसे उपचार के लिए अस्पताल भिजवाया गया। इस घटना के बाद पुलिस बल ने भीड़ को तितर-बितर किया और पुलिस ने उलझने पर एक व्यक्ति को भी हिरासत में लेकर थाने भिजवाया। इधर, शरण मोबाइल के पास निकट एक अन्य दुकानदार भी बेसमेंट की सीढ़ियों में गिर पड़ा, जिससे उसका पैर का फ्रैक्चर हो गया। क्रेन की मदद से उठवाई भारी-भरकम तिजोरी नगर परिषद् की कार्रवाई के बाद मलबे में तब्दील दुकानों पर रात्रि को उनके कई मालिक चोरी-छिपे मौके पर पहुंचे और बर्बादी का आलम देखा। कुछ दुकानदारों ने खाली करने के दौरान छूटे सामान को ढूंढ़ते नजर आए। इधर, नेहरु बाजार स्थित एक स्वर्णकार की दुकान के अंदर कटर मशीन और करीब 25 क्विंटल वजनी तिजोरी रह गई थी। दुकानदार ने क्रेन की मदद से 6 क्विंटल वजनी कटर मशीन व तिजोरी उठवाकर दूसरी दुकान में सिफ्ट करवाया।

Post Comment

Comment List

Latest News

फिल्म 'लैटर्स टू मिस्टर खन्ना' में एक साथ नजर आएंगे नीतू कपूर और सन्नी कौशल फिल्म 'लैटर्स टू मिस्टर खन्ना' में एक साथ नजर आएंगे नीतू कपूर और सन्नी कौशल
नीतू कपूर ने कैप्शन में लिखा, ''शुभ आरंभ, लेटर्स टू मिस्टर खन्ना। उन्होंने सन्नी कौशल को भी टैग किया। है।...
पुतिन की परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की धमकी, ईयू ने कहा इसे हल्के में न लें
पायलट के घर पर पहुंचा बुलडोजर, कर दी यह गलती
जेईसीआरसी ने आयोजित किया क्लाउड समिट' 22, 50 इंस्टीट्यूशंस के 4000 से ज्यादा छात्रों ने भाग लिया
तेज बारिश व अतिवृष्टि से फसलों को भारी नुकसान, पूनियां ने की किसानों को मुआवजा देने की मांग
खास परिस्थितियों के लिए अभ्यास करता हूं: दिनेश कार्तिक
एटीएम कार्ड बदलकर ठगी करने वाले दो शातिर गिरफ्तार,42 एटीएम कार्ड व 1 स्वैप मशीन बरामद