राष्ट्रीय दल बनते ही टीआरएस का बदला नाम, हुआ भारतीय राष्ट्र समिति

जल्द ही चुनाव आयोग को भेजा जायेगा प्रस्ताव   

राष्ट्रीय दल बनते ही टीआरएस का बदला नाम, हुआ भारतीय राष्ट्र समिति

तेलंगाना भवन में हुई बैठक में टीआरएस के 283 पार्टी सदस्य उपस्थित हुए, इनमें पार्टी के वरिष्ठ नेता भी शामिल थे। इसी बैठक में टीआरएस को नये दल में शामिल करने का प्रस्ताव भी पारित किया गया।

हैदराबाद। 21 वर्ष पहले अलग राज्य की मांग को लेकर गठित की गयी तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) राष्ट्रीय पार्टी बन गयी और वह 'भारतीय राष्ट्र समिति'  के रूप तब्दील हो गयी। टीआरएस के अध्यक्ष एवं मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने राष्ट्रीय पार्टी की घोषणा करते हुए कहा कि पार्टी कार्यालय में दल की आम सभा हुई जिसमें टीआरएस का नाम बदलकर बीआरएस करने का प्रस्ताव सर्वसम्मति से पारित किया गया। तेलंगाना भवन में हुई बैठक में टीआरएस के 283 पार्टी सदस्य उपस्थित हुए, इनमें पार्टी के वरिष्ठ नेता भी शामिल थे। इसी बैठक में टीआरएस को नये दल में शामिल करने का प्रस्ताव भी पारित किया गया।

जल्द ही चुनाव आयोग को भेजा जायेगा प्रस्ताव                                                                                                                                                         बीआरएस के गठन की घोषणा जनता दल (सेकुलर) के नेता एवं कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी की मौजूदगी में की गयी। कुमारस्वामी के साथ उनके दल के 20 विधायक भी उपस्थित थे। इस मौके पर तमिलनाडु की विदुथलाई चिरुथैगल काचि (वीकेसी) के दो सांसद और दलित नेता तिरुमावालावन अपने समूह के प्रतिनिधियों के साथ मौजूद थे।

Post Comment

Comment List

Latest News