वैक्सीन की पहली डोज लगा चुके लोग दूसरी डोज लगवाने में लापरवाही ना बरतें

वैक्सीन की पहली डोज लगा चुके लोग दूसरी डोज लगवाने में लापरवाही ना बरतें

लापरवाही परिवार, समाज, राज्य और देश पर भी भारी पड़ सकती है।

जयपुर। चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीना ने कहा कि प्रदेश में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवा चुके लोग दूसरी डोज लगवाने में लापरवाही ना बरतें। उनकी लापरवाही परिवार, समाज, राज्य और देश पर भी भारी पड़ सकती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी जिला कलक्टर्स को दूसरी डोज से वंचित लोगों के लिए अभियान चलाकर टीकाकरण के निर्देश दिए जा चुके हैं।  

 मीणा ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की खासी कमी देखने में आई। मेडिकल ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए प्रदेश में 475 से ज्यादा ऑक्सीजन प्लांट लग चुके है, जिनसे इस महीने के अंत तक ऑक्सीजन उत्पादन प्रारंभ किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का लक्ष्य 1 हजार मेट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन उत्पादन करने का है। साथ ही राज्य सरकार द्वारा 40 हजार से ज्यादा ऑक्सीजन कंसट्रेटर्स की व्यवस्था की जा चुकी है। राज्य सरकार किसी भी स्थिति का सामना करने में समक्ष और सजग है।

शिशु चिकित्सा संस्थानों को किया जा रहा मजबूत

चिकित्सा मंत्री ने कहा कि विशेषज्ञों के अनुसार कोरोना की संभावित तीसरी लहर का असर बच्चों पर हो सकता है। ऐसे में बच्चों के बेहतर उपचार के लिए प्रदेश के सभी शिशु चिकित्सालयों के आधारभूत ढांचे को मजबूत किया जा रहा है। वहां के आईसीयू, नीकू, पीकू और एसएनसीयू में ऑक्सीजन युक्त बैड्स की व्यवस्थाएं की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों को कोरोना से बचाने के लिए टीका उपलब्ध कराने के लिए भारत सरकार को लिखा जा रहा है।

6 करोड़ 80 लाख लोगों का हुआ वैक्सीनेशन
 मीणा ने कहा कि आमजन को वैक्सीन का पहला और दूसरा डोज लगने के बाद ही बूस्टर डोज लग सकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब तक 6 करोड़, 80 लाख, 21 हजार 768 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इनमें से 4 करोड़, 34 लाख, 48 हजार, 884 को पहला और 2 करोड़ 45 लाख, 72 हजार, 884 लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। उन्होंने पहला डोज लगवा चुके लोगों से दूसरा डोज लगवाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन की दोनों डोज से ही कोरोना से बचाव संभव है।

सतर्कता से ही बचाव है संभव

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना प्रबंधन से लेकर वैक्सीनेशन में राजस्थान देश भर में अग्रणी रहा है। कोरोना के प्रबंधन की सराहना देश के प्रधानमंत्री भी चुके हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना अभी गया नहीं है। नए-नए वैरिएंट से साथ वापस आ रहा है। आमजन से अपील करते हुए कहा कि घर से बाहर निकलते समय मास्क लगाना ना भूलें, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करें और बार-बार साबुन से हाथ धोने को अपने व्यवहार में शामिल कर लें। उन्होंने कहा कि आमजन की सर्तकता से ही कोरोना से बचा जा सकता है।

Post Comment

Comment List

Latest News