मेघालय में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर प्रतिबंध को बढ़ाया गया

गोलीबारी में 5 लोग और एक वनरक्षक की मौत हुई थी

मेघालय में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर प्रतिबंध को बढ़ाया गया

असम पुलिस की 22 नवंबर को वेस्ट जैनतिया हिल्स जिले के मुखरोह गांव में की गयी गोलीबारी में मेघालय के 5 लोग और एक असम का वनरक्षक मारा गया था।

शिलांग। मेघालय सरकार ने राज्य के पूर्वी 7 जिलों में लगाए गए मोबाइल इंटरनेट सेवाओं पर प्रतिबंध को सुबह 10:30 बजे से 48 घंटों के लिए बढ़ा दिया है। सरकार ने गत 24नवंबर को यह प्रतिबंध लगाया था। एक अधिकारी ने बयान में कहा कि शांति और कानून बनाए रखने के लिए यह फैसला लिया गया है। गौरतलब है कि असम पुलिस की 22 नवंबर को वेस्ट जैनतिया हिल्स जिले के मुखरोह गांव में की गयी गोलीबारी में मेघालय के 5 लोग और एक असम का वनरक्षक मारा गया था।

राज्य के प्रमुख गृह सचिव शकील पी अहमद ने कहा कि राज्य के 7 जिलों में 27 नवंबर सुबह 10:30 बजे तक मोबइल इंटरनेट सेवा प्रतिबंधित रहेगी, जिसमें यह जिले वेस्ट जैनतिया हिल्स, ईस्ट जैनतिया हिल्स, ईस्ट खासी हिल्स, री-भोई, इस्टर्न वेस्ट खासी हिल्स, वेस्ट खासी हिल्स और साउथ वेस्ट खासी हिल्स है। सातों जिलों में शांति और कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए लगातार दूसरी बार इंटरनेट सेवा प्रतिबंध को बढ़ाया गया  है।

अहमद ने कहा कि पुलिस मुख्यालय से ईस्ट खासी हिल्स और राज्य के अन्य जिलों में नागरिकों पर हमले, आगजनी और सार्वजनिक संपत्तियों को नुकसान पहुंचाने की रिपोर्ट प्राप्त हुई हैं।गृह मंत्रालय के अधिकारी ने कहा कि संदेश भेजने वाली एप्लिकेशन व्हाट्सएप और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब आदि के जरिए सूचनाओं और तस्वीरों एवं वीडियो को भेजा जा सकता है जिससे कानून एवं व्यवस्था बुरी तरह से प्रभावित हो सकती है। मुख्य सचिव डोनाल्ड फिलिप्स वाहलांग ने अन्य सरकारी और वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ राज्य में हिंसा की घटनाओं पर समीक्षा करते हुए सुरक्षा इंतजामों पर चर्चा की।

 

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News