पार्टी के नए नेताओं को देना पड़ेगा मौका : खड़गे

कांग्रेस को सत्ता में लाया जा सकता है

पार्टी के नए नेताओं को देना पड़ेगा मौका : खड़गे

खड़गे ने कांग्रेस संचालन समिति की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि पदाधिकारी अगर अपने कार्य को लेकर सक्षम नहीं है, तो उनकी जगह पार्टी के नए नेताओं को मौका देना पड़ेगा।

नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष मलिकार्जुन खड़गे ने को कहा कि पार्टी के हर पदाधिकारी और नेता को साथ जनसेवा की अपनी भूमिका के साथ मोदी सरकार से त्रस्त हर व्यक्ति के साथ होना पड़ेगा और सेवाभाव के इसी समर्पण के बल पर पार्टी को सत्ता में लाया जा सकेगा। खड़गे ने कांग्रेस संचालन समिति की बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि पदाधिकारी अगर अपने कार्य को लेकर सक्षम नहीं है, तो उनकी जगह पार्टी के नए नेताओं को मौका देना पड़ेगा। इसी के साथ चलकर ही कांग्रेस को सत्ता में लाया जा सकता है। कांग्रेस अध्यक्ष चुनाव के बाद पार्टी की सर्वोच्च नीति निर्धारक संस्था कार्यसमिति के स्थान पार्टी के काम को आगे बढ़ाने के लिए संचालन समिति का गठन किया गया था और अब कांग्रेस के अधिवेशन में नए पदाधिकारियों की नियुक्ति की जाएगी। पार्टी के अध्यक्ष के चुनाव के बाद समिति की यह पहली बैठक हुई, जिसमें पार्टी की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी और संचालन समिति के सदस्यों ने हिस्सा लिया। बैठक में कांग्रेस अधिवेशन की तिथि को लेकर भी विचार-विमर्श किया जाना है।


मोदी सरकार ने देश के समक्ष कई चुनौतियां उत्पन्न कर दी है और इन चुनौतियों के कारण लोगों के समक्ष कई तरह के संकट हो गए है। पार्टी के पदाधिकारियों को लोगों की इन समस्याओं को समझना और उनके निराकरण के लिए प्रयास करना है। कांग्रेस नेता ने कहा कि सत्ताधारी ताकतें वर्तमान माहौल में नफरत की खेती काटने में लगी हैं और उसके खिलाफ कांग्रेस के हर नेता और  पदाधिकारी को लडऩा है। यह हम सभी का कर्तव्य है और राष्ट्रधर्म भी यही है।

 

Tags: kharge

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News

जगजीत सिंह के जन्म दिवस पर 8 फरवरी को शाम-ए-गजल कार्यक्रम जगजीत सिंह के जन्म दिवस पर 8 फरवरी को शाम-ए-गजल कार्यक्रम
सचिव शिव जालान ने बताया कि इसमें अनेक कलाकार गीतों, गजलें और नज्मों से स्व. जगजीत सिंह को स्वरांजलि अर्पित...
सतीश पूनियां ने सीएम को लिखा पत्र, आमेर विस क्षेत्र की मांगों को बजट में शामिल करने का किया आग्रह
केरल का इंटरनेशनल थियेटर फेस्टिवल 5 फरवरी से होगा शुरू
मोबाइल फोन के बेतहाशा इस्तेमाल से बढ़ा विजन सिंड्रोम का खतरा
तालिबान प्रशासन व्याख्याता मशाल को तत्काल रिहा करें: संयुक्त राष्ट्र
अडानी सीमेंट के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग
खान सुरक्षा अभियान में निदेशक खान का जोधपुर दौरा