खिलाड़ी कैसे हों तैयार, स्टेडियम की दरकार

पांच करोड़ की लागत से बनना था स्टेडियम, अभी तक अधूरा पड़ा निर्माण कार्य

खिलाड़ी कैसे हों तैयार, स्टेडियम की दरकार

बून्दी रोड पर 5 करोड़ की लागत से स्टेडियम निर्माण की घोषणा की गई थी और40 बीघा भूमि पर स्टेडियम निर्माण होना था। लगभग 35 लाख रुपए पूर्व विधायक व मंत्री बाबूलाल वर्मा के विधायक कोष और शेष राशि राज्य सरकार की तरफ से जारी हुई थी। स्टेडियम में इंडोर और आउटडोर खेलों के ल्एि निर्माण होना था, लेकिन पांच सालों में स्टेडियम अपने मुकाम तक नहीं पहुच पाया है।

लाखेरी । शहर के खिलाड़ियों को स्टेडियम के लिए लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। काफी समय से स्टेडियम का निर्माण अधूरा पड़ा हुआ है। बूंदी जिले के सबसे बड़े कस्बे लाखेरी में भाजपा सरकार में पूर्व मंत्री बाबूलाल वर्मा ने स्टेडियम के लिए बजट स्वीकृत कराकर निर्माण कार्य शुरू करवाया था।, लेकिन सरकार बदलने के बाद स्टेडियम का निर्माण अटक गया। अभी तक आधा ही निर्माण हो पाया है। बून्दी रोड पर 5 करोड़ की लागत से स्टेडियम निर्माण की घोषणा की गई थी और40 बीघा भूमि पर स्टेडियम निर्माण होना था। लगभग 35 लाख रुपए पूर्व विधायक व मंत्री बाबूलाल वर्मा के विधायक  कोष और शेष राशि राज्य सरकार की तरफ से जारी हुई थी। स्टेडियम में इंडोर और आउटडोर खेलों के ल्एि निर्माण होना था, लेकिन पांच सालों में स्टेडियम अपने मुकाम तक नहीं पहुच पाया है। 

दुर्दशा का हो रहा शिकार
इंडोर स्टेडियम में बैडमिंटन, टेनिस आदि खेलों के लिए सामग्री अभी तक भी नही आई है। वही फुटबॉल,  बास्केटबॉल के लिए मैदान तैयार कर उस पर घास लगाने की प्रकिया भी नही हुई है जिससे खेल प्रेमियों में काफी निराशा है। वर्तमान में खेल स्टेडियम के मैदान पर नुकीले पत्थर पड़े हुए हंै वही चारो तरफ का ट्रैक उखड़ा पड़ा है। स्टेडियम का प्रवेश द्वार भी नही लगा है। साथ ही मुख्य रास्ते पर बरसाती नाला भी खुदा पड़ा हुआ है। जिससे अल सुबह मॉर्निंग वॉक पर आने वाले लोग स्टेडियम की दशा को देखकर वापस चले जाते है। स्टेडियम का निर्माण कार्य पॉलिका की देखरेख में होना है। 26 जनवरी से शहरी ओलंपिक होने है ऐसे में एक बार फिर खिलाड़ियों को सीनियर स्कूल के उबड़ खाबड़ मैदान में खेलना पड़ेगा। पूर्व पालिका अध्यक्ष महावीर गोयल, मनोनीत पार्षद शब्बीर पठान कांग्रेस नेता अनु पठान, जिला महिला कांग्रेस नेता राजेश मीणा, एडवोकेट विनोद बैरवा ने खेल मंत्री अशोक चांदना को स्टेडियम के बारे में अवगत कराया था।

इस तरह का होगा स्टेडियम
पहले से निर्धारित स्टेडियम परिसर में दो मंजिला हॉल में दो मल्टीपरपज हॉल होंगे। इसमें एक भूतल व एक प्रथम तल पर होगा। भूतल पर मुख्य हॉल के अलावा फिटनेस सेंटर, सकुर्लेटिंग एरिया, खिलाड़ियों के लिए चेंजिग रूम, एडमिन आॅफिस और सुविधाओं को प्रावधान होगा। प्रथम तल पर छोटा हॉल, योग-मेडिटेशन हॉल, सुविधाएं और सकुर्लेटिंग एरिया का प्रावधान किया जाएगा। इंडोर स्पोटर्स हॉल के भूतल पर बैडमिंटन, बास्केटबॉल, वालीबॉल, नेटबॉल, हैंडबॉल, जिम्नास्टिक्स खेल होंगे। वहीं, प्रथम तल पर बने हॉल में टेबल टेनिस, जूडो, ताइक्वांडो, फेंसिंग, बॉक्सिंग, वेट लिफ्टिंग और कुश्ती खेलने के लिए प्रावधान किए जाएंगे। इनमें खिलाड़ियों और दर्शकों की सुविधा का ध्यान रखा जाएगा।

स्टेडियम की वर्तमान स्थिति का अवलोकन करके कार्य योजना बना रखी है। जल्द कार्य करा कर स्टेडियम का शुभारंभ करेंगे।
-आशा शर्मा, नगर पालिकायक्ष

Read More सीएम भजनलाल का कांग्रेस पर हमला- सोनिया गांधी को राहुल और गहलोत को वैभव की चिंता

कस्बे में स्टेडियम के निर्माण के सम्बंध में कार्य योजना बनाकर तैयार कर रखी है। बजट आते ही कार्य कराया जाएगा।
-अनुराग शर्मा, कनिष्ठ अभियंता पालिका

Read More दिनदहाड़े रेप पीड़िता पर दुष्कर्मियों ने फरसे से किए 15 वार, गोली मारी, दो गिरफ्तार

Post Comment

Comment List

Latest News

विक्रमादित्य सिंह ने मंत्री पद से दिया इस्तीफा विक्रमादित्य सिंह ने मंत्री पद से दिया इस्तीफा
हिमाचल प्रदेश के कैबिनेट मंत्री विक्रमादित्य सिंह ने बुधवार सुबह अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने पार्टी के...
फिल्म 'तेरा क्या होगा लवली' का फर्स्ट लुक पोस्टर जारी
Himachal Pradesh Politcal Crisis: प्रियंका गांधी बोली- 25 विधायकों वाली पार्टी 43 विधायकों के बहुमत को चुनौती दे रही
भारत ने 200 ब्रह्मोस मिसाइलों का दिया ऑर्डर 
भारत में पहली बार अंतर्राष्ट्रीय न्यूरोट्रॉमा सम्मेलन जयपुर में होगा आयोजित
दीपिका पादुकोण की बॉडी, खाना और घर चुराना चाहती है अनन्या पांडे
इराक में मार्केट में लगी भीषण आग, 50 लोग घायल