करबला क्रिकेट विवाद पहुंचा पीसीसी मुख्यालय,निर्दलीय पार्षद ने लिया समर्थन वापस

करबला क्रिकेट विवाद पहुंचा पीसीसी मुख्यालय,निर्दलीय पार्षद ने लिया समर्थन वापस

कर्बला क्रिकेट विवाद अब नए राजनीतिक विरोध का रूप लेने लगा है।

जयपुर। कर्बला क्रिकेट विवाद अब नए राजनीतिक विरोध का रूप लेने लगा है। विवाद में पुलिस कार्रवाई के दुर्व्यवहार पर उठ रही कानूनी कार्यवाही की मांग पर अब विभाग प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय तक पहुंच गया है।


अपने समर्थकों के साथ पीसीसी विरोध जताने पहुंचे निर्दलीय पार्षद एहसान कुरैशी ने सोमवार को कांग्रेस से समर्थन वापस लिया। कुरैशी ने मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि उन्होंने इस विवाद में पुलिस के दुर्व्यवहार पर कोई कार्यवाही नहीं होने के विरोध में कांग्रेस की सदस्यता और हेरिटेज बोर्ड से समर्थन वापस लिया है। कुरैशी ने बताया कि हम प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा को पत्र सौंपने आए थे जिसमें कांग्रेस की सदस्यता से इस्तीफा देने और नगर निगम एडिटेज बोर्ड से समर्थन वापस देने की बात हमने कही है। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में हमें कोई पदाधिकारी नहीं मिला। जब इन समर्थकों और पार्षद को पीसीसी में कोई नहीं मिला तो वह अपना समर्थन वापसी पत्र देने के लिए विधायक रफीक खान अमीन कागजी और खाद्य मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास के पास रवाना हो गए।


गौरतलब है कि निर्दलीय पार्षद के भाई पप्पू कुरैशी ने कर्बला मैदान पर क्रिकेट टूर्नामेंट का विरोध किया था। विरोध करने पर पुलिस ने कथित तौर पर निर्दलीय पार्षद के भाई के साथ दुर्व्यवहार किया था। निर्दलीय पार्षद दुर्व्यवहार करने वाले पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की मांग पर अड़े थे और 17 जनवरी तक कार्रवाई का अल्टीमेटम दिया गया था। अब पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज हो कर हेरिटेज नगर निगम बोर्ड से समर्थन वापस लिया।

Read More करे कोई भरे कोई: अंडरपास में पानी भरने से डूबी बस

Post Comment

Comment List

Latest News