भाजपा ने जिन 11 सीटों पर परिवार में टिकट दिया, उनमें 6 सीटों पर ही बढ़ा मतदान

भाजपा ने जिन 11 सीटों पर परिवार में टिकट दिया, उनमें 6 सीटों पर ही बढ़ा मतदान

राजस्थान में भाजपा ने कुल 11 सीटों पर भाजपा के पूर्व नेता, सांसद, पूर्व विधायक के बेटे, पोते, बहू, भतीजे और बेटियों को टिकट दिया।

जयपुर। राजस्थान में भाजपा ने कुल 11 सीटों पर भाजपा के पूर्व नेता, सांसद, पूर्व विधायक के बेटे, पोते, बहू, भतीजे और बेटियों को टिकट दिया। इन सीटों में से 6 सीटों पर मतदान पिछली बार के मुकाबले बढ़ा, लेकिन 5 सीटों पर कम हो गया। सादुलशहर में पूर्व विधायक गुरजंट सिंह के पोते गुरवरी सिंह को टिकट दिया, यहां 4.62 फीसदी वोटिंग कम हुई। जबकि धरियावद विधानसभा सीट पर पूर्व विधायक गौतमलाल मीणा के बेटे कन्हैया लाल मीणा को टिकट दिया, जहां सर्वाधिक 11.47 फीसदी मतदान में बढ़ोतरी हुई है। 

1. कोलायत : 0.56 फीसदी कम मतदान
अंशुमान सिंह भाटी को टिकट दिया, जो पूर्व मंत्री देवी सिंह भाटी के पोते हैं। इस बार यहां 78.24 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 78.8 फीसदी मतदान था। 

2. महुआ : 2.3 फीसदी मतदान कम 
राजेन्द्र मीणा को टिकट दिया। वे सांसद व सवाई माधोपुर के प्रत्याशी किरोड़ी लाल मीणा के भतीजे हैं। इस बार 71.60 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 73.9 फीसदी मतदान था। 

3.सादुलशहर : 4.62 फीसदी मतदान ज्यादा 
गुरवीर सिंह बराड़ को प्रत्याशी बनाया। वे पूर्व विधायक गुरजंट सिंह के पोते हैं। इस बार 81.72 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिदली बार 77.1 मतदान था। 

Read More कलराज मिश्र ने किया संविधान पार्क का लोकार्पण

4. बहरोड़ : 0.25 फीसदी मतदान कम 
 जसंवत यादव को प्रत्याशी बनाया। वे पूर्व में मंत्री रहे। पिछली बार उनके बेटे मोहित यादव को टिकट दिया था। वे हार गए। इस बार फिर से जसवंत पर दांव खेला। इस बार 74.25 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 74.5 फीसदी मतदान था। 

Read More निर्मला सीतारमण का एनजीजेसीआई के चेयरमैन प्रमोद अग्रवाल ने किया अभिवादन

5. गुढ़ामलानी : 2.57 फीसदी मतदान कम 
केके विश्नोई को चेहरा बनाया। वे पूर्व नेता लादूराम विश्नोई के बेटे हैं। इस बार 80.83 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 83.4 फीसदी मतदान था। 

Read More आधी रात घर से अगवा कर बेटियों के साथ हो रही दरिंदगी : डोटासरा

6. रामगढ़ : 1.47 फीसदी मतदान कम 
 पूर्व विधायक ज्ञानदेव आहूजा के भतीजे जय आहूजा को टिकट दिया। इस बार 77.43 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 78.9 फीसदी मतदान था। 

7. मकराना : 2.2 फीसदी मतदान कम 
सुमिता भींचर को टिकट दिया। वे पूर्व विधायक श्रीराम भींचर की पुत्र वधू हैं। इस बार 75.50 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 77.7 फीसदी मतदान था। 

8. धरियावद : 11.47 फीसदी मतदान ज्यादा 
कन्हैया लाल मीणा को प्रत्याशी बनाया। वे पूर्व विधायक गौतम लाल मीणा के बेटे हैं। इस बार 80.47 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 69 फीसदी मतदान हुआ था। 

9. राजसमंद : 7.82 फीसदी मतदान ज्यादा 
दीप्ति माहेश्वरी को टिकट दिया। वे पूर्व दिवंगत विधायक किरण माहेश्वरी की बेटी हैं। उपचुनाव में भी उन्हें ही चेहरा बनाया था। इस बार 75.02 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 67.2 फीसदी मतदान हुआ था। 

10. देवली-उनियारा : 2.47 फीसदी मतदान ज्यादा 
विजय बैंसला को टिकट दिया। वे टोंक-सवाई माधोपुर से भाजपा के लोकसभा प्रत्याशी रहे कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला के बेटे हैं। इस बार 73.57 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 71.1 फीसदी मतदान हुआ था। 

11. पचपदरा : 1.02 फीसदी मतदान ज्यादा 
अरुण चौधरी को टिकट दिया। यह भाजपा के पूर्व मंत्री अमराराम के बेटे हैं। इस बार 73.22 फीसदी मतदान हुआ, जबकि पिछली बार 72.2 फीसदी मतदान हुआ था।

Post Comment

Comment List

Latest News

घालमेल की राजनीति करना बेनीवाल की पुरानी आदत : ज्योति  घालमेल की राजनीति करना बेनीवाल की पुरानी आदत : ज्योति 
बेनीवाल के भाजपा में आने की अटकलों पर मिर्धा ने कहा कि मुझे नहीं लगता बीजेपी उन्हें लेगी, यहां उनके...
राजस्थान में 2 करोड़ रुपए की हेरोइन बरामद, 3 तस्कर गिरफ्तार
भजनलाल शर्मा ने कर्मचारी चयन बोर्ड के अधिकारी-कर्मचारी संवर्ग के सेवा नियमों संबंधी प्रस्तावों को दी मंजूरी 
पूरी ताकत से विकास की हर योजना पर करना होगा काम : शिवराज
कलराज मिश्र ने किया संविधान पार्क का लोकार्पण
माहेश्वरी समाज ने मनाया महेश नवमी महोत्सव, निकाली शोभायात्रा
पंजाब में स्वर्ण मंदिर में वीडियो बनाने पर प्रतिबंध