खुला ताला, देखें भारत, हंगरी, मैक्सिको सहित अन्य देशों की ‘गुड़िया’

कोरोना महामारी के कारण ये पिछले करीब डेढ़ साल से बंद था, लेकिन इसे पुन: नहीं खोला गया।

खुला ताला, देखें भारत, हंगरी, मैक्सिको सहित अन्य देशों की ‘गुड़िया’

इस खबर को दैनिक नवज्योति ने प्रमुखता से उठाते हुए 17 दिसम्बर, 2021 को ‘ताले में कैद 600 से अधिक गुड़िया’ शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी।

 जयपुर। देश ही नहीं, बल्कि विदेशी गुड़ियाओं का ऐसा संसार, जहां भारत के विभिन्न राज्यों सहित जापान, हंगरी, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड की कला संस्कृति की गाथा बयां करती डॉल्स देखने को मिलती है। हम बात कर रहे हैं त्रिमूर्ति सर्किल स्थित राजकीय सेठ आनन्दीलाल पोद्दार बधिर उ. मा. विद्यालय परिसर स्थित बने डॉल म्यूजियम की। कोरोना महामारी के कारण ये पिछले करीब डेढ़ साल से बंद था, लेकिन इसे पुन: नहीं खोला गया।
इस खबर को दैनिक नवज्योति ने प्रमुखता से उठाते हुए 17 दिसम्बर, 2021 को ‘ताले में कैद 600 से अधिक गुड़िया’ शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। इसके बाद संग्रहालय के अंदर रिनोवेशन कार्य करने के बाद इसे अब पुन: पर्यटकों के अवलोकनार्थ खोल गया है।

Post Comment

Comment List

Latest News

आज का 'राशिफल' आज का 'राशिफल'
समय अच्छा रहेगा। बिगडे काम बनेंगे। धर्म के प्रति रूचि बनेगी। परिवार में धार्मिक अनुष्ठान संभव। माता के स्वास्थ्य में...
ऐतिहासिक विरासतों के संरक्षण के लिए सरकार प्रतिबद्ध: दीया कुमारी
नेत्रदान के प्रति आमजन में जागरूकता आवश्यक: सुधांश पंत
प्रदेश में 14 धार्मिक और पर्यटन स्थलों पर बनेंगे रोप-वे
दिनदहाड़े रेप पीड़िता पर दुष्कर्मियों ने फरसे से किए 15 वार, गोली मारी, दो गिरफ्तार
रक्तदान शिविर का हुआ पोस्टर विमोचन
"शिक्षा में गुणवत्ता बनाए रखने के लिए रिसर्च व कौशल विकास को आधार बनाएं हायर एजुकेशन इंस्टिट्यूट" –डॉ. तोमर