सड़कों से बनती हैं राज्य के विकास की छवि : दीया

केन्द्र सरकार देश के विकास के लिए  कर रही है

सड़कों से बनती हैं राज्य के विकास की छवि : दीया

हम प्रदेश में अच्छी गुणवत्ता की सड़कों के तेजी से विकास के लिए आईआईएफसीएल प्रोजेक्टस के साथ मिलकर उसी गति से काम करेंगे, जैसे केन्द्र सरकार देश के विकास के लिए  कर रही है। 

जयपुर। डिप्टी सीएम दीया कुमारी ने कहा कि प्रदेश में आर्थिक, औद्योगिक, पर्यटन आदि के विकास की बहुत संभावनाएं है, जिसके लिए अच्छी सड़कें सबसे जरूरी है। सड़कें किसी भी प्रदेश के विकास कि पहली सूचक होती है, जब कोई व्यक्ति बाहर से आता है तो सड़कों को देख कर ही उस राज्य के विकास की छाप अपने मन में बनाता है। उप मुख्यमंत्री दीया कुमारी निर्माण भवन में सड़क आधारभूत विकास के लिए वित्तीय  मॉडल्स विषय पर कार्यशाला को संबोधित कर रही थीं। उन्होनें कहा कि प्रदेश में अब डबल इंजन सरकार काम कर रही है। हम प्रदेश में अच्छी गुणवत्ता की सड़कों के तेजी से विकास के लिए आईआईएफसीएल प्रोजेक्टस के साथ मिलकर उसी गति से काम करेंगे, जैसे केन्द्र सरकार देश के विकास के लिए  कर रही है। 

राजस्थान सरकार एनएचएआई की तरह आरएसएचए को एक प्रमुख फाइनेंसर और राज्य राजमार्ग प्राधिकरण के रूप में विकसित करने के लिए तत्पर है। आईआईएफसीएल भारत सरकार का उपक्रम है, जो भारत में एक प्रमुख ढांचा वित्त पोषण संस्थान है और इसने लगभग 30 हजार किलोमीटर या भारत की राष्ट्रीय राजमार्ग क्षमता का 21 प्रतिशत वित्त पोषित किया है। एसीएस संदीप वर्मा, एमडी आईआईएफसीएल एंड चेयरमैन आईआईएफसीएल प्रोजेक्ट पीआर जयशंकर सहित अन्य ने संबोधित किया।

Tags: diya

Post Comment

Comment List

Latest News

समित शर्मा ने पेयजल आपूर्ति का लिया जायजा, अवैध बूस्टरों के विरुद्ध कार्रवाई के दिए निर्देश समित शर्मा ने पेयजल आपूर्ति का लिया जायजा, अवैध बूस्टरों के विरुद्ध कार्रवाई के दिए निर्देश
शासन सचिव पीएचईडी ने कहा कि मुख्य जल वितरण पाइपलाइन से निकलने वाले सर्विस कनेक्शंस का पेयजल आपूर्ति के समय...
मणिपुर में 11 मतदान केंद्रों पर फिर होगा मतदान
भाजपा के लिए एकतरफा जीत इस बार आसान लड्डू नहीं
दूसरे फेज की सीटों में कांग्रेस दलित-अल्पसंख्यकों तक पहुंचने में जुटी
अफगानिस्तान में एक चिपचिपी खदान में बम विस्फोट, एक व्यक्ति की मौत
महावीर जयंती पर निकाली शोभा यात्रा, घरों पर फहराया पचरंगा जैन ध्वज
मोदी को 20 करोड़ लोगों को देना था रोजगार, उल्टे छीन ली युवाओं की नौकरियां : खड़गे