पहली बार लोकसभा चुनाव जीते 10 सांसद, फिर से जलवा बिखेरने को है बेताब

अपनी शानदार पारी का आगाज किया

पहली बार लोकसभा चुनाव जीते 10 सांसद, फिर से जलवा बिखेरने को है बेताब

जदयू के टिकट पर आठ नये चेहरों ने पहली बार लोकसभा चुनाव में अपनी किस्मत आजमायी। सभी सीट पर जदयू के उम्मीदवार ने अपनी शानदार पारी का आगाज किया। 

पटना। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में पहली बार जीत हासिल करने वाले 15 सांसदों में से 10 सांसद चुनावी रणभूमि में फिर से अपना जलवा बिखेरने को बेताब हैं। वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में विभिन्न राजनीतिक पार्टियों ने दिग्गज नेताओं के साथ नये चेहरे पर भी भरोसा जताते हुये उनपर दांव लगाया। वर्ष 2019 में पहली बार चुनाव लडऩे वालों में 15 को सांसद बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में शामिल भारतीय जनता पार्टी (भाजपा), जनता दल यूनाईटेड (जदयू) और लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) ने 14 नये चेहरों पर भरोसा जताते हुये उन्हें उम्मीदवार बनाया। जदयू के टिकट पर आठ नये चेहरों ने पहली बार लोकसभा चुनाव में अपनी किस्मत आजमायी। सभी सीट पर जदयू के उम्मीदवार ने अपनी शानदार पारी का आगाज किया। 

इनमें सीतामढ़ी से पूर्व मंत्री सुनील कुमार, झंझारपुर से रामप्रीत मंडल, कटिहार से पूर्व मंत्री दुलालचंद गोस्वामी, गोपालगंज (सु) आलोक कुमार सुमन, सीवान से दरौंधा की तत्कालीन विधायक कविता सिंह, भागलपुर से नाथनगर के तत्कालीन विधायक अजय कुमार मंडल, चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी और गया (सु) विजय कुमार मांझी जीत हासिल कर पहली बार सांसद बनने में सफल रहे। इसी तरह भाजपा के टिकट पर पटना साहिब से भाजपा के दिग्गज रवि शंकर प्रसाद, मधुबनी से पूर्व विधायक अशोक कुमार यादव और दरभंगा से गोपाल ठाकुर ने पहली बार लोकसभा चुनाव में अपना भाग्य आजमाया। भाजपा के सभी तीन प्रत्याशी ने शानदार जीत हासिल की और पहली बार सांसद बने। लोजपा के टिकट पर तत्कालीन प्रदेश अध्यक्ष पशुपति कुमार पारस, नवादा से चंदन सिंह और वैशाली से वीण देवी पहली बार लोकसभा की चुनावी रणभूमि में पहली बार अपनी किस्मत आजमायी। लोजपा के इन तीनों प्रत्याशी के सिर भी जीत का सेहरा सजा और वे सभी सांसद बनने में सफल रहे। 

इस बार के चुनाव में सीतामढ़ी संसदीय सीट से जीते सुनील कुमार, सीवान से जीती कविता सिंह और गया (सु) से जीते विजय कुमार मांझी बेटिकट कर दिये गये। वहीं पांच सीट पर झंझारपुर से रामप्रीत मंडल,कटिहार से दुलालचंद गोस्वामी, गोपालगंज (सु) से आलोक कुमार सुमन, भागलपुर से अजय कुमार मंडल और चंदेश्वर प्रसाद चंद्रवंशी इस चुनाव में भी चुनावी रणभूमि में अपना जलवा बिखरने के लिये बेताब हैं। पशुपति कुमार पारस और चंदन सिंह चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। वहीं लोजपा के टिकट पर वीणा देवी फिर से वैशाली सीट से चुनाव लड़ रही हैं। वहीं वर्ष 2019 में भाजपा के टिकट पर जीते रवि शंकर प्रसाद पटना साहिब, अशोक कुमार यादव मधुबनी और दरभंगा से गोपाल ठाकुर इस बार भी चुनावी संग्राम में जीतने के लिये बेताब है। 

 

Read More Rajiv Gandhi Death Anniversary : सोनिया, राहुल और खड़गे ने पुण्यतिथि पर किया नमन

Tags: elections

Post Comment

Comment List

Latest News

Rajasthan Weather Update : कल से लगेगा नौतपा, भट्टी जैसा तपेगा राजस्थान Rajasthan Weather Update : कल से लगेगा नौतपा, भट्टी जैसा तपेगा राजस्थान
प्रदेश में भीषण गर्मी का दौर लागातार जारी है। तापमान भी 49 डिग्री सेल्सियस के करीब पहुंच गया है। बाड़मेर,...
Kedarnath में तीर्थयात्रियों के हेलिकॉप्टर की इमरजेंसी लेंडिंग, छह यात्री थे सवार 
Britain में आम चुनाव चार जुलाई को : सुनक
मां-बाप को पहचानने से इंकार किया, तो छपवा दी शोक पत्रिका और कर दिया मृत्युभोज
जोधपुर में राष्ट्रीय स्तर के कॉलेज में पढ़ने वाले स्टूडेंट्स के लिए उड़ीसा, आंध्र प्रदेश से नशे की सप्लाई
तुष्टिकरण की राजनीति कर ममता ने गैर संवैधानिक आरक्षण दिया : सैनी
पाइप चोर गैंग का किया पर्दाफाश, तीन आरोपियों सहित माल खरीदार गिरफ्तार