कन्हैयालाल केस में झूठा प्रचार किया, एनआईए की कार्रवाई का किसी को पता नहीं : गहलोत

कन्हैयालाल केस में झूठा प्रचार किया, एनआईए की कार्रवाई का किसी को पता नहीं : गहलोत

पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बार फिर उदयपुर के कन्हैयालाल केस को उठाते हुए भाजपा पर झूठा प्रचार करने का आरोप लगाया है।

जयपुर। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने एक बार फिर उदयपुर के कन्हैयालाल केस को उठाते हुए भाजपा पर झूठा प्रचार करने का आरोप लगाया है।

गहलोत ने मीडिया से बातचीत में कहा कि पार्लियामेंट चुनाव आएँगे तो प्रधानमंत्री ही आएँगे, उनके गृह मंत्री आएँगे, सब आएँगे उसका तो हमें कुछ कहना नहीं है। पर सवाल ये है कि दो बातें हैं, एक तो जो असेंबली चुनाव में हमारी सरकार बन रही थी। इतनी शानदार थी। हर नागरिक की जुबान पर था कि सरकार बनने जा रही है। इतना झूठ बोला गया इतना झूठ बोला गया इतना झूठ बोला गया की यहां तो रेप ही रेप हो रहे है या कानून व्यवस्था स्थिति खराब है। पूरे देश के अंदर प्रचार किया कि हिन्दू को तो दिए 5 लाख और मुसलमानों के लिए 50 लाख दिए, जबकि इतना झूठ बोलना उचित नहीं था। किसी परिवार को 50 लाख का पैकेज पहली बार दिया गया, क्योंकि वो अलग स्थिति में कन्हैयालाल का मर्डर हुआ। मैं खुद गया सब काम छोड़ के वहां गया। दोनों बच्चों को नौकरी दी। इन्होंने झूठा प्रचार करके केस एनआईए को दे दिया। आज एनआईए ने केस पर क्या कार्यवाही की, किसी को नहीं पता। भाजपा के लोग झूठ बोलकर सत्ता हासिल करने में माहिर हो रहे हैं। इस चुनाव में जनता इनको जबाव देगी।

पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी की कथनी और करनी में अंतर है। ये तो झूठ बोलकर चले जाएंगे, लेकिन सच्चाई नहीं बदलेगी। विधानसभा चुनाव में भी इन्होंने कन्हैया केस सहित कानून व्यवस्था, अपराध पर जमकर झूठ बोला। अब तो प्रदेश में इनकी सरकार बन गयी। हमारे ऊपर लगाए आरोपों पर क्या करके बताया। सरकार बनने के बाद प्रदेश में अपराध और कानून व्यवस्था की स्थिति किसी से छुपी नहीं है। अब कितने रेप हो रहे हैं, कितनी डकैती हो रही हैं, इस बारे में भी बताएं। मोदी मुददों पर बात नही करके झूठ बोलकर चले जाएंगे, इससे कोई फायदा नहीं होने वाला है। जम्मू कश्मीर में चुनाव वाले बयान पर कहा कि अभी इनको वंहा चुनाव कराने से किसने रोका था। इनकी कथनी और करनी में अंतर को जनता पहचान चुकी है।

Post Comment

Comment List

Latest News

Loksabha Election, 6th Phase : 8 राज्यों की 58 सीटों पर मतदान Loksabha Election, 6th Phase : 8 राज्यों की 58 सीटों पर मतदान
छठे चरण में 58 लोकसभा सीटों के 11.13 करोड़ से अधिक मतदाता  889 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला  करेंगे।
मुस्लिमों को धर्म आधारित आरक्षण संविधान की मूल भावना के खिलाफ : भजनलाल शर्मा
पीसीसी के नए मुख्यालय का काम फिर से शुरू करने की कवायद, क्राउड फंडिंग जुटाएगी कांग्रेस
आज का राशिफल
भारत के युवाओं में बढ़ती आत्महत्या की प्रवृत्ति
लोकसभा चुनाव के छठे चरण में 338 करोड़पति उम्मीदवार, 21 फीसदी उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले 
गुरपतवंत पन्नू मामले में अमेरिकी प्रत्यर्पण के खिलाफ निखिल की याचिका खारिज