मुस्लिमों को धर्म आधारित आरक्षण संविधान की मूल भावना के खिलाफ : भजनलाल शर्मा

मुस्लिमों को धर्म आधारित आरक्षण संविधान की मूल भावना के खिलाफ : भजनलाल शर्मा

राजस्थान में पिछली सरकार के कामों की जांच हो रही है, प्रदेश में  धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं मिलने वाला

जयपुर/ लखनऊ। मुख्यमंत्री भजनलाल शर्मा ने कहा कि राजस्थान में धर्म के आधार पर किसी को भी आरक्षण नहीं मिलने वाला हैं। उन्होंने कहा कि जो संविधान में निर्मित है, उसी आधार पर आरक्षण मिल रहा है। उन्होंने कहा कि इंडी गठबंधन और तृणमूल कांग्रेस ने तुष्टिकरण की सभी पराकाष्ठाएं पार कर पिछड़े वर्ग के आरक्षण का हक मुस्लिम जातियों को देने का महापाप किया है।

सीएम उत्तरप्रदेश के लखनऊ स्थित बीजेपी कार्यालय पर प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा कि राजस्थान में पिछली सरकार के कामों की जांच हो रही है, होनी भी चाहिए। अगर किसी ने गलत काम किया है तो उसकी जांच भी होनी चाहिए। सीएम ने कहा कि पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने 118 मुस्लिम जातियों को अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल कर इन्हें असंवैधानिक रूप से आरक्षण देने का महापाप किया है। कलकत्ता हाइकोर्ट ने ऐतिहासिक निर्णय देते हुए 2010 से 2024 तक मुसलमानों को जारी सभी ओबीसी प्रमाणपत्रों को रद्द कर दिया है। उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी इस निर्णय को मानने से इन्कार कर लोकतंत्र और न्यायिक व्यवस्था की गरिमा को धूमिल करने का काम कर रही है। उनकी इस अराजकतावादी राजनीति का जवाब पश्चिम बंगाल की जनता लोकसभा चुनाव में दे रही है।

कांग्रेस-सपा के युवराज की करारी हार होगी
मुख्यमंत्री शर्मा ने कहा कि कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के युवराज राहुल गांधी एवं अखिलेश यादव 2017 में उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में गठबंधन कर मैदान में उतरे थे। जैसे ही नतीजे आए उन्होंने हथियार डाल दिए। इन लोकसभा चुनावों में भी इतिहास फिर दोहराया जाएगा और कांग्रेस के युवराज और समाजवादी प्रमुख को करारी हार मिलेगी। उन्होंने कहा कि 2014 में नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद राजनेताओं के व्यवहार में भी बड़ा बदलाव आया है। अब नेता कुर्ते के उपर जनेऊ पहनने और मंदिर जाने लग गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी ने स्वीकारा है कि कैसे उनकी दादी इंदिरा गांधी और पिता राजीव गांधी ने अपने प्रधानमंत्री के कार्यकाल में संविधान को बदलकर इसकी मूल भावना की धज्जियां उड़ायीं।  

Post Comment

Comment List

Latest News

UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द
यूजीसी द्वारा 18 जून को करवाया गया नेट का एग्जाम परीक्षा में गड़बड़ी के चलते रद्द कर दिया गया है। ...
प्राइवेट अस्पतालों के डॉक्टर चिरंजीवी योजना को बदनाम करने से बचें: गहलोत
24000 खानों को ईसी मंजूरी का मामला : 21422 खानधारकों के दस्तावेज वेलिडेटेड, जल्द जारी होगी ईसी
Silver & Gold Price चांदी दो सौ रुपए सस्ती और सोना दो सौ रुपए महंगा
युवा विरोधी भजनलाल सरकार को सड़क से लेकर सदन में घेरेंगे: पूनिया
मोदी कैबिनेट में हुए 5 बड़े फैसले, 14 खरीफ की फसलों की एमएसपी बढ़ाई
नीट में धांधली के खिलाफ 24 जून को संसद घेराव करेगी NSUI