हंगामे की भेंट चढ़ी बगरू नगर पालिका की बोर्ड बैठक, पार्षद आपस में उलझे

अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व नेता प्रतिपक्ष ने करवाया मामला शांत

हंगामे की भेंट चढ़ी बगरू नगर पालिका की बोर्ड बैठक, पार्षद आपस में उलझे

कमर्चारियों की पदोन्नति व विकास कार्यो पर हुई चर्चा

बगरू। लिंक रोड़ स्थित नगर पालिका सभागार भवन में गुरुवार प्रातः 11.30 बजे साधारण सभा की बैठक पालिकाध्यक्ष मालूराम मीणा की अध्यक्षता में आयोजित हुई। बैठक में सड़क,नाली सहित अन्य निर्माण कार्यो पर चर्चा, पालिका क्षेत्र में सौंदर्यकरण तथा चौराहो पर महापुरुषों की प्रतिमा, पेयजल की समस्या, स्ट्रीट लाइट व फेज वायरों व कर्मचारियों की पदोन्नति के लिए अनुमोदन सहित अनेक एजेण्ड़े रखे गये थे। लेकिन एजेण्डों पर चर्चा शुरू हुई थी कि नेता प्रतिपक्ष मुकेश मेहता व कांग्रेसी पार्षद नितिन भारद्वाज ने कहा कि उनके वार्डो में कई दिनों से सफाई की व्यवस्था चरमराई हुई और पालिका सफाई पर ध्यान ना देकर सौंदर्यकरण के नाम पर लाखों रुपए बर्बाद करना चाहती है, चौराहो पर महापुरुषों की प्रतिमाओं लगाने के एजेंडे पर ज्यादातर पार्षदो ने आपत्ति जताई और कुछ पार्षदों ने लगाने का प्रस्ताव सौंपे जिस पर अध्यक्ष ने कहा की जिन वार्डो में प्रस्ताव आएंगे उन में लगा दी जाएगी, लेकिन पार्षद संदीप पाटनी ने इस पर आपत्ति दर्ज करवाते हुए पहले इसकी लागत व जगहों का ड्राफ्ट तैयार करने की मांग रखी। और वही पार्षद दिनेश यादव ने कहां कि ग्रामीण क्षेत्र में कहां क्या सौंदर्यकरण किया जाएगा। इस दौरान पार्षदो ने पालिकाध्यक्ष मीणा पर मीणा मार्केट के सौंदर्यकरण की बात को लेकर तंज कस दिया जिस पर पार्षद आपस में उलझ गये, जिस से बैठक हंगामे की भेंट चढ़ गई और पार्षद आपस में उलझे पड़े, जिन्हे पालिकाध्यक्ष, उपाध्यक्ष व नेताप्रतिपक्ष मेहता ने समझाश कर मामला शांत किया।

वही पार्षद अमरचंद बागडा ने कहा कि उनके वार्ड में होने वाले विकास कार्यो की मॉनिटरिंग उनकी और से ही की जाने की बात रखी। जिसका पालिकाध्यक्ष मालूराम मीणा ने जवाब देते हुए कहा कि नियमानुसार मॉनिटरिंग का काम तकनीकी अधिकारियों की और से ही किया जाएगा, अगर किसी को काम में खामियां दिखे तो शिकायत कर सकते है। नेता प्रतिपक्ष मुकेश महेता ने कस्बे के 35 वार्डों में सफाई व्यवस्था व पेयजल समस्या सहित लाइट, फेज वायर, कैमरा लगाने की समस्याओं को लेकर पालिकाध्यक्ष को घेरा। मेहता ने कहां कि कस्बे में वार्डों में जगह-जगह कचरे के ढेर लगे रहते हैं आटोटीपर कई दिनों से बंद पड़े हैं व सालों से कैमरे चालू करवाने के लिए मांग उठती रही है, लेकिन पालिका ने अब तक कोई संज्ञान नही लिया। बुधवार को पालिका क्षेत्र से लग्जरी गाड़ी की चोरी होना एक नगरपालिका के लिए एक शर्म की बात है, अगर कैमरे होते तो चोरो की इतनी हिम्मत नही होती। वही पार्षद अभिषेक शर्मा ने 6 महिने से टेंडर होने के बाद निर्माण नही होने के कारण नाराजगी जताई। कई पार्षदो ने स्ट्रटी लाइटों लगाने की मांग उठाई, जिस पर पालिकाध्यक्ष ने नई लाइटें क्रय करने की बात कही। पार्षद ओमप्रकाश कुमावत व सोहनी देवी ने आंगनबाड़ी खुलवाने की मांग उठाई। पार्षद महेश नराणिया ने गंदे नाले को छपवाने की मांग उठाई, जिस पर पालिकाध्यक्ष ने कहां कि जेडीए को चिट्टी लिख दी जाएगी, और इस काम को सब मिलकर कराएंगे। पार्षद र्गिराज चौधरी ने कस्बे में सफाई व्यवस्था को लेकर फर्म द्वारा समय पर सफाई न करने व बताई गये कर्मचारी उपलब्ध नही कराए जाने का विरोध किया और पुनः टेंडर करने की मांग उठाई। जिस पर पालिकाध्यक्ष नियमानुसार कार्यवाही की बात कही। बैठक में पालिकाउपाध्यक्ष अजय चौहान, अधिशासी अधिकारी मोनिका सोलंकी, सहायक अभियंता भरत कुमार, कनिष्ठ अभियंता अपूर्वा शर्मा, टीए ताराचंद, पार्षद जयदेव मीणा, भवानीशंकर बोहरा, सुमन आलोरिया, श्यामा देवी नामा, रेहाना बेगम, गोविंद महरावदिया, जयराम कुमावत, निर्मला देवी, दिनेश यादव, सोनू कुमावत सहित अनेक पार्षद मौजुद रहे।


पेयजल का उठा मुद्दा
बैठक के दौरान कई पार्षदों ने नगरपालिका क्षेत्र में चरमराई हुई पेयजल समस्या का मुद्दा उठाया और प्रत्येक वार्ड में आमजन को पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए सिंगल फेज बोरिंग करवाने की मांग की जिस पर पालिकाध्यक्ष मीणा चर्चा कर पालिका की और छोटे वार्डो में 1-1 व बड़े वार्डो में 2-2 बोरिंग शीघ्र करवाने का आश्वासन दिया।

Read More दुकान का ताला तोड़कर 786 नंबर के नोट चोरी


कमेटियां बनाने की उठी मांग
नगरपालिका बोर्ड गठन को 17 माह बीत जाने के बाद भी कमेटियों के गठन नही होने पर पार्षद संदीप पाटनी, अमरचंद बागड़ा व मनोनीत पार्षद बद्रीनारायण ने कमेटियों के गठन को लेकर राज्य सरकार को प्रस्ताव भिजवाने की मांग की। जिस पर पालिकाध्यक्ष मीणा ने कहां कि 90 दिन के अंदर कमेटियां बनाने की प्रक्रिया है, लेकिन 90 दिन बीत गए है, अब विभाग द्वारा कमेटियो बनाई जाएगी, जिसके लिए जल्द ही विभाग को पत्र लिख दिया जाएगा।

Post Comment

Comment List

Latest News