पीईईओ ने पुराने जर्जर प्राथमिक स्कूल भवन में बच्चों को नहीं पढ़ाने के दिए आदेश

आंगनबाड़ी 3 केंद्र के बच्चों को शिफ्ट करने के आदेश

पीईईओ ने पुराने जर्जर प्राथमिक स्कूल भवन में बच्चों को नहीं पढ़ाने के दिए आदेश

दैनिक नवज्योति ने 25 अगस्त के अंक में आंगनवाड़ी के जर्जर भवन में मासूमों पर मौत का साया...शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। जिसको शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने गंभीरता से लिया। जर्जर प्राथमिक विद्यालय भवन में संचालित आंगवाड़ी 3 केंद्र के बच्चों को शिफ्ट करने के आदेश दिए है।

करवर। कस्बे में जिस जर्जर प्राथमिक विद्यालय भवन में आंगनबाड़ी 3 केंद्र चल रहा था। उसमें अब आंगनबाड़ी के बच्चे नहीं पढ़ा कर अन्यत्र शिफ्ट किया जाएगा। दैनिक नवज्योति ने  25 अगस्त के अंक में आंगनबाड़ी के जर्जर भवन में मासूमों पर मौत का साया...शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। जिसको शिक्षा विभाग के अधिकारियों ने गंभीरता से लिया। जर्जर प्राथमिक विद्यालय भवन में संचालित आंगनबाड़ी 3 केंद्र के बच्चों को शिफ्ट करने के आदेश दिए है। अब महात्मा गांधी स्कूल अन्यथा राजकीय उच्च माध्यमिक स्कूल में आंगनवाड़ी के बच्चों को शिफ्ट किया जाएगा। गौरतलब है कि इस आंगनबाड़ी केंद्र में जिसमें करीब दो दर्जन बच्चे आते हैं ।

 महात्मा गांधी विद्यालय के प्रधानाध्यापक योगेन्द्र कुमार ने बताया कि बिल्डिंग की आवश्यकता को देखते हुए पीईईओ करवर  ने 15 जुलाई 22 को एसडीएमसी की सहमति से पत्र के माध्यम से अस्थाई रूप से स्कूल को रिक्त भवन सौंपा था  लेकिन विद्यालय भवन पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त अवस्था में होने के कारण महात्मा गांधी विद्यालय भी इस भवन का उपयोग नहीं ले सकता क्योंकि कमरों की पट्टियां टूटी हुई है जिससे कभी भी जनहानि होने की संभावनाएं बनी हुई है। महात्मा गांधी विद्यालय ने शुक्रवार को पीईईओ करवर को पत्र लिखकर कहा कि विद्यालय ने रिक्त भवन को स्थाई रूप से विद्यालय से मांगा था, लेकिन अस्थाई रूप से मिला जिससे इस भवन का जीर्णोद्धार भी नहीं करवा सकते और बिल्डिंग पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त होने से वहां अध्ययन कार्य नहीं करवा सकते उक्त भवन में कभी भी जनहानि हो सकती है। उधर  पीईईओ ने भी पत्र के माध्यम से पुराने विद्यालय भवन में जन हानि की सम्भावना को देखते हुए आंगनबाड़ी केंद्र संख्या तीन को अविलंब आंगनबाड़ी केंद्र को महात्मा गांधी विद्यालय या उच्च माध्यमिक विद्यालय में शिफ्ट करने के निर्देश दिए।

स्कूल भवन पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त व जीर्ण  शीर्ण अवस्था में  है। इस भवन में विद्यार्थियों को अध्ययन कार्य नहीं करवा सकते इसलिए पीईईओ व प्रधानाचार्य करवर को   विद्यालय की पुरानी बिल्डिंग को वापस लौटा दिया है।
- योगेन्द्र कुमार, प्रधानाध्यापक महात्मा गांधी विद्यालय

Read More पिस्टल दिखाकर बाइक लूटने वाले आरोपी को किया गिरफ्तार

Post Comment

Comment List

Latest News