देश मे प्यार प्रेम बना रहे, ये बात मोदी को भी समझनी चाहिए : गहलोत

सर्व धर्म प्रार्थना सभा कार्यकम में बोल रहे थे गहलोत

देश मे प्यार प्रेम बना रहे, ये बात मोदी को भी समझनी चाहिए : गहलोत

गहलोत एसएमएस स्टेडियम में गांधी जयंती पर आयोजित सर्व धर्म प्रार्थना सभा कार्यकम में बोल रहे थे। इस कार्यक्रम में 5 गांधीवादियों को गांधी सदभावना सम्मान से भी नवाजा गया।

जयपुर: मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि मुझे खुशी है कि आज गांधी जयंती पर पूरी दुनिया अंतर्राष्ट्रीय अहिंसा दिवस मना रही है। इसके लिए सभी देशों ने संयुक्त राज्य संघ में प्रस्ताव पास किया था। हम चाहते हैं कि देश मे प्यार प्रेम बना रहे,ये बात पीएम नरेन्द्र मोदी को भी समझनी चाहिए। गहलोत एसएमएस स्टेडियम में गांधी जयंती पर आयोजित सर्व धर्म प्रार्थना सभा कार्यकम में बोल रहे थे। इस कार्यक्रम में 5 गांधीवादियों को गांधी सदभावना सम्मान से भी नवाजा गया। कार्यक्रम में पीसीसी चीफ गोविंद सिंह डोटासरा, शिक्षा मंत्री बीड़ी कल्ला, खाद्य मंत्री प्रतापसिंह खाचरियावास, महिला एवं बाल विकास मंत्री ममता भूपेश,सालेह मोहम्मद,राजेन्द्र यादव,पूर्व पीसीसी चीफ चंद्रभान सिंह,मुख्य सचिव उषा शर्मा सहित अनेक लोग मौजूद रहे। समारोह में मरणोपरांत 2 गांधीवादियों सहित कुल 5 को गांधी सद्भावना समान दिया गया।

गहलोत ने कहा कि महात्मा गांधी ने एक महापुरुष के रूप में सत्य और अहिंसा का संदेश दिया। उन्होंने सत्याग्रह के भाव दुनिया को समझाएं। उनके जीवन में सत्य ही ईश्वर है। आज ऐसा दौर आ गया है कि सब लोग उनको याद कर रहे हैं। गांधी की जयंती को आज पूरा विश्व अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के रूप में मना रहा है। सभी देशों ने संयुक्त राष्ट्र संघ में यह प्रस्ताव पारित किया था। हम चाहते हैं कि देश में प्यार और भाईचारा बना रहे। यह बात मोदी को भी समझनी चाहिए। आगामी भविष्य में देश का भविष्य युवाओं के कंधे पर रहेगा। हम युवाओं को ऐसे संस्कार दें कि वे मजबूत होकर सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चलें। राजस्थान पहला ऐसा राज्य है जहां शांति एवं अहिंसा निदेशालय बनाया गया है हमने शादी के उत्पादों पर भी 50 प्रतिशत छूट दी है। इस अवसर पर हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अपील करते हैं कि वे देश में हिंसा को दूर करने और प्रेम भाईचारे का संदेश सबको दे।

Post Comment

Comment List

Latest News