यहूदियों पर भी इतना जुल्म हिटलर ने नहीं किया था : आजम

आजम ने कहा- जेल फिर से मेरा इंतजार कर रही है

यहूदियों पर भी इतना जुल्म हिटलर ने नहीं किया था : आजम

सपा प्रत्याशी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए आजम ने कहा कि क्या कोई व्यक्ति या सरकार इस कदर इतना नीचे गिर सकती है, कि वह लोगों पर अत्याचार करने लगे?

रामपुर। समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री मोहम्मद आजम खान ने किसी पार्टी विशेष का नाम लिए बिना कहा है, कि जिस तरह से जुल्म ढ़ाए जा रहे हैं, उस तरह से तो हिटलर ने भी यहूदियों के साथ ऐसा जुल्म नहीं किया था। सपा नेता ने कहा कि वह नहीं जानते थे, कि जनता पर अत्याचार करना सरकारों का काम है, और अगर उन्हें यह पता होता तो वह अपने 50 साल के जीवन में कई और तारीख लिख सकते थे। रामपुर विधानसभा सीट के उपचुनाव में सपा प्रत्याशी के समर्थन में जनसभा को संबोधित करते हुए आजम ने कहा कि क्या कोई व्यक्ति या सरकार इस कदर इतना नीचे गिर सकती है, कि वह लोगों पर अत्याचार करने लगे? जेल फिर से मेरा इंतजार कर रही है, जहां मेरे खिलाफ सबसे ज्यादा अत्याचार होते हैं। ऐसे अत्याचार तो हिटलर ने भी यहूदियों के खिलाफ नहीं किए थे।

सपा नेता ने कहा कि वह एक भी मामले में खुद को बेगुनाह साबित नहीं कर पाए। कभी अपने करीबी माने जाने वाले और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल होने वाले नेताओं पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा, कि पार्टी को अमीर लोग छोड़ कर चले गए और बस वफादार लोग ही पार्टी में रह गए हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि गोहत्या के 50 मामले वाले लोग भाजपा का मंच साझा कर रहे हैं। आजम ने कहा कि मुझे लगभग हर दिन अदालत में पेश होना पड़ता है, और जो आरोप लगाए है उसमें हर धारा में उम्रकैद की सजा है। ऐसी सजा के लिए कई जीवन चाहिए। मेरा बेटा वकीलों से सलाह ले रहा है, कि इन सजाओं से कैसे बचा जाए। हम अपनी बेगुनाही साबित नहीं कर सके।

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News

जगजीत सिंह के जन्म दिवस पर 8 फरवरी को शाम-ए-गजल कार्यक्रम जगजीत सिंह के जन्म दिवस पर 8 फरवरी को शाम-ए-गजल कार्यक्रम
सचिव शिव जालान ने बताया कि इसमें अनेक कलाकार गीतों, गजलें और नज्मों से स्व. जगजीत सिंह को स्वरांजलि अर्पित...
सतीश पूनियां ने सीएम को लिखा पत्र, आमेर विस क्षेत्र की मांगों को बजट में शामिल करने का किया आग्रह
केरल का इंटरनेशनल थियेटर फेस्टिवल 5 फरवरी से होगा शुरू
मोबाइल फोन के बेतहाशा इस्तेमाल से बढ़ा विजन सिंड्रोम का खतरा
तालिबान प्रशासन व्याख्याता मशाल को तत्काल रिहा करें: संयुक्त राष्ट्र
अडानी सीमेंट के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग
खान सुरक्षा अभियान में निदेशक खान का जोधपुर दौरा