राजनीतिक नियुक्ति पाने वाले विधायकों को नहीं मिलेगा मंत्री का दर्जा

राजनीतिक नियुक्ति पाने वाले विधायकों को नहीं मिलेगा मंत्री का दर्जा

मुख्यमंत्री ने ली आयोग, बोर्ड, निगमों के नवनियुक्त अध्यक्ष एवं उपाध्यक्षों की बैठक

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास पर आयोग, बोर्ड, निगमों के नवनियुक्त अध्यक्ष एवं उपाध्यक्षों की बैठक ली और सभी को बधाई दी।  इस बैठक में स्पष्ट किया गया कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले के चलते विधायक लाभ के पद पर नहीं रह सकते, ऐसे में सिर्फ बोर्ड, निगम व आयोग के प्रमुख की जिम्मेदारी मिलेगी, किसी तरह की सुविधाएं नहीं दी जा सकेंगी। केवल नियुक्ति पाने वाले गैर विधायकों को ही सुविधा और दर्जा मिल सकेगा। बैठक में मुख्यमंत्री ने संबोधित करते हुए कहा कि आपकी नियुक्ति सभी की सहमति से हुई है। सभी वर्गों को ध्यान में रखकर तय निर्णय लिया गया है। अब फिर से सरकार बनाने के उद्देश्य से जन हित का काम करें। बैठक में कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविन्द सिंह डोटासरा ने भी संबोधित किया और पार्टी आलाकमान के निर्देशों की पालना करने के लिए अपने इस्तीफे का किस्सा सुनाते हुए कहा कि मैं मुख्यमंत्री के साथ जिलों के दौरे पर था, तभी शिक्षा मंत्री पद से इस्तीफे देने का मैसेज आया, मैंने वहीं से फोन करके पीए से इस्तीफा टाइप करवाया और जयपुर पहुंचते ही अपना इस्तीफा भेज दिया और एयरपोर्ट से आवास तक अपनी गाड़ी से ही गया।

Post Comment

Comment List

Latest News

महाराष्ट्र के मंत्रियों ने कर्नाटक में प्रवेश की कोशिश की, तो होगी कार्रवाई : सीएम बोम्मई महाराष्ट्र के मंत्रियों ने कर्नाटक में प्रवेश की कोशिश की, तो होगी कार्रवाई : सीएम बोम्मई
बोम्मई ने कहा कि अगर महाराष्ट्र के मंत्री राज्य में प्रवेश करने का प्रयास करते हैं, तो संबंधित अधिकारियों को...
रूस में ईंधन टैंकर में आग लगने से 3 लोगों की मौत
बर्ड फ्लू का प्रकोपः 3 लाख से ज्यादा मुर्गियां मारेगा जापान
अंडर-19 महिला विश्व कप में शेफाली करेंगी भारत की कप्तानी
राहुल की केन्द्र सरकार को समय रहते संभल जाने की हुंकारः गहलोत
कृषि पर्यवेक्षक, ग्राम विकास अधिकारी और पटवारी के पद खाली पड़े, जनता भटक रही
ओवरलोड वाहनों के कारण जर्जर हुईं संपर्क सड़कें