जलदाय विभाग में अतिरिक्त मुख्य अभियंताओं के तबादले

तीन अभियंता को अतिरिक्त चार्ज भी दिया गया

जलदाय विभाग में अतिरिक्त मुख्य अभियंताओं के तबादले

जलदाय विभाग ने एक आदेश जारी कर विभाग में कार्यरत नौ अतिरिक्त मुख्य अभियंताओं के तबादले किए हैं।

जयपुर। जलदाय विभाग में काफी लंबे समय से मुख्य पदों पर जमे अतिरिक्त मुख्य अभियंता को दूसरे स्थान पर भेजा गया है, जबकि पूर्ववर्ती सरकार में मुख्य जगहों पर जमे एसीई को जयपुर से बाहर लगाया गया है। 

 विभाग के शासन सचिव समित शर्मा की ओर से इस संबंध में आदेश जारी किए गए है। आदेश के अनुसार एसीई जुगल किशोर करवा को अतिरिक्त मुख्य अभियंता, क्षेत्र प्रथम, जोधपुर, अमिताभ शर्मा को अतिरिक्त मुख्य अभियंता, क्षेत्र द्वितीय, जयपुर, महेश जागिड को अतिरिक्त मुख्य अभियंता, परियोजना क्षेत्र भरतपुर, अरूण श्रीवास्तव को अतिरिक्त मुख्य अभियंता, (निदेशक, ई.एस.टी.आई.) जयपुर, शुभांषु दीक्षित को अतिरिक्त मुख्य अभियंता क्षेत्र कोटा, हुकम चन्द को अतिरिक्त मुख्य अभियंता, क्षेत्र प्रथम जयपुर, मोहन लाल सैनी को अतिरिक्त मुख्य अभियंता, क्षेत्र उदयपुर, आदित्य शर्मा को अतिरिक्त मुख्य अभियंता परियोजना उदयपुर, जगत तिवारी  को अतिरिक्त मुख्य अभियंता को  (निदेशक, ई.एस.टी.आई) जयपुर लगाया गया है। इसके साथ ही  राजसिंह चौधरी, अतिरिक्त मुख्य अभियंता कार्यालय मुख्य अभियंता (विपरियोजना), जयपुर द्वारा अतिरिक्त मुख्य अभियंता, ड्रिलिंग क्षेत्र, जयपुर के रिक्त पद का, श्री हुकमचन्द अतिरिक्त मुख्य अभियंता (सचिव, आर डब्ल्यू एस. एस. एम.बी), जयपुर तथा श्री जुगलकिशोर करवा अतिरिक्त मुख्य अभियंता, क्षेत्र द्वितीय, जोधपुर के रिक्त का अतिरिक्त कार्यभार अपने पद के साथ-साथ अग्रिम आदेशों तक सम्पादित करेंगे।

Post Comment

Comment List

Latest News

छत्तीसगढ़ कोल ब्लॉक पर दोनों सीएम के बयानों से विरोधाभास: गहलोत छत्तीसगढ़ कोल ब्लॉक पर दोनों सीएम के बयानों से विरोधाभास: गहलोत
इस मुद्दे पर गुमराह कर रहे हैं या दोनों मुख्यमंत्री मिलकर अपने-अपने राजनीतिक हितों के अनुरूप जनता को गुमराह कर...
RPF ने पिछले 7 वर्षों में 'ऑपरेशन नन्हे फरिश्ते' के तहत 84,119 बच्चों को बचाया
सुस्त निवेश से 10 वर्ष में घाटी आर्थिक विकास की रफ्तार : कांग्रेस
आतंकी हमलों की रोकथाम के लिए केंद्र करे गम्भीरता से प्रयास: गहलोत
बड़ी बड़ी बातें नहीं कर केन्द्र आतंकियों के खिलाफ करें सख्त कार्यवाही: डोटासरा
जयपुर संभाग में हुआ 9 लाख 92 हजार से ज्यादा वृक्षारोपण
औषधि के उच्च मानक तय करना जरूरी, विश्व स्तरीय विनियामक ढांचे की आवश्यकता है: नड्डा