मानसून से पूर्व सभी नालों को करना होगा साफ : सौम्या

मरम्मत के साथ ही साफ करने का मामला विवादों में रहता है

मानसून से पूर्व सभी नालों को करना होगा साफ : सौम्या

गत वर्ष नालों की समय पर सफाई नहीं होने से निगम ग्रेटर प्रशासन को जिला कलक्टर की फटकार का भी सामना करना पड़ा था।    

जयपुर। मानसून पूर्व शहर के क्षतिग्रस्त नालों की मरम्मत के साथ ही साफ करने का मामला विवादों में रहता है। नगर निगम जयपुर ग्रेटर महापौर डॉ. सौम्या गुर्जर ने कहा कि मानसून पूर्व सभी क्षतिग्रस्त नालों की मरम्मत के साथ ही छोटे-बड़े सभी नालों की सफाई होनी चाहिए। इस पर ग्रेटर आयुक्त रूकमणि रियाड़ ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि आगामी लोकसभा चुनावों की आचार संहिता से पूर्व सभी आवाश्यक टेंडर प्रक्रिया पूरी करने के साथ ही कार्यादेश जारी कर दिए जाएं।निगम ग्रेटर मुख्यालय में विकास कार्यों की समीक्षा के लिए बुधवार को समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए महापौर ने कहा कि शहर की सफाई के साथ ही नालों की समय पर सफाई एवं कचरे का निस्तारण होना चाहिए। महापौर एवं आयुक्त ने सभी इंजीनीयरों को निर्देश दिए कि अगर किसी अधिकारी ने आगे आचार संहिता का बहाना लगाकर काम नहीं करवाया तो वह नोटिस और कार्रवाई के लिए तैयार रहे। अधिकारी फील्ड में पैदल रहकर रिपोर्ट तैयार करें। बाद में वह स्वयं भी निरीक्षण करेंगी। गत वर्ष नालों की समय पर सफाई नहीं होने से निगम ग्रेटर प्रशासन को जिला कलक्टर की फटकार का भी सामना करना पड़ा था।    

पहले और बाद में होगी वीडियोग्राफी

 रियाड़ ने इंजीनीयरों को निर्देश दिए कि काम शुरू करवाने से पहले सभी नालों की वीडियो और फोटोग्राफी करवाए, जिससे सफाई होने के बाद पता चल सके कि कहां कितना काम हुआ है। वहीं उन्होंने सभी नालों की सफाई का काम पूरा होने के बाद भुगतान से पहले वापस वीडियोग्राफी करवाई जाए। लापरवाहों पर कार्रवाई के साथ ही अच्छा कार्य करने वाले अधिकारी-कर्मचारियों को सम्मानित भी किया जाएगा।

Tags: drains

Post Comment

Comment List

Latest News