शिक्षा में नवाचार: अब गुरुजी स्कूल से नहीं हो पाएंगे गोल

अब शाला दर्पण पर भी उपलब्ध होगी शिक्षकों व कर्मचारियों की जानकारी

शिक्षा में नवाचार: अब गुरुजी स्कूल से नहीं हो पाएंगे गोल

लिस्ट समय पर अपडेट रहने से अभिभावकों को भी विद्यालय के बारे में सही जानकारी मिलेगी।

कोटा। सरकारी विद्यालयों में शिक्षकों के स्कूल से गायब होने की शिकायतों के बाद निदेशालय ने एक नवाचार शुरू किया है। अब संस्था प्रधानों को  सभी शिक्षकों व कर्मचारियों की जानकारी शाला दर्पण और विद्यालय परिसर में सार्वजनिक रुप से प्रदर्शित करनी होगी, जिससे अभिभावकों को विद्यालय के समस्त कर्मचारियों व शिक्षकों की जानकारी उपलब्ध होगी। बीकानेर शिक्षा विभाग ने स्कूल एट ए ग्लांस नवाचार करते हुए शनिवार को सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देशित किया कि अब निदेशालय से जुड़े सभी सरकारी विद्यालयों में कार्यरत सभी शिक्षकों व कर्मचारियों की जानकारी समय समय पर शाला दर्पण पर आॅनलाइन करने के साथ ही नोटिस बोर्ड पर भी चस्पा करनी होगी ताकी विद्यार्थियों के अभिभावक विद्यालय के बारे में जागरुक रहें।

हर समय होगी जानकारी अपडेट
जिला शिक्षा अधिकारी कृष्ण कुमार शर्मा ने बताया कि निदेशालय की ओर से जारी निर्देश में संस्था प्रधानों को अपने विद्यालयों में कार्यरत सभी कर्मचारियों की जानकारी समय समय पर बिना किसी त्रुटि के अपडेट करने के लिए कहा गया है। इस नवाचार के तहत आ स्कूल में कार्यरत शिक्षक और कर्मचारियों के सेवानिवृत होने या स्थानांतरण होने की स्थिति में तुरंत अपडेट करना होगा, ताकी विद्यार्थियों के अलावा अभिभावक भी शिक्षकों व कर्मचारियों के बारे में जानकारी रख सकें। लिस्ट समय पर अपडेट रहने से अभिभावकों को भी विद्यालय के बारे में सही जानकारी मिलेगी। 

अभिभावकों व कर्मचारियों के बीच सामंजस्य बनाना लक्ष्य
जिला शिक्षा अधिकारी कृष्ण कुमार शर्मा ने बताया कि आमतौर पर अभिभावकों को सरकारी स्कूल में कार्यरत शिक्षकों और कर्मचारियों की पूरी तरह से जानकारी नहीं होती है। ऐसे में कई बार संवाद की स्थिति नहीं बन पाती है, लेकिन माध्यमिक शिक्षा निदेशालय के इस नवाचार के बाद अब घर बैठे ही पोर्टल के माध्यम से अभिभावकों को पूरी जानकारी मिल सकेगी। जिससे अभिभावक शिक्षकों व कर्मचारियों की जानकारी होने से विद्यार्थियों से संबंधित सुझाव व शिकायत दे सकेंगे।

बिना लॉग-इन किए भी मिलेगी जानकारी
निदेशालय की ओर से जारी निर्देश में कहा गया है कि अब संस्था प्रधानों को विद्यालय के सभी शिक्षकों व कर्मचारियों की जानकारी शाला दर्पण पोर्टल पर बिाना यूजर आई बनाए या लॉग-इन किए देख पाएंगे। निदेशालय की ओर से पूर्व में भी सभी संस्था प्रधानों को कार्यरत शिक्षकों की जानकारी सार्वजनिक स्थान पर चस्पा करने के निर्देश दिए थे। इसी क्रम में नवाचार को आगे बढ़ाते हुए निदेशालय ने अब शिक्षकों के साथ साथ कर्मचारियों की जानकारी भी सार्वजनिक स्थान पर फोटो और पद के साथ चस्पा करने के अलावा शाला दर्पण पोर्टल पर अपडेट करने के निर्देश दिए हैं। जिसे शाला दर्पण पोर्टल पर अभिभावक बिना यूजर आईडी या लॉग-इन किए ही आसानी से देख सकेंगे। जहां अभिभावक जिला या स्थानीय पिन कोड के माध्यम से स्कूल की जानकारी हासिल कर सकेंगे।

Read More मुंबई इंडियंस की बस जाम में फंसी, फैन ने मदद कर निकलवाया

Post Comment

Comment List

Latest News

आरक्षण चोरी का खेल बंद करने के लिए 400 पार की है आवश्यकता : मोदी आरक्षण चोरी का खेल बंद करने के लिए 400 पार की है आवश्यकता : मोदी
कांग्रेस ने वर्षों पहले ही धर्म के आधार पर आरक्षण का खतरनाक संकल्प लिया था। वो साल दर साल अपने...
लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण में सुरक्षा की पुख्ता व्यवस्था, पुलिस के 85 हजार अधिकारी-जवान सम्भालेंगे जिम्मा : साहू 
इंडिया समूह का घोषणा पत्र देखकर हताश हो रही है भाजपा : महबूबा
लोगों को डराने के लिए खरीदे हथियार, 2 बदमाश गिरफ्तार
चांदी 1100 रुपए और शुद्ध सोना 800 रुपए महंगा
बेहतर कल के लिए सुदृढ ढांचे में निवेश की है जरुरत : मोदी
फोन टेपिंग विवाद में लोकेश शर्मा ने किया खुलासा, मुझे अशोक गहलोत ने उपलब्ध कराई थी रिकॉर्डिंग