पहला चरण पूरा : दूसरे की बारी, बारह सीटों पर 58% वोटिंग

सभी सीटों पर शांतिपूर्ण मतदान होने का दावा किया है

पहला चरण पूरा : दूसरे की बारी, बारह सीटों पर 58% वोटिंग

करीब एक दर्जन मतदान केन्द्रों पर फर्जी मतदान की शिकायतों को लेकर मामूली तनाव की घटनाएं भी हुई। राज्य निर्वाचन विभाग ने सभी सीटों पर शांतिपूर्ण मतदान होने का दावा किया है। 

जयपुर। लोकसभा के लिए प्रदेश में पहले चरण की 12 सीटों पर करीब 57.87 फीसदी मतदान हुआ।  इनमें 00.61 प्रतिशत पोस्टल वोट भी शमिल है। मतदान के लिए करीब एक लाख 10 हजार कर्मचारी तैनात किए गए थे। जिन्होंने 24 हजार 370 बूथों पर मतदान कार्य संपन्न कराया। इसमें पांच हजार 729 शहरी और 17 हजार 922 ग्रामीण सहित 719 सहायक मतदान केंद्र शामिल हैं। छिटपुट घटनाओं को छोड़ मतदान शांतिपूर्ण संपन्न हुआ। पांच साल पहले 2019 में हुए लोकसभा चुनाव के मुकाबले इस बार लगभग साढ़े छह फीसदी कम वोट डले हैं। पिछली बार 2019 में इन लोकसभा क्षेत्रों में 63.71 प्रतिशत मतदान हुआ था। इस बार कुछ स्थानों पर ईवीएम में खराबी से देरी से मतदान शुरू होने की सूचना है। करीब एक दर्जन मतदान केन्द्रों पर फर्जी मतदान की शिकायतों को लेकर मामूली तनाव की घटनाएं भी हुई। राज्य निर्वाचन विभाग ने सभी सीटों पर शांतिपूर्ण मतदान होने का दावा किया है। 

यहां पहुंची खबरों के अनुसार नागौर लोकसभा क्षेत्र में कुचेरा गांव में सुबह भाजपा प्रत्याशी ज्योति मिर्धा और रालोपा प्रत्याशी हनुमान बेनीवाल के समर्थक भिड़ गए। आपस में हुई मारपीट में पालिका अध्यक्ष तेजपाल मिर्ध के सिर में चोट लग गई। इसी प्रकार चूरू संसदीय क्षेत्र में सादुलपुर के रामपुर रेणु गांव में फर्जी मतदान को लेकर हुई मारपीट में अनूप जाखड़ नाम के एजेंट के सिर में चोट लग गई। सीकर लोकसभा क्षेत्र में फतेहपुर शेखावाटी के ताजपुर गांव में भी फर्जी मतदान को लेकर दो गुट भिड़ गए। इसमें राजेन्द्र ऊर्फ गांधी नाम का व्यक्ति घायल हो गया। 
विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार पहले चरण में 12 संसदीय क्षेत्रों श्रीगंगानगर, बीकानेर, चूरू, झुंझुनूं, सीकर, जयपुर ग्रामीण, जयपुर, अलवर, भरतपुर, करौली-धौलपुर, दौसा और नागौर में कड़ी सुरक्षा के बीच सुबह सात बजे मतदान शुरू हुआ, जो शाम को छह बजे तक चला। कई मतदान केन्द्रों पर शाम छह बजे बाद भी लाइनें लगी रही। यहां पहुंची खबरों के अनुसार मतदान के पहले दो घंटों में लगभग 10.67 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। इन पहले दो घण्टों में गंगानगर में 14.14 प्रतिशत, बीकानेर में 10.00, चूरू में 11.50, झुंझुनूं में 8.83, सीकर में 9.69, जयपुर ग्रामीण में 10.49, जयपुर में 11.10, अलवर में 12.03, भरतपुर में 9.85, करौली-धौलपुर में 9.71, दौसा में 9.70 और नागौर में 10.34 फीसदी मतदाताओं ने अपने मतों का प्रयोग किया। 

कुछ ईवीएम में आई खराबी
 इस दौरान कई मतदान केन्द्रों पर ईवीएम मशीन खराबी की सूचनाएं आई, लेकिन मौके पर उन्हें दुरुस्त कर दिया गया। इसके बाद पूर्वान्ह ग्यारह बजे तक करीब 22.59 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ। इसके बाद दोपहर एक बजे तक लगभग 33.73 प्रतिशत मतदान हुआ। दोपहर एक बजे के बाद दो घण्टे में साढ़े आठ फीसदी मतदाताओं ने अपने मतों का प्रयोग किया। यानि कि अपरान्ह तीन बजे तक करीब 41.51 प्रतिशत मतदान हुआ। शाम पांच बजे तक मतदान का आंकड़ा साढ़े 50.27 प्रतिशत तक पहुंचा। मतदान के अंतिम समय शाम छह बजे तक लगभग 57.87 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मतों का प्रयोग किया। शाम छह बजे तक संसदीय क्षेत्र अलवर में 59.79 प्रतिशत, भरतपुर में 52.69, बीकानेर में 53.96, चूरू में 62.98, दौसा में 55.21, गंगानगर में 65.64, जयपुर में 62.87, जयपुर ग्रामीण में 56.58, झुंझुनूं में 51.62, करौली-धौलपुर में 49.29, नागौर में 56.89 और लोकसभा क्षेत्र सीकर में 57.28 फीसदी मतदान होने के समाचार है। 

 

Read More Loksabha Election के बाद शहरों को मिलेगी सौगात, 3000 करोड़ की परियोजनाओं का खाका  तैयार

Tags: election

Post Comment

Comment List

Latest News

कंप्यूटर पार्ट्स फैक्ट्री में लगी भीषण आग कंप्यूटर पार्ट्स फैक्ट्री में लगी भीषण आग
असिस्टेंट फायर ऑफिसर भंवरलाल ने बताया कि आग रात 8 बजे रोड नंबर 12 स्थित जी इनवायरो रिसाइकलिंग इंडस्ट्री प्रा...
नौतपा से पहले ही तपा प्रदेश, अगले तीन-चार दिन तक भीषण गर्मी का रेड अलर्ट
कार्मिकों के लंबे अवकाश निरस्त, मुख्यालय पर रहेंगे फील्ड अधिकारी
टीबी दवाओं की आपूर्ति स्थानीय स्तर पर खरीद कर उपलब्ध करवाई जा रही दवा, केंद्र से आपूर्ति बाधित
जहां पर समर्थन मूल्य पर सरसों चना की खरीद रहेगी शून्य, वे खरीद केंद्र अगले सीजन में होंगे बंद
फर्जी चेकिंग निरीक्षक बन कर रहा था बस चैक, पकड़ा
डंपर की टक्कर से बाइक सवार की मौत, एक घायल