भारतीय प्रजातंत्र दुनिया के लिए आदर्श : अमेरिका

भारत जैसा जीवंत लोकतंत्र बहुत कम है

भारतीय प्रजातंत्र दुनिया के लिए आदर्श : अमेरिका

राजनीतिक दलों का प्रतिनिधित्व करने वाले हजारों उम्मीदवारों में से 545 सांसदों का चुनाव करने के लिए 10 लाख मतदान केंद्रों पर लोग मताधिकार का इस्तेमाल कर रहे हैं।

नई दिल्ली। भारत को मानवाधिकारों, धार्मिक स्वतंत्रता और उदारवादी प्रजातंत्र के नाम पर उपदेश की घुट्टी पिलाने वाले अमेरिका के सुर एकदम बदल गए हैं। उसने भारतीय लोकतंत्र और चुनाव प्रक्रिया की भूरि भूरि प्रशंसा की है। व्हाइट हाउस ने मताधिकार का इस्तेमाल करने के लिए भारत के लोगों की प्रशंसा करते हुए कहा कि दुनिया में भारत जैसा जीवंत लोकतंत्र बहुत कम है। ह्वाइट हाउस के राष्ट्रीय सुरक्षा संचार सलाहकार जॉन किर्बी ने कहा कि विश्व में ऐसे देश अधिक नहीं हैं, जहां भारत जैसा जीवंत लोकतंत्र हो। हम मताधिकार का इस्तेमाल करने और सरकार चुनने के लिए भारत के लोगों की प्रशंसा करते हैं। हम उन्हें शुभकामनाएं देते हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय प्रजातंत्र अन्य देशों के लिए आदर्श है। किर्बी से भारत में जारी आम चुनावों को लेकर सवाल किया गया था, जिसमें 2,660 पंजीकृत राजनीतिक दलों का प्रतिनिधित्व करने वाले हजारों उम्मीदवारों में से 545 सांसदों का चुनाव करने के लिए 10 लाख मतदान केंद्रों पर लोग मताधिकार का इस्तेमाल कर रहे हैं।

समझा जाता है कि गत दिनों चीन और रूस के बीच व्यापक सैन्य सम्बंधों को दृष्टिगत अमेरिका ने यह बयान दिया है। वस्तुत: दो तानशाही पद्धति की शासन प्रणाली के परमाणु शक्ति सम्पन्न देशों की यह मित्रता विस्व के लिए खतरनाक है। उन्होंने एक अन्य सवाल के जवाब में कहा कि अमेरिका के राष्ट्रपति के प्रशासन के विशेष रूप से पिछले तीन वर्ष के दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल में भारत और अमेरिका के संबंध मजबूत हुए हैं। उन्होंने कहा कि भारत के साथ हमारे संबंध बेहद करीबी हैं, जो लगातार और घनिष्ठ हो रहे हैं। किर्बी ने कहा कि यह बहुत जीवंत, सक्रिय भागीदारी है और हम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व के आभारी हैं। 

 

Post Comment

Comment List

Latest News

जेडीए ने अवैध निर्माण किए ध्वस्त, 200 से अधिक अवैध निर्माणों को तोड़ा जाएगा जेडीए ने अवैध निर्माण किए ध्वस्त, 200 से अधिक अवैध निर्माणों को तोड़ा जाएगा
शहर में अवैध निर्माण एवं अतिक्रमणों को लेकर की जा रही कार्रवाई के दौरान जयपुर विकास प्राधिकरण के प्रवर्तन दस्ते...
सदन में अब नहीं चल पाएगी भाजपा की मनमानी: कांग्रेस
"स्वस्थ और तंदुरुस्त राजस्थान": इस बार के बजट में चिकित्सा और स्वास्थ्य पर होगा सर्वाधिक फोकस
डंपर चालक ने ली बाइक सवार की जान
जनता के सामने एक्सपोज हो चुकी मोदी की गारंटी: गहलोत
मोदी 30 जून को करेंगे मन की बात, देशवासियों से मांगे सुझाव
High Court के निर्देश पर अवैध खनन के खिलाफ जांच अभियान