पानी की तलाश में गांव में पहुंचा मगरमच्छ

पानी की तलाश में गांव की ओर आने लगे है

पानी की तलाश में गांव में पहुंचा मगरमच्छ

तेज गर्मी पड़ने के साथ ही छोटे-मोटे तालाब एवं नदी-एनीकटों में पानी की कमी होने लगी है और अधिकतर एनीकट और तालाब सूखने की कगार पर है।

बस्सी। तेज गर्मी पड़ने के साथ ही छोटे-मोटे तालाब एवं नदी-एनीकटों में पानी की कमी होने लगी है और अधिकतर एनीकट और तालाब सूखने की कगार पर है। इसके चलते ग्रामीण क्षेत्रों में जानवर पानी की तलाश में गांव की ओर आने लगे है। इन दिनों पालका गांव में मगरमच्छ आने का सिलसिला जारी है, क्योंकि यहां बस्सी बांध नजदीक होने से मगरमच्छ बार-बार गांवों में पहुंच रहे है।

पालका गांव में 7.5 फीट का मगरमच्छ घुस गया और पानी की तलाश में इधर-उधर घूम रहा था। उसी दौरान गांव की सुन्दर बाई सुथार की नजर मगरमच्छ पर पड़ गई। मगरमच्छ तालाब के किनारे छोटे जानवर पर हमला करने ही वाला था कि बीच रास्ते में बने कुएं में जा गिरा। रेस्क्यू कर मगरमच्छ को सुरक्षित बस्सी बांध में छोड़ा गया।

Post Comment

Comment List

Latest News

चीन में फिर कोरोना का कहर, शीआन शहर में लगा एक सप्ताह का लॉकडाउन चीन में फिर कोरोना का कहर, शीआन शहर में लगा एक सप्ताह का लॉकडाउन
बीजिंग। चीन के शीआन शहर में कोरोना वायरस महामारी के ओमिक्रोन वेरिएंट के नए स्वरूप के तेजी से फैलने के...
अब वार्ड वार लगेंगे प्रशासन शहरों के संग अभियान शिविर
रिश्वतखोर पटवारी को 3 साल की सजा , 50000 रुपए जुमार्ना
कन्हैयालाल हत्याकांड सरकार की तुष्टीकरण की नीति का है परिणाम : पूनिया
पर्यटन को ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से करे प्रचारित : सिंह
ईआरसीपी पर गुमराह कर रहे हैं मुख्यमंत्री, सब चाहते हैं योजना को मंजूरी मिले :राठौड़
रिफाइनरी की तरह ईआरसीपी पर भी जनता की आवाज सुननी पड़ेगी, हम योजना बंद नहीं करेंगे: गहलोत