सिसोदिया को भी झूठे मामले में जेल भेजने की साजिश रच रही है केंद्र सरकार : केजरीवाल

मुझे बहुत ही विश्वसनीय सूत्रों से यह पता चला

सिसोदिया को भी झूठे मामले में जेल भेजने की साजिश रच रही है केंद्र सरकार : केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के बाद अब उप मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया को भी झूठे मामले में फंसाकर जेल भेजने की केंद्र सरकार साजिश रच रही है।

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के बाद अब उप मुख्यमंत्री एवं शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया को भी झूठे मामले में फंसाकर जेल भेजने की केंद्र सरकार साजिश रच रही है। केजरीवाल ने कहा कि मैंने कुछ महीने पहले ही बता दिया था कि केंद्र सरकार जैन को एक फर्जी मामले में गिरफ्तार करने वाली है। मुझे बहुत ही विश्वसनीय सूत्रों से यह पता चला था। उन्हीं सूत्रों से सूचना मिली है कि अगले कुछ दिनों में केंद्र सरकार सिसोदिया को भी गिरफ्तार करेगी। पता चला है कि केंद्र सरकार ने सभी जांच एजेंसियों को सिसोदिया के खिलाफ कोई न कोई फर्जी मामला तैयार करने के लिए कहा गया है। जैसे उन्होंने जैन के खिलाफ फर्जी मामला तैयार किया है, वैसे ही ये लोग सिसोदिया के खिलाफ भी फर्जी मामला बना रहे हैं।

शिक्षा मंत्री भारत की शिक्षा क्रांति के जनक हैं। आजाद भारत के इतिहास के शायद वे सबसे बेहतरीन शिक्षा मंत्री हैं। सरकारी स्कूलों में पहले गरीबों के बच्चों को थर्ड क्लास की शिक्षा मिलती थी। दिल्ली के सरकारी स्कूलों में 18 लाख बच्चे पढ़ते हैं। इन सभी बच्चों का भविष्य अंधकार में था। सिसोदिया ने उन बच्चों को अच्छे और सुनहरे भविष्य की उम्मीद दी है। उन बच्चों के माता-पिता की आंखों में चमक दी है।  मुख्यमंत्री ने दिल्ली सरकार के स्कूलों में पढऩे वाले उन 18 लाख बच्चों से पूछा कि बच्चों क्या आपके मनीष सिसोदिया भ्रष्ट हैं। मैं उनके माता-पिता से भी पूछना चाहता हूं कि ये लोग आपके शिक्षा मंत्री को भ्रष्ट कह रहे हैं, आपको क्या लगता है सिसोदिया ने न केवल दिल्ली, बल्कि पूरे देश के गरीब बच्चों को उम्मीद है कि उनके स्कूल भी बदल सकते हैं। दिल्ली की शिक्षा क्रांति की धमक केवल भारत में ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया में गूंज रही है। पूरी दुनिया के देशों से दिल्ली सरकार के पास निमंत्रण आ रहे हैं कि हमें भी हैप्पीनेस क्लास और आत्रप्रेन्योरशिप सिखाओ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे व्यक्ति को जेल में डालना चाहिए या उन्हें पूरे देश के स्कूलों को ठीक करने की जिम्मेदारी देनी चाहिए। मुझे ऐसा लगता है कि जैन और सिसोदिया को फर्जी मामले में जेल में डाल कर ये लोग दिल्ली में शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में जो अच्छे काम हो रहे हैं, उन्हें रोकना चाहते हैं, लेकिन चिंता मत कीजिए, मैं कभी ऐसा नहीं होने दूंगा, सभी अच्छे काम चलते रहेंगे। मैं हमेशा कहता हूं कि मुझे राजनीति करनी नहीं आती है। सिसोदिया को और जैन को जेल में डालने के डालने के पीछे इन लोगों की क्या राजनीति है। मुझे नहीं पता, मुझे समझ में नहीं आता। मुझे केवल यह पता है कि उपमुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री जैसे लोगों को जेल में डालने से केवल देश का नुकसान है। अगर सिसोदिया और जैन भ्रष्ट हैं, तो फिर ईमानदार कौन है। केजरीवाल ने कहा कि मेरी प्रधानमंत्री से हाथ जोड़कर विनती है कि यह एक-एक करके जेल में डालने की बजाय आप आम आदमी पार्टी के सभी मंत्रियों और सभी विधायकों को एक साथ जेल में डाल दीजिए। सारी जांच एजेंसी को बोल दीजिए कि एक साथ सारी जांच कर ले। आप एक-एक मंत्री को गिरफ्तार करते हो, इससे जनता के काम में बाधा होती है। जैन दिल्ली में कई और मोहल्ला क्लीनिक बनवा रहे थे। वे दिल्ली में पानी और बढ़ाने के लिए कई नए प्रोजेक्ट पर काम कर रहे थे।

Read More बेरोजगारी की दर 7.2 प्रतिशत, जुलाई-सितंबर की तिमाही की रिपोर्ट

यमुना की सफाई पर काम कर रहे थे। अब वो सारे प्रोजेक्ट धीमे पड़ जाएंगे, जिस मामले में उन्हें गिरफ्तार किया है, उसकी जांच पहले ही सीबीआई और इनकम टैक्स वाले कर चुके हैं, उन्हें कुछ नहीं मिला, क्योंकि मामला तो फर्जी है, उसमें कुछ है ही नहीं। अब उसी मामले की जांच दोबारा ईडी कर रही है। एक-एक केस को कई-कई साल तक अलग-अलग एजेंसी बस जांच ही करती रहेंगी क्या, तो फिर हम लोग जनता के काम कब करेंगे। इसलिए मेरी आपसे विनती है कि हम सबको एक साथ गिरफ्तार कर लो। एक साथ सारी एजेंसी से हमारी जांच करवा लो। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें राजनीति समझ में नहीं आती है। कुछ लोग कहते हैं कि यह हिमाचल के चुनाव की वजह से किया जाता है। कुछ लोग कह रहे हैं कि यह पंजाब चुनाव के नतीजों का बदला लिया जा रहा है। हमें नहीं पता है कि क्या कारण है। हमें गिरफ्तार होने से डर नहीं लगता है, लेकिन सभी को एक साथ करवा लो। आपने पांच साल पहले भी हम सब पर कई-कई छापेमारी की थी। किसी के पास एक पैसे की चोरी नहीं मिली। हमारे 20 से ज्यादा विधायकों को गिरफ्तार किया गया और सारे के सारे अदालत से बरी हो गए हैं।

Post Comment

Comment List

Latest News