राहुल गांधी का केंद्र पर वार: पेगासस राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मामला, गंभीर मुद्दे पर संसद में जवाब दे सरकार

राहुल गांधी का केंद्र पर वार: पेगासस राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मामला, गंभीर मुद्दे पर संसद में जवाब दे सरकार

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेगासस तथा किसानों के मुद्दे पर संसद में चल रहे हंगामे को सही ठहराते हुए कहा कि उनकी पार्टी अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रही है। राहुल गांधी ने कहा कि सरकार ने पेगासस को हथियार के रूप में इस्तेमाल कर रही है। सरकार को पेगासस जैसे गंभीर मामले में संसद में जवाब देना चाहिए।

नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पेगासस तथा किसानों के मुद्दे पर संसद में चल रहे हंगामे को सही ठहराते हुए कहा है कि उनकी पार्टी अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रही है और सरकार को पेगासस जैसे संवेदनशील मामले में संसद में जवाब देना चाहिए। राहुल गांधी ने विपक्ष के 14 दलों के नेताओ के साथ बुधवार को हुई बैठक के बाद संसद भवन के बाहर मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार पेगासस का हथियार के रूप में अपने लोगों तथा लोकतांत्रिक संस्थाओं के खिलाफ इस्तेमाल कर रही है। उनका कहना था कि इस हथियार का इस्तेमाल आतंकवादियों और देशद्रोहियों के विरुद्ध किया जाना चाहिए था लेकिन सरकार इसे लोकतांत्रिक संस्थाओं के खिलाफ इस्तेमाल कर रही है।

कांग्रेस सांसद ने कहा कि पेगासस का इस्तेमाल न सिर्फ उनके खिलाफ किया जा रहा है बल्कि इसका प्रयोग सुप्रीम कोर्ट, विपक्ष के नेताओं, पत्रकारों, कर्मठ कार्यकर्ताओं आदि के खिलाफ किया जा रहा है। उन्होंने सवाल किया कि आखिर सरकार इस गंभीर मुद्दे पर सदन में बात करने से क्यों कतरा रही है। कांग्रेस नेता ने कहा कि उन पर आरोप लगाया जा रहा है कि उनकी पार्टी संसद को नहीं चलने दे रही है। उन्होंने कहा कि पेगासस के जरिए देश के लोकतंत्र पर हमला हो रहा है और उनकी पार्टी ऐसे मुद्दे पर शांत नहीं रह सकती है, इसलिए वह संसद के भीतर तथा बाहर जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रही है।

राहुल गांधी ने कहा कि पेगासस उनके लिए राष्ट्रवाद से जुड़ा एक मामला है और इस पर वह समझौता नहीं कर सकते। इसमें दिक्कत यह है कि सरकार को आतंकवादियों और देशविरोधियों के खिलाफ जिस हथियार का इस्तेमाल करना चाहिए था वह उसे अपने ही लोगों के खिलाफ प्रयोग में ला रही है। उन्होंने कहा कि सरकार को बताना चाहिए क्या उसने इसे खरीदा है। इस सवाल का जवाब सरकार को हां या ना में ही देना चाहिए और साथ ही उसे यह भी बताना चाहिए कि इस हथियार का इस्तेमाल वह देश के खिलाफ क्यों कर रही है।

द्रमुक नेता टी आर बालू ने कहा कि उनकी पार्टी भी संसद में इस मुद्दे पर चर्चा चाहती है। यह देश की सुरक्षा से जुड़ा गंभीर मुद्दा है लेकिन सरकार इस पर चर्चा से बच रही है। समाजवादी पार्टी के रामगोपाल यादव ने कहा कि विपक्षी दलों की पेगासस को लेकर एक ही तरह की चिंता है, इसलिए सभी दलों के नेताओं ने मिलकर इसके खिलाफ लड़ने का फैसला किया है। उन्होंने सवाल किया कि सरकार चर्चा से क्यों बचना चाहती है। शिवसेना के संजय राउत ने कहा कि सरकार इस मुद्दे पर चर्चा से भागने की लगातार कोशिश कर रही है। उनका कहना था कि यह राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा मामला है और इस पर पूरा विपक्ष एक है और एकजुट होकर इसके खिलाफ लड़ेगा।

Post Comment

Comment List

Latest News