पुलिस को मिला वह कमरा, जहां रची थी हत्या की साजिश

घटना के बाद आरोपी की पत्नी व दोनों बच्चे गायब है।

 पुलिस को मिला वह कमरा, जहां रची थी हत्या की साजिश

उदयपुर। शहर के मालदास स्ट्रीट क्षेत्र में टेलर कन्हैयालाल की जघन्य हत्या के मामले में पकड़े गए एक आरोपी रियाज के किराए के कमरे को पुलिस ने तलाश कर सीज कर दिया। बताया गया कि इसी कमरे में कन्हैयालाल की हत्या की साजिश रची गई थी।

 उदयपुर। शहर के मालदास स्ट्रीट क्षेत्र में टेलर कन्हैयालाल की जघन्य हत्या के मामले में पकड़े गए एक आरोपी रियाज के किराए के कमरे को पुलिस ने तलाश कर सीज कर दिया। बताया गया कि इसी कमरे में कन्हैयालाल की हत्या की साजिश रची गई थी। 

तालिबानी तरीके से हत्या करने वाले दोनों आरोपियों के ठिकाने पुलिस ने तलाश लिए हैं। शहर के किशनपोल में किराए के कमरे में रहने वाले आरोपियों के मकान मालिक और पड़ोसियों से भी पुलिस ने लंबी पूछताछ की है। इस हत्याकांड के बाद इन दोनों के पड़ोसी डरे-सहमे हुए हैं। एएसपी गोपालस्वरूप मेवाड़ा के नेतृत्व में टीम आरोपी रियाज जब्बार के घर पहुंची। टीम ने करीब 2 घंटे तक घर के कमरों को चेक किया। टीम ने मकान मालिक और पड़ोसियों से भी पूछताछ की। घटना के बाद आरोपी की पत्नी व दोनों बच्चे गायब है।

11 को समझौता, 12 को बदला मकान
बताया गया कि कन्हैयालाल को 11 जून को पुलिस ने आपत्तिजनक पोस्ट डालने के मामले में गिरफ्तार किया था। इसी दिन उसे समझौता कर छोड़ दिया गया। अगले दिन 12 जून को रियाज परिवार के साथ किशनपोल के इस मकान में शिफ्ट हुआ था। मूलत: भीलवाड़ा जिले के आसींद के रहने वाले रियाज ने यहां मेन रोड पर ट्रक ड्राइवर मोहम्मद उमर के घर में कमरा किराए पर लिया था। उमर ने पुलिस को बताया कि रियाज की पत्नी कमरा किराए लेने के लिए आई थी। इससे पहले वह किशनपोल में टीटू भाई के घर में रहता था। वारदात के बाद आरोपी परिवार रिश्तेदारों के यहां चला गया। आरोपी रियाज पत्नी और 13 वर्ष की बेटी और 11 वर्ष के बेटे दो बच्चों के साथ यहां रहता था।

हत्या से 3 घंटे पहले कमरे पर ही था
उमर ने बताया कि मंगलवार सुबह सुबह 11 बजे तक रियाज कमरे पर ही था। अपराह्न में लोगों ने बताया कि सोशल मीडिया में यह वीडियो आया है कि रियाज ने किसी को मार दिया है। इसके बाद पुलिस आई और मुझे भी ले गई। शाम को रियाज के पकड़े जाने पर मुझे छोड़ दिया गया। घटना के बाद रियाज के कमरे की तलाशी ली गई। हालांकि, यहां से क्या सामान मिला है, इसके बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है। उमर ने पुलिस को बताया कि यदि उन्हें पता होता तो वे कभी ऐसे व्यक्ति को मकान किराये पर नहीं देते। रियाज ने इंसानियत को शर्मसार किया है।

दोनों कमरे सीज
पुलिस ने मंगलवार शाम से खांजीपीर और किशनपोल में भारी पुलिस बल लगा रखा था। बुधवार दोपहर को अंतिम संस्कार के बाद पुलिस ने ढील दी। पुलिस ने रियाज के अलावा गौस मोहम्मद के कमरे पर भी सर्च किया। दोनों आरोपियों को कमरों को सीज कर दिया गया है।



Read More गहलोत के आग्रह को नितिन गडकरी ने किया स्वीकार, जोधपुर के एलिवेटेड रोड का काम NHAI ने अपने हाथ में लिया

Post Comment

Comment List

Latest News