दर्दनाक : दंपती को घसीटकर डेढ़ सौ फीट गहरे कुएं में गिराया, पत्नी की मौत

गढ़हिम्मतसिंह का मामला, दस दिन पूर्व बच्चों में मोबाइल को लेकर उपजा था विवाद

दर्दनाक : दंपती को घसीटकर डेढ़ सौ फीट गहरे कुएं में गिराया, पत्नी की मौत

जानकारी अनुसार गढ़हिम्मतसिंह में पक्का दरवाजे के पास कुएं में एक दंपती के गिरने की सूचना पर आनन-फानन में पुलिस मौके पर पहुंची। जहां पुलिस ने स्थानीय ग्रामीणों की मदद से दंपती को काफी मशक्कत करके कुएं से बाहर निकाला।

मण्डावर। यहां पुलिस थाना क्षेत्र के ग्राम गढ़हिम्मतसिंह में पक्का दरवाजा के पास रंजिश को लेकर विरोधी पक्ष ने एकराय होकर डेढ़ सौ फुट गहरे कुंए में दंपत्ति को घसीटकर गिरा दिया गया। जिसमें पत्नी के सिर में गंभीर चोंट लगने से कुएं में ही मौत हो गई। जबकि पति को मण्डावर सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया। जहां से चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार कर गंभीर अवस्था में जयपुर रैफर कर दिया। मृतका के पुत्र ने पड़ोसी तीन महिलाओं सहित सात लोगों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करवाया है। जानकारी अनुसार गढ़हिम्मतसिंह में पक्का दरवाजे के पास कुएं में एक दंपती के गिरने की सूचना पर आनन-फानन में पुलिस मौके पर पहुंची। जहां पुलिस ने स्थानीय ग्रामीणों की मदद से दंपती को काफी मशक्कत करके कुएं से बाहर निकाला और इलाज के लिए सीएचसी मण्डावर में भर्ती करवाया। जहां चिकित्सकों ने पचास वर्षीय महिला अनोखी देवी मीणा को मृत घोषित कर दिया। जबकि उसके55 वर्षीय पति धर्मसिंह मीणा का प्राथमिक उपचार कर गंभीर हालत में जयपुर रैफर कर दिया। इधर मृतका के पीहर एवं ससुराल पक्ष के लोगों ने पुलिस से आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग उठाई। परिजनों ने पुलिस से कहा कि आरोपी गिरफ्तार नही होंगे तब तक हम पोस्टमार्टम नही करवाएंगे। इसको लेकर पुलिस के हाथ-पांव फुल गए। इसके बाद मौके पर पहुंचे महुवा पुलिस उपाधीक्षक बृजेश सिंह ने मृतका के परिजनों को करीब दो घंटे तक लगातार समझाईश की गई। जहां मृतका के परिजन नामजद लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करवाने की बात पर अड़ गए। 

पुलिस उपाधीक्षक उनकी रिपोर्ट दर्ज करने को तैयार हो गए। जिसके बाद मृतका के पुत्र ने तीन महिलाओं सहित सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। तब जाकर मृतका के परिजन उसका पोस्टमार्टम करवाने को तैयार हुए। मामले को लेकर थानाधिकारी श्याम लाल मीणा ने बताया कि कुएं से धर्मसिंह व उसकी पत्नी अनोखीदेवी को बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने अनोखीदेवी मीणा को मृत घोषित कर दिया। गंभीर हालत में धर्मसिंह को जयपुर एसएमएस अस्पताल में रैफर कर दिया गया है। उन्होंने बताया गया कि 11 नवंबर को दो पक्षों के बीच झगड़ा हुआ था, जिसे लेकर थाने में दोनों पक्षों की ओर से परस्पर मुकदमे भी दर्ज कराए गए थे। मामले को लेकर रविवार शाम दोनों पक्षों के बीच गांव के समाज के पंच पटेलों ने समझौता करवा दिया गया। इसके बाद सोमवार सुबह करीब 5 बजे दोनों पति-पत्नी के कुएं में गिरने की सूचना मिली। घटना को लेकर कुएं के आस-पास बड़ी संख्या में महिला-पुरूष एवं बच्चों की भारी भीड़ जुट गई। वहीं जैसे ही दंपत्ति को उपचार के लिए सरकारी अस्पताल ले जाया गया। जहां भी लोगों की भीड़ जमा हो गई। मुर्दाघर के सामने सुबह से लेकर करीब चार बजे मृतका का पोस्टमार्टम होने मृतका के पीहर एवं ससुराल पक्ष के लोग डटे रहे। पुलिस ने मृतका के पुत्र की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। 

गढ़हिम्मतसिंह में फैली सनसनी

यहां गढ़हिम्मतसिंह में करीब सुबह पांच बजे एक दंपत्ति को डेढ़ सौ फुट सूखे गहरे कुएं में पटकने की दर्दनाक घटना से गांव में सनसनी फैल गई। ग्रामीणों के जेहन में इस घटना से अनेक सवाल खड़े हो रहे है कि दोनों पक्षों के बच्चों में फाईनेंस पर लिए मोबाइल की किश्त समय पर जमा नही करवाने की छोटी सी बात को लेकर इतना बड़ा झगड़ा क्यों हो गया। फिर सवाल यह खड़ा हो रहा है कि समाज के पंचों ने दोनों पक्षों में समझौता करवाया फिर यह दर्दनाक घटना ने अनेक सवाल खड़े किए। एक सवाल यह भी खड़ा हो रहा है कि दंपत्ति को कुएं में वारदात को अंजाम देने वाले लोगों के चुंगल से आस-पास के पड़ोसियों ने उनको बचाया क्यों नही। हालांकि यह मामला काफी पेचीदा बनता जा रहा है। फिलहाल पुलिस हरेक पहलू की जांच कर रही है। 

तीन महिलाओं सहित सात जनों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज

यहां महुवा पुलिस उपाधीक्षक बृजेश सिंह ने बताया कि गढ़हिम्मतसिंह में घटना को लेकर मृतका के पुत्र पूरणसिंह ने मामला दर्ज कराया कि उसकी मां अनोखीदेवी मीणा घर पर कामरही थी, वहीं पिता धर्मसिंह बैठे थे। इस दौरान पड़ोस के ही महेंद्र मीणा पुत्र कैलाश मीणा, मधुबाला पत्नि विष्णु मीणा, रामेश्वर पुत्र गिर्राज मीणा, विमलादेवी पत्नि रामचरण मीणा, अजय, पुत्र रामेश्वर मीणा, जितेंद्र पुत्र कैलाश मीणा एवं सफेदी पत्नी रामेश्वर मीणा एकराय होकर घर में घुस आए और उसकी मां को कुएं में खींचकर गिरा रहे थे तो उसके पिता ने इसका विरोध किया तो उसके पिता को भी डेढ़ सौ फुट गहरे सूखे कुएं में खींचकर पटक दिया। जिससे दोनों घायल हो गए। ग्रामीणों ने निकाल कर अस्पताल पहुंचाया। जहां उसकी मां को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। जबकि पिता को गंभीर अवस्था में एसएमएस अस्पताल जयपुर रैफर कर दिया गया। पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है। 

दो पक्षों में 11 नवंबर को हुआ था विवाद

इस मामले में मृतका अनोखी देवी की ओर से 12 नवंबर को पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि वह अपने घर पर बैठी थी। तभी पड़ोसी रामेश्वर व उसके बेटे अजय ने उनके घर आकर लाठी-डंडों से मारपीट की, अन्य पड़ोसियों ने उसे बीच-बचाव किया तो वे धमकी देकर चले गए। उसके बाद दोपहर 3 बजे करीब आधा दर्जन लोग फिर से उनके घर में घुस आए और जानलेवा हमला कर दिया। वहीं दूसरे पक्ष की महिला मधुबाला ने रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि उसका पति गुजरात में नौकरी करता है। 11 नवंबर को वह अपने देवर के साथ घर में अकेली थी। तभी पड़ोसी पूरणसिंह व मोनू समेत कई लोगों उनके घर में घुसकर लाठी-डंडों से हमला कर दिया व मकान में भी तोड़फोड़ की। पुलिस ने दोनों पक्षों की रिपोर्ट दर्ज कर जांच चल रही थी। जहां रविवार रात्रि को गढ़हिम्मतसिंह गांव के समाज के पंच-पटेलों ने दोनों पक्षों को बैठाकर झगड़े में नुकसान होने पर 11 हजार रूपये दण्ड के रखकर समझौता करवा दिया गया। जिसके बाद फिर यह घटना हुई। 

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News