कृषि पर्यवेक्षक, ग्राम विकास अधिकारी और पटवारी के पद खाली पड़े, जनता भटक रही

कार्मिकों के पद के रिक्त पद होने से अटक रहे आम जनता के काम

कृषि पर्यवेक्षक, ग्राम विकास अधिकारी और पटवारी के पद खाली पड़े, जनता भटक रही

कृषि पर्यवेक्षक के लम्बे समय से पद रिक्त होने से किसानों कार्य प्रभावित हो रहे हैं। पटवारी के रिक्त पद से आमजन को सीमाज्ञान,जमीनी नकलें, प्रमाण पत्र हस्ताक्षर, क्षतिपूर्ति सहायता आदि के काम में चक्कर लगाने को मजबूर है।

अरनेठा। कस्बे के कृषि पर्यवेक्षक, विकास अधिकारी और पटवारी के पद खाली पड़े है। जिससे आम जनता के काम प्रभावित हो रहे है। पंचायत समिति केशवराय पाटन में वर्तमान में 46 ग्राम पंचायत एवं 4 नगर पालिकाएं मिलाकर 50 कृषि पर्यवेक्षक होने चाहिए जबकि वर्तमान में 40 कृषि पर्यवेक्षक के पद रिक्त पड़े है। 4 सहायक कृषि अधिकारी के पद खाली पड़े है। इसी प्रकार  46 ग्राम पंचायत में 46 ग्राम विकास अधिकारी होने चाहिए जबकि वर्तमान में  27 ग्राम विकास अधिकारी ही मौजूद हैं । 19 ग्राम विकास अधिकारी के पद रिक्त पड़े है। कृषि पर्यवेक्षक के लम्बे समय से पद रिक्त होने से किसानों कार्य प्रभावित हो रहे हैं। पटवारी के रिक्त पद से आमजन को सीमाज्ञान,जमीनी नकलें, प्रमाण पत्र हस्ताक्षर, क्षतिपूर्ति सहायता आदि के काम में चक्कर लगाने को मजबूर है। 

पारी बाई माली उर्फ पार्वती बाई माली निवासी वार्ड 5 अंजना माता चौक क्षेत्र ने बताया पंचायत समिति केशवराय पाटन एवम पाटन तहसील में पिछले कई सालों जमीनी लेवल के कर्मचारियों में  कमी हैं । पंचायत समिति केशवराय पाटन में वर्तमान में 46 ग्राम पंचायत एवं 4 नगर पालिकाएं मिलाकर 50 कृषि पर्वेक्षक होने चाहिए जबकि वर्तमान में 10 कृषि पर्यवेक्षक मौजूद हैं जिनके पास करीब 80 हजार हैक्टेयर जमीन की देखरेख की जिम्मेदारी हैं। 5 सहायक कृषि अधिकारी होने चाहिए जबकि 1 ही मौजूद हैं। 1 कृषि अधिकारी होना चाहिए जबकि 1 भी नही हैं । इसी प्रकार  46 ग्राम पंचायत में 46 ग्राम विकास अधिकारी होने चाहिए जबकि वर्तमान में  27 ग्राम विकास अधिकारी ही मौजूद हैं । 19 ग्राम विकास अधिकारी के पद रिक्त पड़े है।  इसी प्रकार केशवराय पाटन तहसील के 38 हलको पर 38 पटवारी होने चाहिए जबकि 33 पटवारी ही मौजूद हैं ।  ग्राम, ब्लॉक, जिला एवम राज्य लेवल के जन प्रतिनिधियों एवं अधिकारियों , उच्च अधिकारियों से विशेष आग्रह हैं जमीनी लेवल से जुड़ा हुआ मुद्दा समझकर आम जन के लिए कल्याण कारी योजनाएं पहुंचाने वाले कार्मिकों के रिक्त पदों को अतिशीघ्र भरकर राहत प्रदान करने की जरूरत है। 

सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाने को मजबूर है जनता
कृषि पर्यवेक्षक के लम्बे समय से पद रिक्त हैं । इनके रिक्त पद से किसानों कार्य प्रभावित हो रहे हैं।  वर्तमान समय में खाद वितरण में भी इनकी कमी खल रही हैं। साथ ही एक सहायक कृषि अधिकारी को पूरी पंचायत समिति देखनी पड़ रही हैं। 
- नरेंद्र गौतम, किसान अरनेठा 

ग्राम पंचायत विकास अधिकारी के अंतर्गत गांव के विकास के अनेक कार्य आते हैं। ऐसे में उनकी रिक्त पद से होने से स्वच्छता, आवास, अतिक्रमण, जन हित मुद्दे प्रभावित होते हैं। 
- चंद्र प्रकाश गुर्जर, सारसला 

पटवारी के रिक्त पद से आमजन को सीमाज्ञान,जमीनी नकलें, प्रमाण पत्र हस्ताक्षर, क्षतिपूर्ति सहायता आदि के काम में चक्कर लगाने को मजबूर है। ऐसे में ग्रामीणों को समस्या खड़ी हो जाती हैं । रिक्त पदों की कमी दूरी होना आवश्यक हैं।
-  सत्यनारायण सैनी,अरनेठा

कृषि पर्वेक्षक की नई भर्ती हो रही हैं। उसमें आ रहे हैं इन पदों को भर देंगे । अभी हमने पाटन को खूब पटवारी दे दिए हैं। 4- 5 पद रिक्त हैं नई वेकेंसी में उनको भी भर देंगे । ग्राम विकास अधिकारियों को लेकर हमने सरकार तक बात पहुंचा रखी हैं । हम कोशिश भी कर रहे हैं रिक्त पदों को भरने की।
  -डॉक्टर रविंद्र गोस्वामी ,जिला कलक्टर, बूंदी

Related Posts

Post Comment

Comment List

Latest News

ओडिशा में एसटीएफ ने नकली नोट रखने के आरोप में एक व्यक्ति को किया गिरफ्तार  ओडिशा में एसटीएफ ने नकली नोट रखने के आरोप में एक व्यक्ति को किया गिरफ्तार 
नकली जब्त किए गए नोटों को भारतीय रिजर्व बैंक नोट मुद्रण प्राइवेट लिमिटेड, मुद्रा नगर, सालाबोनी, पचिमा मिदनापुर, पश्चिम बंगाल...
फ्रांस के हेलीकाप्टर जापान, भारत और अमेरिका के साथ सैन्य अभ्यास में शामिल होंगे
झारखंड की दो 'केराकत' ने यूथ गेम्स में जमाया रंग
अलग-अलग किरदार निभाना चाहती है कृति सैनन
कैंसर जॉच आपके द्वार अभियान का हुआ आगाज
जोधपुर में 20 से 22 मार्च को आयोजित होगा राजस्थान इंटरनेशनल एक्सपो
ओवरलोड वाहनों के चलते संपर्क सड़कें हुई जर्जर