कोटा एयरपोर्ट से दिल्ली, जयपुर व उदयपुर के लिए मार्च में शुरू होगी उड़ान

जिला प्रशासन ने नगर निगम व नगर विकास न्यास को दिए निर्देश, एयरपोर्ट के रनवे की रि-कारपेटिंग और एप्रोच पाथ के अवरोध हटाने का होगा काम

कोटा एयरपोर्ट से दिल्ली, जयपुर व उदयपुर के लिए मार्च में शुरू होगी उड़ान

केन्द्र व राज्य सरकार के प्रयासों से शम्भूपुरा में 1250 एकड़ भूमि पर नया ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट बनाया जाना है। जिसके लिए राज्य सरकार ने एयरपोर्ट अथोरिटी आफ इंडिया को नि:शुल्क जमीन भी आवंटित कर दी है।

कोटा। शम्भूपुरा में प्रस्तावित नए ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट  का काम तो तेजी से आगे बढ़ ही रहा है। लेकिन उसके तैयार होने में लगने वाले समय को देखते हुए उससे पहले  वर्तमान एयरपोर्ट से  विमान सेवा शुरू करने की योजना है। यहां से इसी साल मार्च में दिल्ली, जयपुर व उदयपुर के लिए   विमान सेवा शुरु होने की संभावना है। इसके लिए एयरपोर्ट के रनवे की रि कारपेटिंग और एप्रोच पाथ के अवरोधों को हटाने का काम शीघ्र ही शुरू किया जाएगा। 
केन्द्र व राज्य सरकार के प्रयासों से शम्भूपुरा में 1250 एकड़ भूमि पर नया ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट बनाया जाना है। जिसके लिए राज्य सरकार ने एयरपोर्ट अथोरिटी आॅफ इंडिया को नि:शुल्क जमीन भी आवंटित कर दी है। वन विभाग की भूमि के डायजर्वन की बाधा भी दूर हो गई है। 
राज्य सरकार ने एयरपोर्ट निर्माण के लिए बजट भी स्वीकत कर दिया है। एयरपोर्ट अथोरिटी आॅफ इंडिया की ओर से ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट की भूमि पर सर्वे का काम किया जा रहा है। इन सबके बीच एयरपोर्ट अथोरिटी आॅफ इंडिया की ओर से वर्तमान एयरपोर्ट से विमानसेवा शुरू करने की तैयारी की जा रही है।  
ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट का भी मार्च में शिलान्यास प्रस्तावित
एक तरफ तो वर्तमान एयरपोर्ट से तीन बडे शहरों के लिए विमान सेवा मार्च में शुरू करने की योजना है। वहीं सूृत्रों के अनुसार नए ग्रीन फील्ड एयरपोर्ट का शिलान्यास भी इसी साल मार्च में होने की संभावना है। उससे पहले जमीन का सर्वे, बाधाए दूर करने समेत अन्य औपचारिकताओं का पूरा करने का काम तेजी से किया जा रहा है। 

एप्रोच पाथ में छोटी-बड़ी 51 बाधाएं होंगी दूर
झालावाड़ रोड स्थित वर्तमान एयरपोर्ट के एप्रोच पाथ वे में विमान लैंड करने के दोनों छोर दादाबाड़ी व विज्ञान नगर साइड पर छोटी-बड़ी 51 बाधाएं  चिन्हित की गई हैं। उन बाधाओं में लायंस क्लब के पास निमाणाधीन बहुमंजिला इमारत, इसके अलावा झालावाड़ रोड पर अन्य इमारतें जिनकी लम्बाई एयरपोर्ट अथोरिटी आॅफ इंडिया के मापदंडों के अनुसार 4 से 5 मीटर अधिक है। इसक अलावा दोनों तरफ बड़े-बड़े पेड़ भी हैं। जिन्हें हटाने का काम किया जाएगा। 

रनवे की रिकारपेटिंग व बिल्डिंग का होगा रिनोवेशन
एयरपोर्ट से बडे विमान उड़ना काफी समय से बंद हैं। हालांकि यहां हैलीकॉप्टर आते रहते हैं। साथ ही छोटे विमान भी उतरते रहे हैं। लेकिन नियमित विमान सेवा नहीं होने से रनवे पुराना हो चुका है। जिससे उस नयापन देने के लिए उस पर रि कारपेटिंग की जानी है। वहीं एयरपोर्ट की बिल्डिंग का रिनोवेशन भी किया जाएगा। इसके लिए एयरपोर्ट अथोरिटी आॅफ इंडिया के मुख्यालय किशनगढ़ एयरपोर्ट से करीब 9 करोड़ रुपए से अधिक के टेंडर किए गए हैं। यह काम शीघ्र ही शुरू किया जाना है। 

इन जगहों के लिए होगी विमान सेवा शुरू
कोटा के वर्तमान एयरपोर्ट से पूर्व में जहां छोटे विमान कोटा से जयपुर व जयपुर से कोटा के बीच चलाई गई थी। हालांकि वह अधिक समय तक नहीं चल सकी थी। वहीं अब 31मार्च से फिर से यहां से विमान सेवा शुरू की जानी है।  इस बार कोटा से दिल्ली, दिल्ली से कोटा, कोटा से जयपुर, जयपुर से कोटा और कोटा से उदयपुर और उदयपुर से कोटा के बीच विमान सेवा शुरू की जाएगी। इस बार यहां से 42 सीटर विमान सेवा शुरु की जानी है। 

Read More बड़े अंतर से हारेंगे अशोक गहलोत के बेटे चुनाव, मोदी की झोली में जा रही है सभी सीटें : अमित 

वर्तमान एयरपोर्ट से इसी साल 31 मार्च से दिल्ली, जयपुर व उदयपुर के बीच विमान सेवा शुरू करने की योजना है। उस योजना को मूर्त रूप देने से पहले यहां रनवे पाथ की बाधाओं को दूर कि या जाना है। उन बाधाओं को दूर करने के लिए जिला प्रशासन को पत्र लिखा जा चुका है। वहीं रनवे की रिकारपेटिंग और बिल्डिग का रिनोवेशन किया जाना है। जिसकी टेंडर प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। प्रशासन द्वारा बाहरी बाधाएं दूर करने का काम किया जाएगा। जबकि एयरपोर्ट परिसर के अंदर का काम एयरपोर्ट अथोरिटी आॅफ इंडिया के निर्देशानसार एयरपोर्ट प्रशासन करवाएगा। 
- परसराम मीणा, निदेशक, कोटा एयरपोर्ट 

Read More सुरक्षा व्यवस्था : 5 राज्यों की सीमाओं पर बनाई 225 चैक पोस्ट

वर्तमान एयरपोर्ट से इसी साल मार्च में विमान सेवा शुरू करने की योजना है। उससे पहले एप्रोच पाथ की बाधाओं को दूर किया जाना है। इस संबंध में गत दिनों बैठक कर नगर निगम व नगर विकास न्यास के अधिकारियों को निर्देशित किया गया था। अब शीघ्र ही फिर से बैठक कर उस काम को गति प्रदान की जाएगी। जिससे जितना जल्दी संभव हो सके उस काम को पूरा किया जाएगा। 
- ओ.पी. बुनकर, जिला कलक्टर, कोटा

Read More लाइसेंस मामले में झालावाड़, अवैध हथियार रखने में कोटा है अव्वल

Post Comment

Comment List

Latest News

कम वोटिंग से राजनीति दलों में मंथन का दौर शुरू, दूसरे चरण की 13 सीटों को लेकर रणनीति बनाने में जुटे कम वोटिंग से राजनीति दलों में मंथन का दौर शुरू, दूसरे चरण की 13 सीटों को लेकर रणनीति बनाने में जुटे
ऐसे में इस बार पहले चरण की सीटों पर कम वोटिंग ने भाजपा को सोचने पर मजबूर कर दिया है।...
भारत में नहीं चाहिए 2 तरह के जवान, इंडिया की सरकार बनने पर अग्निवीर योजना को करेंगे समाप्त : राहुल
बड़े अंतर से हारेंगे अशोक गहलोत के बेटे चुनाव, मोदी की झोली में जा रही है सभी सीटें : अमित 
किडनी ट्रांसप्लांट के बाद मरीज की मौत, फोर्टिस अस्पताल में प्रदर्शन
इंडिया समूह को पहले चरण में लोगों ने पूरी तरह किया खारिज : मोदी
प्रतिबंध के बावजूद नौलाइयों में आग लगा रहे किसान
लाइसेंस मामले में झालावाड़, अवैध हथियार रखने में कोटा है अव्वल