राजस्थान किसान आयोग के अध्यक्ष महादेव सिंह खंडेला ने संभाला कार्यभार, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रहें मौजूद

किसान आयोग के उपाध्यक्ष दीपचंद्र खरिया ने भी उपाध्यक्ष का कार्यभार संभाला

राजस्थान किसान आयोग के अध्यक्ष महादेव सिंह खंडेला ने संभाला कार्यभार,  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रहें मौजूद

जयपुर। विधायक महादेव सिंह खंडेला ने बुधवार को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मौजूदगी में पंत कृषि भवन में राजस्थान किसान आयोग का पदभार ग्रहण कर लिया। मुख्यमंत्री गहलोत ने कहा कि खंडेला वरिष्ठ विधायक होने के साथ ही केंद्रीय मंत्री रहे हैं, अब सरकार ने इनको किसान आयोग की जिम्मेदारी दी है, ऐसे में उनके सुझाव कृषि के क्षेत्र में क्रांतिकारी साबित होंगे। किसान आयोग के उपाध्यक्ष दीपचंद्र खरिया ने भी उपाध्यक्ष का कार्यभार संभाला। इस मौके पर कृषि मंत्री लालचंद कटारिया भी मौजूद रहे। गहलोत ने कहा कि  किसानों की राय से ही बजट आएगा। बजट में किसानों की राय की विशेष भूमिका रहेगी। वहीं उन्होंने कहा कि डोटासरा के समय अंग्रेजी स्कूल राजस्थान में शुरू हुए हैं, अब अंग्रेजी का जमाना है और अंग्रेजी पढ़कर बच्चे इंटरनेट की दुनिया में नई जानकारी सीख  सकेंगे।  उन्होंने कहा कि किसान आयोग की सिफारिशों को सरकार लागू करेगी।

बजट में किसानों के हित और कल्याण का ध्यान: गहलोत

गहलोत ने बाद में पत्रकारों से अनौपचारिक बातचीत करते हुए कहा कि राजस्थान सरकार किसानों के हित व संवर्धन के लिए अलग से कृषि बजट ला रही है।  बजट 23 फरवरी को ही प्रस्तुत किया जाएगा, जिसमें किसानों के हित उनके कल्याण व उनके भविष्य को ध्यान में रखकर कई योजनाएं तैयार की गई है। उनका कहना था कि राजस्थान के इतिहास में पहली बार किसान आयोग के उपाध्यक्ष की भी घोषणा की गई है। दीपचंद खेरिया को उपाध्यक्ष बनाया गया है। दीपचंद खेरिया ने भी उपाध्यक्ष का पदभार ग्रहण कर लिया।

Read More महात्मा गांधी स्कूलों में खिलेंगी अब बाल वाटिकाएं

 

 

Post Comment

Comment List

Latest News