ओडिशा रेल हादसे की सीबीआई जांच के लिए रेलवे ने पत्र भेजा

रेल हादसे के आपराधिक कोण की जांच के लिए भेजा पत्र

ओडिशा रेल हादसे की सीबीआई जांच के लिए रेलवे ने पत्र भेजा

रेलवे बोर्ड ने ओडिशा रेल हादसे के आपराधिक कोण की जांच के लिए केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को आज पत्र लिख दिया। 

नई दिल्ली। रेलवे बोर्ड ने ओडिशा रेल हादसे के आपराधिक कोण की जांच के लिए केन्द्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को आज पत्र लिख दिया।  सरकार के उच्चपदस्थ सूत्रों ने यहां बताया कि ओडिशा के बालासोर जिले में बहनगा बाजार स्टेशन पर शुक्रवार शाम को हुए भीषण हादसे की जांच सीबीआई से कराने के सरकार के फैसले के अनुरूप रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी अनिल कुमार लाहोटी ने प्रधानमंत्री कार्यालय के कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग को आज अनुरोध पत्र भेज दिया।

दुर्घटना की जांच में उठने वाले सवालों के बारे में पूछे जाने पर सूत्रों ने कहा कि किसी भी संभावना की ना तो पुष्टि करने की स्थिति है और ना ही खंडन करने की। रेलवे बोर्ड को भी जांच रिपोर्ट का इंतजार है। लाहोटी शाम करीब छह बजे प्रधानमंत्री कार्यालय भी गये। समझा जाता है कि उन्होंने प्रधानमंत्री कार्यालय को दुर्घटना की जांच एवं घायलों के उपचार आदि की जानकारी दी और सीबीआई जांच के बारे में विचार विमर्श किया।

उम्मीद है कि आज देर शाम तक सीबीआई की टीम बहनगा स्टेशन पर पहुंच कर जांच शुरू कर देगी। रेल संरक्षा आयुक्त (दक्षिण पूर्व सर्किल) की जांच पहले ही शुरू हो चुकी है और 15 से 20 दिन में उनकी रिपोर्ट आने की आशा है। रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने कल बहनगा में संवाददाताओं से बातचीत में कहा था कि अब की जांच में रेलवे एवं प्रशासनिक अधिकारियों से जो संकेत एवं इनपुट मिले हैं, उनके आधार पर आगे की जांच सीबीआई को देने का फैसला किया जा रहा है और रेलवे बोर्ड इस बारे में कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग को पत्र लिखेगा।            रेलवे के सूत्रों से कल यह पता चला था कि बहनगा बाजार स्टेशन पर रिले रूम खुला मिला था जो एक बहुत अहम संरक्षा चूक है। सामान्यत: रिले रूम सिगनल एवं टेलीकॉम (एस एंड टी) स्टॉफ के जिम्मे होता है लेकिन इसका ताले की दो चाबियां होतीं हैं। एक चाबी स्टेशन मास्टर के पास होती है और दूसरी चाबी एस एंड टी स्टॉफ के पास होती है। नियम के अनुसार रिले रूम तब ही खोला जाता है जब कोई ट्रेन परिचालन नहीं हो रहा हो। यदि ट्रेन परिचालन के वक्त रिले रूम खोलने की जरूरत पड़े तो एस एंड टी स्टॉफ मूवमेंट ऑथोराइजेशन रजिस्टर में हस्ताक्षर कराया जाता है और लिखवाया जाता है कि रिले रूम खुले रहने की स्थिति में ट्रेन का सुरक्षित परिचालन हो सकता है।

         

Read More Pune Hit & Run Case में नाबालिग का दादा गिरफ्तार

Post Comment

Comment List

Latest News