अंतरराष्ट्रीय समस्याओं को सुलझाने को रूस-चीन कर रहे हैं समन्वित प्रयास: पुतिन

अंतरराष्ट्रीय समस्याओं को सुलझाने को रूस-चीन कर रहे हैं समन्वित प्रयास: पुतिन

राष्ट्रपति ब्लादिमिर पुतिन ने दावा किया कि रूस और चीन दुनिया की समस्याओं को सुलझाने और एक न्यायपूर्ण तथा लोकतांत्रिक विश्व निर्माण के लिए योगदान कर रहे हैं।

मॉस्को। राष्ट्रपति ब्लादिमिर पुतिन ने दावा किया कि रूस और चीन दुनिया की समस्याओं को सुलझाने और एक न्यायपूर्ण तथा लोकतांत्रिक विश्व निर्माण के लिए योगदान कर रहे हैं।

यूनाइटेड रशिया पार्टी और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी संवाद के सदस्याओं को दिये शुभकामना संदेश में रूसी राष्ट्रपति ने कहा, ''रूस और चीन के बीच समेकित और रणनीतिक स्तर पर भागीदारी उच्चतम स्तर पर है। आर्थिक, यातायात, ऊर्जा, मानवीय पहलुओं और दूसरी परियोजनाओं को शुरू किया जा रहा है। एससीओ, ब्रिक्स और ऐसे ही दूसरे बहुतस्तरीय संगठनों खाके के तहत दोनों देश दुनिया भर की समस्याओं को सुलझाने के लिए समन्वित प्रयास कर रहे हैं।

पुतिन ने कहा, यूनाइटेड रशिया और चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के बीच रचनात्मक कार्य द्विपक्षीय संबंधों के प्रगतिशील विकास में योगदान देता है।"

पुतिन ने कहा कि उनके केंद्रीय निकायों और क्षेत्रीय संरचनाओं दोनों से जुड़े नियमित संपर्क पार्टी निर्माण, संसदीय और सार्वजनिक गतिविधियों के क्षेत्रों में अनुभव का उपयोगी आदान-प्रदान प्रदान करते हैं, जिससे हमें द्विपक्षीय और अंतरराष्ट्रीय एजेंडे पर व्यापक मुद्दों पर गहन चर्चा करने की अनुमति मिलती है।

Read More अलेक्जेंडर क्रू ने चुनाव में स्वीकारी अपनी पार्टी की हार 

Post Comment

Comment List

Latest News

जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे जन भागीदारी विकास योजना में फंड आवंटित, परिसम्पत्ति सृजन के अटके काम शुरू होंगे
ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग ने महात्मा गांधी जन भागीदारी विकास योजना में 33 जिलों को 20 करोड़ रुपए का...
संग्रहाध्यक्ष, खोज व उत्खनन अधिकारी प्रतियोगी परीक्षा-2023 होगी 19 जून को
NDA Government राजस्थान पर मेहरबान, केंद्र ने राज्य को जारी किए 8421.38 करोड़
बाड़मेर-ऋषिकेश एक्सप्रेस रेलसेवा एलएचबी रैक से संचालित होगी
राज्यवर्धन ने सूचना सहायक पदों की संख्या बढ़ाई
कांग्रेस ने आंध्रप्रदेश के विशेष दर्जे पर मोदी से मांगा स्पष्टीकरण
सीएम को लिखा पत्र : निकायों का पुनः परिसीमांकन एवं वार्डों की संख्या के निर्धारण का कार्य पारदर्शी तरीके से हो: राजेंद्र राठौड़