पुणे पुलिस की हिरासत से महिला आरोपी फरार

हरियाणा से किया था गिरफ्तार

पुणे पुलिस की हिरासत से महिला आरोपी फरार

कोटा से ट्रेन रवाना होने के बाद पुणे पुलिस को रास्ते में महिला आरोपी के फरार होने का पता चला।

कोटा। कोटा रेलवे स्टेशन पर दूरंतो ट्रेन से पुणे पुलिस की हिरासत से एक महिला आरोपी फरार हो गई। पुणे पुलिस ने सोमवार को जीआरपी थाने में मामला दर्ज करवाया है। महिला का नाम सानिया (24) है वह बिहार की रहने वाली है। जीआरपी थाना अधिकारी मनोज सोनी ने बताया कि महिला के खिलाफ साइबर ठगी का मामला पुणे में दर्ज है। पुणे पुलिस ने महिला को हरियाणा से पकड़ा था। कोर्ट में पेश करने के बाद ट्रेन से यात्रा वारंट पर उसे पुणे ले जा रहे थे। कोटा स्टेशन पर पुणे पुलिस को चकमा देकर महिला फरार हो गई। तलाश करने के बाद भी जब महिला नहीं मिली तो पुणे पुलिस ने जीआरपी में अभिरक्षा से फरार होने का प्रकरण दर्ज करवाया है। महिला की तलाश की जा रही है।

पुणे पुलिस आरोपी महिला को हरियाणा से गिरफ्तार कर  दिल्ली-मुंबई दुरंतो (22210) ट्रेन से पुणे ले जा रही थी। ट्रेन में आरोपी महिला के साथ 5-6 पुलिसकर्मी थे। रविवार तड़के 4.10 बजे ट्रेन के कोटा स्टेशन पर पहुंचने पर सानिया पुलिसकर्मियों को चकमा देकर फरार हो गई। कोटा से ट्रेन रवाना होने के बाद पुणे पुलिस को रास्ते में सानिया के फरार होने का पता चला। इसके बाद पुणे पुलिस ने आरोपी महिला को तलाश किया, नहीं मिलने पर जीआरपी को शिकायत दी। पुलिस गिरफ्त से फरार होने के बाद आरोपी महिला माला रोड़ स्थित एक लॉज में 2 से 3 घंटे रुकी। भनक लगते ही सानिया लॉज से भी फरार हो गई। पुलिस सीसीटीवी फुटेज के आधार पर महिला की तलाश कर रही है। 

 

Post Comment

Comment List

Latest News

मणिपुर में 11 मतदान केंद्रों पर फिर होगा मतदान मणिपुर में 11 मतदान केंद्रों पर फिर होगा मतदान
कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि हथियारबंद लोगों ने चुनाव अधिकारियों पर हावी होकर एक खास उम्मीदवार के पक्ष में...
भाजपा के लिए एकतरफा जीत इस बार आसान लड्डू नहीं
दूसरे फेज की सीटों में कांग्रेस दलित-अल्पसंख्यकों तक पहुंचने में जुटी
अफगानिस्तान में एक चिपचिपी खदान में बम विस्फोट, एक व्यक्ति की मौत
महावीर जयंती पर निकाली शोभा यात्रा, घरों पर फहराया पचरंगा जैन ध्वज
मोदी को 20 करोड़ लोगों को देना था रोजगार, उल्टे छीन ली युवाओं की नौकरियां : खड़गे
लोकसभा चुनाव में शहर में मतदाताओं का रुझान कम