हालात नहीं सुधरे तो विद्युत कार्यालय का करेंगे घेराव

उमस व गर्मी के साथ मच्छरों ने उड़ाई नींद, गंभीर बीमारियों का मंडरा रहा खतरा

हालात नहीं सुधरे तो विद्युत कार्यालय का करेंगे घेराव

भीषण गर्मी में अघोषित बिजली कटौती से परेशान ग्रामीणों ने दी चेतावनी।

खेड़ारसूलपुर। ग्रामीण क्षेत्रों में इन दिनों लगातार की जा रही अघोषित बिजली कटौती के कारण ग्रामीणों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस भीषण गर्मी में दिन-रात किसी भी समय बिजली कटौती से लोगों का जीना दुश्वार हो रहा है। रात को लोड शिफ्टिंग के नाम पर बिजली कटौती से ग्रामीणों को रतजगा करना पड़ रहा है। लोगों की नींद पूरी नहीं हो पा रही है। ग्रामीण प्रवीण नामा, जोधराज गुर्जर, अनूप मेहरा व राम खंडेलवाल ने बताया कि इस भीषण गर्मी में प्रतिदिन बिजली विभाग द्वारा अघोषित कटौती की जा रही है। जिसके कारण लोग अपने घरेलू व दैनिक कार्य भी नहीं कर पा रहे। बिजली कटौती के कारण गांव में बनी पेयजल की टंकी भी पानी से पूरी तरह नहीं भर रही है। जिसके कारण ग्रामीणों को पीने के पानी के लिए भी कड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। ग्रामीणों को पीने का पानी हैंडपंपों से लाना पड़ रहा है। ग्रामीण प्रवीण नामा ने बताया कि गांव में रात के समय कभी भी लो शिफ्टिंग के नाम पर 1 से 2 घण्टे तक बिजली की कटौती की जा रही है। लोगों को पसीने व मच्छरों के कारण नींद नहीं आ रही है। 

गांवों के साथ हो रहा भेदभाव
ग्रामीणों ने बताया कि खेड़ा, रसूलपुर, भोजपुरा, चडीन्दा, आरामपुरा, जाखेड़ा सहित आसपास के एक दर्जन गांवों में मनमानी अघोषित कटौती हो रही है। जिसके कारण ग्रामीणों को अंधेरे में रात बितानी पड़ रही है। जबकि कैथून नगर पालिका क्षेत्र में बिजली कटौती नहीं की जा रही। हमारे गांवों के साथ भेदभाव किया जा रहा है। ग्रामीणों ने कई बार बिजली विभाग के सहायक अभियंता को इस समस्या से अवगत कराया। लेकिन फिर भी कोई कार्यवाही नही की गई। 

कर्मचारी नहीं देते संतुष्टिपूर्ण जवाब
ग्रामीणों ने बताया कि जब बिजली विभाग के कर्मचारियों से कटौती का कारण पूछते हैं तो कोई भी कर्मचारी सन्तुष्टिपूर्ण जवाब नहीं देता। जिसके कारण ग्रामीणों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।

बिजली विभाग का करेंगे घेराव
ग्रामीणों ने बताया कि प्रतिदिन हो रही अघोषित बिजली कटौती अगर बन्द नहीं हुई व जल्द से जल्द इस व्यवस्था में सुधार नहीं किया गया तो बिजली विभाग का घेराव कर प्रदर्शन करेंगे। इसके साथ ही ग्रामीणों ने कहा कि बिजली कटौती की जा रही है तो उसकी पूर्व में सूचना देकर समय निर्धारित किया जाए।  

Read More भुगतान नहीं होने से चार दिन से थमी सिटी बसें

रात में कई बार बिजली कटौती होने से छोटे बच्चों व बुजुर्गों को गर्मी व उमस से काफी परेशानी हो रही है। लोग बीमार हो रहे हैं। शीघ्र अघोषित बिजली कटौती को बंद किया जाए। 
- जोधराज गुर्जर, ग्रामीण

Read More आखिर बार-बार खराब क्यों होती हैं सरकारी मशीनें

दिन रात अघोषित बिजली कटौती से गांव में पेयजल की समस्या आ गई है। गांव में बनी पानी की टंकी बिजली कटौती से पूरी नहीं भर पाती। जिससे घरों में नल नहीं आते। महिलाओं को घरेलू कार्य करने व पीने के पानी के लिए परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।
- अनूप मेहरा, ग्रामीण

Read More शास्त्रों का अधिक से अधिक प्रचार करें युवा विद्वान: प्रो. मुरलीकृष्ण 

भीषण गर्मी के कारण छोटे-छोटे बच्चे, बुजुर्ग व गर्भवती महिलाओं पर मौसमी बीमारियों का खतरा बढ़ गया है। लोग बीमार हो रहे हैं। इसके साथ ही लोकल फॉल्ट के चलते ट्रिपिंग से ये समस्या और विकराल हो गई है।
- प्रवीण नामा, ग्रामीण 3932

लोड शिफ्टिंग के कारण क्षेत्र में बिजली की कटौती ऊपर से ही की जा रही है।
- आशीष जौहरी, एक्सईएन, बिजली विभाग 

Post Comment

Comment List

Latest News

UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द
यूजीसी द्वारा 18 जून को करवाया गया नेट का एग्जाम परीक्षा में गड़बड़ी के चलते रद्द कर दिया गया है। ...
प्राइवेट अस्पतालों के डॉक्टर चिरंजीवी योजना को बदनाम करने से बचें: गहलोत
24000 खानों को ईसी मंजूरी का मामला : 21422 खानधारकों के दस्तावेज वेलिडेटेड, जल्द जारी होगी ईसी
Silver & Gold Price चांदी दो सौ रुपए सस्ती और सोना दो सौ रुपए महंगा
युवा विरोधी भजनलाल सरकार को सड़क से लेकर सदन में घेरेंगे: पूनिया
मोदी कैबिनेट में हुए 5 बड़े फैसले, 14 खरीफ की फसलों की एमएसपी बढ़ाई
नीट में धांधली के खिलाफ 24 जून को संसद घेराव करेगी NSUI