ढाई साल के बालक की गला दबाकर हत्या, डेढ़ माह बाद दफनाए शव को निकालकर करवाया पोस्टमार्टम

आरोपी गिरफ्तार, आरोपी भेजता रहा वीडियो और फोटो

ढाई साल के बालक की गला दबाकर हत्या,  डेढ़ माह बाद दफनाए शव को निकालकर करवाया पोस्टमार्टम

आरोपी ने बालक के परिजनों को एक्सीडेंट से मौत होना बताया तथा इस मामले में बचता रहा।

कोटा। विज्ञान नगर पुलिस ने डेढ़ महीने बाद बालक के शव को मुक्तिधाम से निकाल कर आज मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम कराया। विज्ञान नगर थाना क्षेत्र में एक ढाई वर्षीय बालक की डेढ़ महीना पहले गला दबाकर  मारपीट कर हत्या कर दी गई। इस मामले में आरोपी राहुल ने बालक के परिजनों को एक्सीडेंट से मौत होना बताया तथा इस मामले में झूठ बोलकर बचता रहा। परिजनों ने बालक के मृत शरीर को छावनी मुक्तिधाम में  दफना दिया था कुछ दिन पहले आरोपी राहुल ने बालक की मां खुशबू मेहरा को बालक के साथ मारपीट करने तथा हत्या करने के वीडियो और फोटो भेजे इस पर बालक की मां खुशबू मेहरा ने पुलिस थाना विज्ञान नगर में शुक्रवार को उसके ढाई साल के बालक की हत्या करने का मुकदमा दर्ज कराया। पुलिस ने मामले में मुकदमा दर्ज करने के बाद आरोपी राहुल को गिरफ्तार किया और पूछताछ कर रही है। पुलिस थाना अधिकारी डिप्टी एसपी योगेश शर्मा तथा एसडीएम कोटा सिटी सहित अन्य पुलिस अधिकारी आज छावनी मुक्तिधाम पहुंचे और बालक अंश मेहरा के मृत शरीर को बाहर निकाल कर मेडिकल बोर्ड से पोस्टमार्टम करवाकर लाश परिजनों को सौंप दी।

पुलिस निरीक्षक सतीश चंद्र ने बताया कि बालक की मां खुशबू ने आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करवाया जिसमें बताया कि 15 अप्रैल को आरोपी राहुल ने गला दबाकर तथा पीट-पीट कर उसके ढाई वर्षीय पुत्र की  हत्या कर दी और आरोपी ने उसके पुत्र को जेके लोन में भर्ती कर दिया तथा उसे सूचना दी के उसके पुत्र की एक्सीडेंट से मौत हो गई है। इस पर हमने विश्वास कर लिया व बच्चे के मृत शरीर को लेकर घर आ गए रात भर रखा तथा 16 अप्रैल को  सुबह उसको मुक्तिधाम में बिना पोस्टमार्टम के दफना दिया था। पीड़िता का आरोप है कि आरोपी राहुल पारीक ने बालक को अपनी दुकान के अंदर ले जाकर मारपीट की तथा उसका गला दबाया जिसका वीडियो और फोटो बनाएं और मुझको भेजता रहा । जब वह देखे   कि उसके बच्चे की एक्सीडेंट से मौत नहीं हुई है  बल्कि उसकी हत्या की गई है। उन्होंने बताया कि जनवरी महीना में आरोपी राहुल पारीक एक प्रोग्राम में पीड़ित परिवार से मिला था जहां उनकी जान पहचान हो गई थी तब से ही वह परिवार को जानता था। इस मामले में अनुसंधान किया जा रहा है।

Post Comment

Comment List

Latest News

UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द
यूजीसी द्वारा 18 जून को करवाया गया नेट का एग्जाम परीक्षा में गड़बड़ी के चलते रद्द कर दिया गया है। ...
प्राइवेट अस्पतालों के डॉक्टर चिरंजीवी योजना को बदनाम करने से बचें: गहलोत
24000 खानों को ईसी मंजूरी का मामला : 21422 खानधारकों के दस्तावेज वेलिडेटेड, जल्द जारी होगी ईसी
Silver & Gold Price चांदी दो सौ रुपए सस्ती और सोना दो सौ रुपए महंगा
युवा विरोधी भजनलाल सरकार को सड़क से लेकर सदन में घेरेंगे: पूनिया
मोदी कैबिनेट में हुए 5 बड़े फैसले, 14 खरीफ की फसलों की एमएसपी बढ़ाई
नीट में धांधली के खिलाफ 24 जून को संसद घेराव करेगी NSUI