World Environment Day : बढ़ते मरुस्थलीकरण, भूमि की बहाली और सूखे से निपटने के लिए पर्यावरण संरक्षण जरूरी- डॉ.सुभाष पहाड़िया 

World Environment Day : बढ़ते मरुस्थलीकरण, भूमि की बहाली और सूखे से निपटने के लिए पर्यावरण संरक्षण जरूरी- डॉ.सुभाष पहाड़िया 

राजेश पायलट राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय लालसोट में बुधवार को राष्ट्रीय सेवा योजना की तीनों इकाइयों, इको क्लब, स्काउट गाइड के संयुक्त तत्वावधान मे विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन किया गया।

जयपुर। राजेश पायलट राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय लालसोट में बुधवार को राष्ट्रीय सेवा योजना की तीनों इकाइयों, इको क्लब, स्काउट गाइड के संयुक्त तत्वावधान मे विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. सुभाष पहाड़िया ने कहा कि जलवायु परिवर्तन के कारण पर्यावरण असंतुलित हो गया है। बढ़ती आबादी, औद्योगीकरण, प्राकृतिक संसाधनों के अंधाधुंध इस्तेमाल से आज विश्व का तापमान चिंतित स्तर पर बढ़ रहा है। ग्लेशियर पिघल के समुद्र में पानी के स्तर को बढ़ा रहे है। पर्यावरण प्रदूषण, जलवायु परिवर्तन, ग्रीनहाउस के प्रभाव, ग्लोबल वार्मिंग, ब्लैक होल इफ़ेक्ट आदि को कम या कंट्रोल करने के लिए पर्यावरण संरक्षण की आवश्यकता है। पेड़ कटते जा रहे हैं, जिससे वन क्षेत्र कम हो रहा है। नदियों का जल भी प्रदूषित हो गया है व ग्लोबल वार्मिंग लगातार बढ़ रही है। मीथेन गैसों के साथ-साथ कोलोरोफ्लोरो कार्बन्स की भारी उपस्थिति ने ओजोन परत को बड़े पैमाने पर नष्ट कर दिया है। इसलिए  पर्यावरण संरक्षण की आवश्यकता है। पर्यावरण संरक्षण तत्काल व्यक्तिगत लाभ से परे है, जिसका उद्देश्य एक स्थायी भविष्य बनाना है जहाँ लोग स्वच्छ और सुरक्षित वातावरण में रह सकें। यह न केवल जीवन की वर्तमान गुणवत्ता में सुधार करता है बल्कि भविष्य की पीढ़ियों के लिए एक स्वस्थ दुनिया भी सुनिश्चित करता है। डॉ.पहाड़िया ने इस अवसर पर सभी को अधिक से अधिक पेड़ लगाने, कचरा नहीं फैलाने, सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग नही करने संबंधी पर्यावरण संरक्षण की हरित शपथ दिलाई। कार्यक्रम अधिकारी राम भरोसी बैरवा ने बताया कि इससे पहले स्वयंसेवकों ने महाविद्यालय परिसर में लगे परिंडों पक्षियों के लिए पानी तथा चुग्गा पात्रों में दाना डाला। साथ ही छोटे पेड़ों थावले बनाकर पानी भरा तथा खरपतवार नष्ट की। इस अवसर पर महाविद्यालय के सहायक प्रोफेसर डॉ.मोहन लाल खटीक, साक्षी मीना, कांता मीना सहित राजेश चौहान, शिव नारायण मीना, इमरान, राजेंद्र मालिया, बाबूलाल सैनी, शेरसिंह मीना, मोहन लाल सैनी एवं स्वयंसेवक छात्र छात्रा व रोवर रेंजर उपस्थित रहे।

Post Comment

Comment List

Latest News

बस स्टैंड की बजाय बाईपास से ही बस ले जाने वाले चालकों पर होगी कार्रवाई बस स्टैंड की बजाय बाईपास से ही बस ले जाने वाले चालकों पर होगी कार्रवाई
राजस्थान रोडवेज सीएमडी श्रेया गुहा ने सोमवार को रोडवेज मुख्यालय में समीक्षा बैठक ली। जिसमें सभी अधिकारी मौजूद रहे।
Jaipur Gold & Silver Price : चांदी 450 रुपए और जेवराती सोना सौ रुपए सस्ता 
ERCP का समझौता पूर्वी राजस्थान का गला घोटेगा पीने का पानी भी पूरा नहीं मिलेगा : रामकेश मीणा 
Budget 2024 : कल करेगी सीतारमण बजट पेश, सातवीं बार आम बजट पेश कर बनाएगी रिकार्ड
पाकिस्तानी सिंगर राहत फतेह अली खान गिरफ्तार
महाराणा प्रताप और सूरजमल के वंशजों को लड़ाना बंद करो:  भैराराम चौधरी
उद्योग व्यापार और एमएसएमई को राहत की उम्मीद