पुतिन यूक्रेन में कर सकते हैं परमाणु हथियारों का इस्तेमाल, जेलेंस्की ने पूरी दुनिया को दी चेतावनी

नाटो में शामिल होने के लिए जेलेंस्की समय हासिल करना चाहते है: रूस

पुतिन यूक्रेन में कर सकते हैं परमाणु हथियारों का इस्तेमाल, जेलेंस्की ने पूरी दुनिया को दी चेतावनी

कीव को हथियारों की जल्द आपूर्ति जरूरी : यूरोपीय आयोग

कीव।  यूक्रेन-रूस युद्ध के बीच यूक्रेनी राष्ट्रपति वलोडिमिर जेलेंस्की ने दुनिया को चेतावनी दी है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन द्वारा यूक्रेन में सामरिक परमाणु हथियारों का उपयोग करने की संभावना के लिए तैयार रहें। यह सूचना सीएनएन के जरिए दी। सीएनएन के साथ एक साक्षात्कार में जेलेंस्की ने कहा कि केवल मुझे ही नहीं पूरी दुनिया को सभी देशों को चिंतित होना होगा क्योंकि यह वास्तविक जानकारी नहीं हो सकती है, लेकिन यह सच हो सकती है। मीडिया आउटलेट ने उन्हें यह कहते हुए उद्धृत किया कि उन्हें रासायनिक हथियार का प्रयोग करना चाहिए, वे कर सकते हैं क्योंकि उनके लिए लोगों का जीवन कुछ भी नहीं। इसलिए। हमें सोचना चाहिए डरना नहीं चाहिए बल्कि तैयार रहना चाहिए। लेकिन यह कोई केवल यूक्रेन के लिए सवाल नहीं है, बल्कि मुझे लगता है कि पूरी दुनिया के लिए है। ऐसा इसलिए हुआ है क्योंकि अमेरिकी अधिकारियों ने चेतावनी दी है कि पुतिन यूक्रेन में सामरिक परमाणु हथियारों का उपयोग कर सकते हैं। एक कोने में वे इसका समर्थन करते हैं। मीडिया आउटलेट ने सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी (सीआईए) के निदेशक बिल बर्न्स के हवाले से कहा कि रूसी राष्ट्रपति पुतिन और रूसी नेतृत्व की संभावित हताशा को देखते हुए उन्हें अब तक सैन्य रूप से जिन असफलताओं का सामना करना पड़ा है।


 हम में से कोई भी सामरिक परमाणु हथियारों या कम क्षमता वाले परमाणु हथियारों के संभावित खतरे को हल्के में नहीं ले सकते हैं। इस बीच यूक्रेन द्वारा रूस के सैनिकों के नुकसान की तुलना करते हुए जेलेंस्की ने दावा किया कि यूक्रेनी अधिकारियों के अनुसार युद्ध में लगभग 2,500 से 3,000 यूक्रेनी सैनिक मारे गए हैं, हालांकि, रूस की हताहतों की संख्या 19,000 से 20,000 है। उन्होंने कहा कि युद्ध में लगभग 10,000 यूक्रेनी सैनिक घायल हुए हैं और यह कहना मुश्किल है कि उनमें से कितने जीवित रहेंगे। नागरिक के हताहतों पर उन्होंने कहा कि नागरिकों के बारे में बात करना बहुत मुश्किल है क्योंकि हमारे देश के दक्षिण में जहां कस्बों और शहरों को अवरुद्ध कर दिया गया है खेरसान, बर्डियांस्क, मारियुपोल आगे पूर्व में और पूर्व में वोल्नोवाखा क्षेत्र-हम नहीं जानते कि उस क्षेत्र में कितने लोग मारे गए हैं जो अवरुद्ध है। 24 फरवरी को रूस ने यूक्रेन में एक विशेष सैन्य अभियान के तहत कार्रवाई शुरू की, जिसे पश्चिम ने एक अकारण युद्ध करार दिया। इसके परिणामस्वरूप पश्चिमी देशों ने मास्को पर कई गंभीर प्रतिबंध लगाए हैं।


नाटो में शामिल होने के लिए जेलेंस्की समय हासिल करना चाहते है: रूस
मॉस्को। रूसी संसद के निचले सदन के अध्यक्ष व्याचेस्लाव वोलोदिन ने रविवार को कहा कि यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने हाल ही में क्रीमिया मुद्दे पर चर्चा करने के लिए अपनी कथित तत्परता व्यक्त की थी और नाटो में शामिल होने से इनकार किया था लेकिन इसके पीछे उनका मकसद नाटो से सैन्य सहायता के लिए कुछ समय हासिल करना था। वोलोदिन ने कहा कि जेलेंस्की ने तुर्की में वार्ता से पहले भी यही कहा था, जब रूसी सेना कीव पहुंच चुकी थी। उनके अनुसार, मॉस्को ने कीव क्षेत्र में अपनी सैन्य गतिविधियों को कम कर दिया था। अपने सैनिकों को वापस ले लिया था। जिसके बाद बुचा में सैनिकों को उकसाया गया और कीव ने समझौते को स्वीकार नहीं किया। वोलोदिन ने कहा कि आज भी स्थिति वैसी ही है। इसके पीछे कारण स्पष्ट है।

 राष्ट्रपति जेलेंस्की सैन्य सहायता के लिए नाटो की ओर रुख करते हुए समय हासिल करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि यूक्रेनी सेना पहले ही अपने 23,367 साथियों को खो चुकी है और मारियुपोल में शनिवार को 1,464 यूक्रेनी सैनिकों ने आत्मसमर्पण किया। उन्होंने कहा कि अगर वह (जेलेंस्की) अपने नागरिकों की हित चाहते हैं, तो यूक्रेन को डोनेट्स्क और लुहान्स्क गणराज्यों से अपने सैनिकों को वापस लेना चाहिए और क्रीमिया पर रूस की संप्रभुता को ध्यान में रखना चाहिए। इसके अलावा नाटो में शामिल नहीं होने के लिए प्रतिबद्ध होना चाहिए।

कीव को हथियारों की जल्द आपूर्ति जरूरी : यूरोपीय आयोग
यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने यूक्रेन में रूस के चल रहे विशेष सैन्य अभियान के बीच यूरोपीय संघ (ईयू) के देशों से यूक्रेन को जल्द से जल्द और अधिक हथियारों की आपूर्ति करने का आह्वान किया है।  लेयेन ने रविवार को प्रकाशित जर्मन बिल्ड एम सोनटैग अखबार के साथ एक साक्षात्कार में कहा कि सभी सदस्य राज्यों को यूक्रेन को यथाशीघ्र हथियार  मुहैया कराना चाहिए, तभी वह रूस के खिलाफ अपने रक्षात्मक संघर्ष में बच सकता है। यूक्रेन संघर्ष को समाप्त करने में मदद के लिए हर संभव प्रयास करने की आवश्यकता है, हालांकि युद्ध सबसे खराब स्थिति में महीनों या वर्षों तक चल सकता है। लेयेन ने कहा कि यूक्रेन को वह देने की जरूरत है जो उसे अपनी रक्षा के लिए चाहिए और जो वह संभाल सकता है।इस महीने की शुरुआत में लेयेन के साथ कीव की अपनी यात्रा के बाद, ईयू की विदेश नीति के प्रमुख जोसेप बोरेल ने कीव को और सैन्य सहायता प्रदान करने की ईयू की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए कहा कि यूक्रेन में संघर्ष युद्ध के मैदान में जीता जाएगा।

 उल्लेखनीय है कि अमेरिका में रूसी राजदूत अनातोली एंटोनोव ने चेतावनी दी है कि पश्चिम से यूक्रेन में संघर्ष क्षेत्र में हथियारों का निरंतर प्रवाह आग में ईंधन डाल रहा है। उन्होंने कहा कि यूक्रेन को मिल रही घातक सैन्य आपूर्ति को रोकना महत्वपूर्ण है। रूस ने यह भी चेतावनी दी है कि पश्चिम द्वारा कीव को जो हथियार दिए जाते हैं, वे ईयू में कहीं भी आतंकवादियों के हाथ लग सकते हैं।

Post Comment

Comment List

Latest News

फ्लोरिडा के इतिहास में इयान सबसे घातक हो सकता है : बाइडेन फ्लोरिडा के इतिहास में इयान सबसे घातक हो सकता है : बाइडेन
बाइडेन ने वाशिंगटन डीसी में संघीय आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी मुख्यालय की यात्रा के दौरान इयान का जिक्र करते हुए कहा...
मल्लिकार्जुन खड़गे, शशि थरुर और के एन त्रिपाठी ने भरा नामांकन, दिग्विजय हुए रेस से बाहर
नारायण बारेठ का कार्यकाल समाप्त, किया 7 हजार से ज्यादा मामलों का निस्तारण
उद्योग मंत्री ने की इन्वेस्ट राजस्थान क्विज के विजेताओं की घोषणा
ताइवान के बेड़े में शामिल हुआ नया युद्धपोत
शेयर बाजार 1.5 प्रतिशत की तेजी के साथ हुआ बंद 
तमिलनाडु में फटा गैस सिलेंडर, 3 की मौत