यूएई में मंदिर पर मुस्लिम कट्टरपंथी नाराज

दशहरे पर खुलेंगे मंदिर के दरवाजे, 16 देवी-देवताओं से आशीर्वाद लेंगे श्रद्धालु

यूएई में मंदिर पर मुस्लिम कट्टरपंथी नाराज

मंदिर को दो चरणों में खोला जाएगा। पहले चरण में जनता के लिए सिर्फ पूजा स्थल खोलेंगे। मंदिर समिति के सदस्य अशोक कुमार डब्ल्यू ओधरानी ने कहा कि दूसरा चरण 14 जनवरी से शुरू होगा, मकर संक्रांति के दिन, जब ज्ञान कक्ष और सामुदायिक सेंटर को खोला जाएगा।

दुबई। संयुक्त अरब अमीरात के दुबई शहर में बन रहे भव्य हिंदू मंदिर पर सोशल मीडिया में महाभारत शुरू हो गई है। दुबई के इस आलीशान मंदिर में 16 देवी-देवताओं की मूर्तियों को रखा जाएगा। इस मंदिर का 4 अक्टूबर को शानदार तरीके से अनावरण किया जाएगा। मुस्लिम देश यूएई में हिंदू मंदिर बनने की खबर सोशल मीडिया में आने के बाद घमासान मच गया है और कट्टरपंथी इसका जमकर विरोध कर रहे हैं। वहीं हिंदू समुदाय के लोग यूएई के इस कदम की तारीफ कर रहे हैं। खलीज टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक दशहरा के दिन 5 अक्टूबर को इस मंदिर को दुनिया के लिए खोल दिया जाएगा। सिंधु गुरु दरबार मंदिर के एक ट्रस्टी राजू श्राफ ने इसकी पुष्टि की है। इस मंदिर को दुबई के जेबेल अली इलाके में बनाया जा रहा है। इसी इलाके में एक सिख गुरुद्वारा और कई चर्च भी मौजूद हैं। इस मंदिर के अनावरण के दौरान यूएई सरकार के अधिकारी और विशिष्ट अतिथि मौजूद रहेंगे। इस मंदिर में शादी, हवन और अन्य निजी कार्यक्रम आयोजित किए जा सकेंगे।
यह मंदिर काफी बड़ा है और एक बार में 1000 से लेकर 1200 भक्त मंदिर में पूजा कर सकेंगे। इस मंदिर की तस्वीरों को ट्विटर पर यूएई के रहने वाले हसन सजवानी ने शेयर की हैं। 

भारत में मस्जिद नष्ट कर रहे हैं
तस्वीरों के सामने आने के बाद जहां हिंदू इसकी जमकर तारीफ कर रहे हैं, वहीं कट्टरपंथी भड़के हुए हैं। फैसल खान ने लिखा कि बीजेपी के अतिवादी हिंदू भारत में मस्जिद को नष्ट कर रहे हैं और यूएई के लोग देश में हिंदूओं के लिए मंदिर बना रहे हो। आपके राजा को कितने पैसे की जरूरत है। बिजनस हित इसके पीछे है। कई और लोगों ने मुस्लिम देश यूएई में हिंदू मंदिर बनाने का विरोध किया है। वहीं एक बहुत बड़ी तादाद ऐसे लोगों की है जिन्होंने यूएई के कदम की जमकर तारीफ की है। यूएई के रहने वाले हसन सजवानी के ट्वीट को अब तक 5 हजार से ज्यादा बार रीट्वीट किया जा चुका है और करीब 28 हजार लोगों ने लाइक किया है। इस ट्वीट पर कॉमेंट करने वाले आफताब ने लिखा, अविश्वसनीय लेकिन वास्तविकता। यूएई लोगों के दिलों को जीतने के मामले में उभरता हुआ सितारा है।

दो चरण में खुलेगा मंदिर
मंदिर को दो चरणों में खोला जाएगा। पहले चरण में जनता के लिए सिर्फ पूजा स्थल खोलेंगे। मंदिर समिति के सदस्य अशोक कुमार डब्ल्यू ओधरानी ने कहा कि दूसरा चरण 14 जनवरी से शुरू होगा, मकर संक्रांति के दिन, जब ज्ञान कक्ष और सामुदायिक सेंटर को खोला जाएगा। इसके अलावा मंदिर में आने वाले श्रद्धालु शादी समारोह, हवन और निजी कार्यक्रम भी आयोजित कर सकते हैं। ओधरानी ने कहा कि मंदिर में 1000 से 1200 श्रद्धालुओं की क्षमता है लेकिन हिंदू त्योहारों के दौरान इनकी संख्या बहुत अधिक होने की संभावना है।

मनाएं जाएंगे दिवाली-नवरात्र जैसे त्योहार
कोविड-19 के बीच मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, मंदिर के अधिकारियों ने एक क्यूआर-कोड आधारित स्लॉट बुकिंग सिस्टम बनाया है। श्रॉफ ने बताया कि हिन्दूटेम्पलदूबईडॉटकॉम से क्यूआर कोड प्राप्त कर सकते हैं। मंदिर सुबह 6 से रात 9 बजे तक खुला रहेगा। उन्होंने कहा कि लोग अपने दिए गए स्लॉट पर मंदिर आ सकते हैं। यह कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए हमारे तैयारी प्रोटोकॉल का हिस्सा है। खुलने के बाद मंदिर में दिवाली और नवरात्रि जैसे त्योहार बड़े पैमाने पर आयोजित किए जाएंगे।

Post Comment

Comment List

Latest News