राजस्थान विवि छात्रसंघ चुनाव: बुधवार से लागू होगी आचार संहिता, उल्लंघन करने पर होगी सख्त कार्रवाई

उम्मीदवारी खत्म करने के साथ ही एक साल के लिए प्रतिबंध लगाने का प्रावधान

राजस्थान विवि छात्रसंघ चुनाव: बुधवार से लागू होगी आचार संहिता, उल्लंघन करने पर होगी सख्त कार्रवाई

राजस्थान विश्वविद्यालय में चुनाव कार्य को अंजाम देने में व्यस्त उच्च अधिकारियों में परस्पर सामंजस्य की कमी है। यही वजह रही कि मंगलवार को विवि ने कोड ऑफ कंडक्ट लागू नहीं किया।

जयपुर। प्रदेश में छात्रसंघ चुनाव 26 अगस्त को होंगे। इसके बाद 27 अगस्त को मतगणना और जीते हुए प्रत्याशियों की शपथ होगी। लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों के अनुसार छात्रसंघ चुनाव से 10 दिन पहले आचार संहिता बुधवार को लग जाएगी। आचार संहिता का सख्ती से पालन करवाने के लिए राजस्थान यूनिवर्सिटी प्रशासन और डीएसडब्ल्यू कार्यालय ने तैयारियां पूरी कर ली है। आचार संहिता का उल्लंघन करने वाले छात्र नेताओं पर सख्त कार्रवाई की योजना है। आचार संहिता लागू होने पर अब आरयू में ना तो प्रवेश प्रक्रिया को आगे बढ़ाया जाएगा और एडमिशन की सूची जारी होगी। चुनाव लड़ने के लिए तैयारी कर रहे छात्र नेताओं ने आचार संहिता का उल्लंघन किया तो उन पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई हो सकती है। 

कैम्पस को साफ रखने की छात्र नेताओं से होगी अपील 
राजस्थान यूनिवर्सिटी में बुधवार सुबह अधिसूचना जारी होने के साथ ही लिंगदोह कमेटी की सिफारिशें लागू हो जाएंगी। इसके अनुसार राविवि प्रशासन की लॉ एण्ड ऑर्डर की जो कमेटियां हैं वे राविवि में लगातार नजर रखेंगी और नियमों का उल्लंघन करने वाले छात्र नेताओं पर कार्रवाई करेगी। इसमें चेतावनी देने, उम्मीदवारी खत्म करने के साथ ही एक साल के लिए प्रतिबंध लगाने का प्रावधान है। इसके साथ ही कैम्पस को साफ रखने के लिए भी छात्र नेताओं से अपील की जाएगी। चुनाव खर्च पांच हजार की सीमा है, जिसका पालन करने की अपील भी की जाएगी।

डीएसडब्ल्यू करती रही इंतजार, मुख्य चुनाव अधिकारी ने जारी नहीं किया नोटिफिकेशन
राजस्थान विश्वविद्यालय में चुनाव कार्य को अंजाम देने में व्यस्त उच्च अधिकारियों में परस्पर सामंजस्य की कमी है। यही वजह रही कि मंगलवार को विवि ने कोड ऑफ कंडक्ट लागू नहीं किया। विवि में डीएसडब्ल्यू मुख्य चुनाव अधिकारी की ओर से नोटिफिकेशन जारी करने के इंतजार में रही, लेकिन नोटिफिकेशन जारी नहीं हुआ। अब बुधवार को जारी होगा। 

Read More महात्मा गांधी स्कूलों में खिलेंगी अब बाल वाटिकाएं

इन पर भी रहेगी रोक 
कोड ऑफ कंडक्ट लागू होने के बाद छात्रनेता विवि और कॉलेज परिसरों में न तो रैलियां निकाल पाएंगे और न ही सभाएं कर सकेंगे। पोस्टर बैनर पर भी पाबंदी रहेगी। विवि में अनाधिकृत वाहनों को प्रवेश नहीं मिलेगा। कैम्पस में अब छात्रनेता गुट बनाकर भी नहीं घूम सकेंगे। व्यक्तिगत रूप से अपना चुनावी प्रचार कर सकेंगे।

शुरू होगा तलाशी अभियान
आचार संहिता लागू होने के बाद नियमों के मुताबिक विवि के मुख्य द्वार पर टैंट लगाया जाएगा, जहां पुलिस जाब्ते के साथ विवि का प्रोक्टर बोर्ड तैनात रहेगा। इसके साथ विवि प्रशासन की ओर से हॉस्टल्स में तलाशी अभियान चलाकर बाहरी छात्र-छात्राओं को तलाश कर बाहर निकाला जाएगा।

18 अगस्त को होगा मतदाता सूची का प्रकाशन
18 अगस्त को मतदाता सूचियों को प्रकाशन होगा। सभी विभागों कॉलेजों में मतदाताओं की सूचियां लगेंगी। इनमें छात्र -छात्राएं अपना नाम देख सकेंगे। उम्मीदवार नामांकन पत्र 22 अगस्त को सुबह 10 से दोपहर 3 बजे तक भर सकेंगे, जबकि नाम वापस लेने की आखिरी तारीख 23 अगस्त है। उम्मीदवारों की अंतिम सूची का प्रकाशन इसी दिन शाम 5 बजे होगा। 26 अगस्त को छात्रसंघ चुनाव के लिए वोटिंग होगी और 27 अगस्त को मतगणना के बाद परिणाम जारी होगा। इसके बाद विजयी उम्मीदवार शपथ ग्रहण करेंगे।

इस बार कॉमर्स कॉलेज में होगी मतगणना
जयपुर। राजस्थान में छात्रसंघ चुनावों का बिगुल बज चुका है। 26 अगस्त को छात्रसंघ चुनाव के मतदान के बाद 27 अगस्त को मतगणना में आरयू को नई छात्र कार्यकारिणी मिल जाएगी। कई दशक से छात्रसंघ चुनावों की मतदान प्रक्रिया पूरी होने के बाद राजस्थान यूनिवर्सिटी के मानविकी पीठ सभागार में मतगणना होती थी, लेकिन राजस्थान यूनिवर्सिटी प्रशासन ने इस बार कॉमर्स कॉलेज के मुख्य हॉल में मतगणना स्थल बनाने का फैसला लिया है। अब 27 को मतगणना यहीं होगी। आरयू डीएसडब्ल्यू के अनुसार राविवि के मानविकी पीठ में हर साल मतगणना की जाती थी, लेकिन अब इस मानविकी पीठ को थियेटर का रूप दे दिया गया है। अपेक्स पदों पर करीब 20 हजार से ज्यादा वोटर पंजीकृत हैं। ऐसे में इतनी बड़ी संख्या में मतपत्रों की गणना के लिए पर्याप्त स्थान नहीं मिल पा रहा था।

Read More कलम का कुआ गांव में नवजीवन योजना के बाद नहीं हुआ विकास कार्य

Post Comment

Comment List

Latest News