बिहार: कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह को लेकर मच रहा बवाल

कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह पर दर्ज है अपहरण का मामला

बिहार: कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह को लेकर मच रहा बवाल

साल 2014 में कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह पर पटना के बिहटा थाने में अपहरण का मामला दर्ज हुआ था और एक बिल्डर की हत्या करने के इरादे से अपहरण की साजिश का भी आरोप है। इस मामले में चार्जशीट फाइल हो चुकी है। कार्तिकेय के खिलाफ 14 जुलाई 2022 को वारंट जारी हुआ था और 16 अगस्त 2022 को उन्हें सरेंडर करना था।

पटना। इन दिनों बिहार सरकार काफी चर्चा में है। तेजस्वी के साथ सरकार बनाने के बाद अब एक और मामला चर्चा का केन्द्र बना हुआ है। कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह को लेकर एक खुलासा हुआ जिसके बाद से बिहार की राजनीति में खलबली मची हुई है। दरअसल मंत्री कार्तिकेय सिंह पर अपहरण का एक केस चल रहा है जिसमें मंगलवार को दानापुर कोर्ट में उन्हें सरेंडर करना था लेकिन कार्तिकेय ने राजभवन जाकर शपथ ले ली।इस मामले पर कार्तिकेय सिंह का कहना है कि उनके खिलाफ कोई वारंट नहीं है और उन्होंने हलफनामे में सारी जानकारी दी है। गौरतलब है कि कार्तिकेय सिंह आरजेडी कोटे से मंत्री बने है। वह आरजेडी से एमएलसी हैं।

2014 में हुआ था मामला दर्ज

साल 2014 में कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह पर पटना के बिहटा थाने में अपहरण का मामला दर्ज हुआ था और एक बिल्डर की हत्या करने के इरादे से अपहरण की साजिश का भी आरोप है। इस मामले में चार्जशीट फाइल हो चुकी है। कार्तिकेय के खिलाफ 14 जुलाई 2022 को वारंट जारी हुआ था और 16 अगस्त 2022 को उन्हें सरेंडर करना था।

Read More मोदी ने की घोषणा, भगत सिंह के नाम पर होगा चंडीगढ़ एयरपोर्ट नाम

Tags: JDU RJD bihar

Post Comment

Comment List

Latest News