आबादी पर मंडरा रहा मौत का खतरा, कब चेतेगा बिजली विभाग ?

लटकते हाईटेंशन लाइन के टूटने का बना रहता है खतरा

आबादी पर मंडरा रहा मौत का खतरा, कब चेतेगा बिजली विभाग ?

बिजली के तारों का रखरखाव न होने से ग्रामीणों की जान जोखिम में ।

अरनेठा। अरनेठा कस्बा सहित आसपास के इलाकों में लटकते हाईटेंशन तारों से ग्रामीणों की जान जोखिम में है। तेज हवा और अंधड़ के कारण ये तार कभी भी टूट कर गिरने पर जान लेवा बन सकते है। इसके बावजूद बिजली विभाग इस ओर ध्यान नहीं दे रहा। दिलचस्प बात यह है कि वर्तमान में अरनेठा और आसपास के गांवों में इन दिनों सुबह दस बजे से शाम छह बजे तक बिजली की कटौती चल रही है। अगर विभाग इस समय अवधि में झूलते तारों और बिजली संबंधी काम का मेंटेनेंस कर दे तो ग्रामीणों की जान को खतरा नहीं रहेगा। गौरतलब है कि पिछले 9 दिनों से समय सुबह 10:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक गेहूं की फसल कटाई को लेकर गांवों में चल रही बिजली कटौती से ग्रामीण आहत है। बिजली कटौती के दौरान विभाग से बिजली रख रखाव और मरम्मत के अन्य कार्य भी कराने की मांग की हैं ताकि भीषण गर्मी आने पर आमजन और विद्युत कार्मिकों को इस कार्य से असुविधा न हो । 

दिनभर बिजली कटौती से धंधे हो रहे चौपट
बिजली कटौती से आमजन एवं व्यावसायिक गतिविधियों वालों को भारी असुविधा हो रही है। उनके छोटे-मोटे धंधे चौपट हो रहे हैं लेकिन किसानों की गेहूं फसल कटाई होने के कारण त्याग की भावना रखते हुए इस विद्युत कटौती को स्वीकार कर रहे हैं । वहीं कस्बे के आम नागरिक को कहना है विभाग को इस विद्युत कटौती के साथ-साथ गली मोहल्ले ,गांव खेत ,खलियानों में विद्युत संबंधित कार्य को लेकर विशेष अभियान चलाया जाना चाहिए ताकि भीषण गर्मी आने पर विभाग को किसी प्रकार की विद्युत कटौती नहीं करनी पड़े।  ग्रामीणों का कहना है विभाग स्वविवेक से निरीक्षण करवाए। झूलते तारों ,टेढ़े मेढ़े विद्युत पोलों,बिजली तारों को छूती पेड़ पौधों की टहनियां, विद्युत के छोटे ग्रेड या ट्रांसफार्मर जहां मोर विद्युत तारों के संपर्क में आकर मर जाते हैं । बिजली विभाग द्वारा निरीक्षण करवा कर उचित कदम  उठाकर दोहरा कार्य करवा ले । ताकि अंधड़ आदि आने पर विद्युत लाइने कम प्रभावित हो और आमजन भी परेशान न हो । 

क्या बोले ग्रामीण
गांव में अनेक जगह विद्युत ट्रांसफार्मर लगे हुए हैं उनके पास पेड़ पौधे हैं। जगह-जगह हाईटेंशन के तार लटक रहे है। तेज हवा चलने पर तार टूटने से जनहानि का खतरा बना रहता है। अभी फसल कटाई को लेकर विद्युत कटौती भी चल रही है। उसके साथ-साथ विद्युत मरम्मत कार्य को भी करवा लेना चाहिए। 
- भोला शंकर रावल, अरनेठा 

कस्बे के गोल चौराहा, पटवार मंडल, गणेश पूरा बस्ती छोटा तालाब, मनसा पूर्ण गणेश जी मंदिर आदि अनेक स्थानों पर जहां विद्युत लाइनों के संपर्क में आने से आए दिन राष्ट्रीय पक्षी मोरों की मौत हो रही है। इन स्थानों पर उचित प्रबंध कर मोरों की होने वाली मौतों में कमी की जा सकती है। 
- वीरेंद्र सुमन, अरनेठा 

Read More Gehlot's Appeal : 25-26 को तेज गर्मी में लोग घरों से निकलने से बचें

गोल चौराहा के पास विद्युत डीपी लगी हुई है जिस पर राष्ट्रीय पक्षी मोर आकर बैठते रहते हैं। इस दौरान तेज धमाके की आवाज के साथ नीचे गिर जाते हैं और करंट से जल कर मर जाते हैं। ऐसा अनेक बार हो गया है। विभाग अभी विद्युत कटौती के साथ-साथ मोरों के बचाव को लेकर विशेष प्रयास किए जा सकते है।
- राजेंद्र मेघवाल, अरनेठा 

Read More गोदरेज इंटेरियो के 2 नए स्टोर खुले, देश के उत्तरी क्षेत्र के रिटेल बाजारों में अपनी मौजूदगी को किया और मजबूत

दिन भर लाइट बंद रहने से लोग परेशान रहते है। फसल कटाई के कारण ऐसा हो रहा है विद्युत विभाग इस दौरान सूझबूझ से अन्य विद्युत रखरखाव मरमत कार्य करवा ले ताकि भीषण गर्मी में आमजन को इस प्रकार की परेशानी नहीं हो।
- भारत वैष्णव, अरनेठा

Read More आने वाले मानसून में पौधारोपन को जन अभियान के रूप में लें- अतिरिक्त मुख्य सचिव वन विभाग

अरनेठा कस्बे में एक अप्रैल से विद्युत कटौती चल रही है। क्षेत्र में अन्य जगह भी कटौती चल रही होगी। ऐसे में अरनेठा, माधोराजपूरा, चितावा, सुनगर, भीया, रडी, चड़ी , सारसला, अणदपूरा,श्रीपुरा,जलोदा ,जैस्थल करवाला ,करवाला की झोपड़ियां चरडाना आदि अरनेठा क्षेत्र के गांव में घरों के आसपास और लटकते हुए तारों को भी सही करवाना चाहिए ताकि भीषण गर्मी आने पर आमजन को किसी प्रकार की परेशानी का सामना ना करना पड़े।
- पारी बाई माली, अरनेठा 

इनका कहना है
बिजली कटौती के साथ- साथ  बिजली रखरखाव  पर ग्रामीणों का अच्छा सुझाव है। अभी बिलिंग कार्य चल रहा हैं एक या दो दिन में कार्मिक फ्री हो जाएंगे। उसके बाद इनको मेंटेनेंस कार्य में लगवा देंगे।
- मेघराज नागर, एईएन बिजली  विभाग, केशवराय पाटन

Post Comment

Comment List

Latest News