FSL ने जली हुई हड्डियों और आरोपियों के कपड़ों से डीएनए मिलान कर बताया रेप के बाद की थी हत्या

आरोपियों को फांसी की सजा में एफएसएल की रिपोर्ट बनी अहम साक्ष्य, निदेशक समेत 4 अधिकारियों की टीम ने क्राइम सीन किया था रीक्रिएट

FSL ने जली हुई हड्डियों और आरोपियों के कपड़ों से डीएनए मिलान कर बताया रेप के बाद की थी हत्या

एफएसएल ने रेयर ऑफ द रेयरिस्ट साक्ष्य की जांच कर दी रिपोर्ट

जयपुर। भीलवाड़ा के बहुचर्चित कोटड़ी भट्टी कांड मामले में मुख्य दो आरोपी कालू और कान्हा को फांसी की सजा दिलाने में एफएसएल की चार सबूतों की रिपोर्ट अहम किरदार बनी है। मौके से कठिन साक्ष्यों को जुटाकर जांच के बाद तैयार की गई रिपोर्ट से तय हुआ आरोपियों ने किस दरिंदगी से नाबालिग को मौत के घाट उतारा था। इस केस के लिए सरकार ने एफएसएल निदेशक डॉ. अजय शर्मा के नेतृत्व में चार बड़े अधिकारियों की एक विशेष टीम बनाई। इस टीम ने क्राइम सीन रीक्रिएट किया और जुटाए साक्ष्यों के आधार पर रिपोर्ट तैयार की। 

लापता नाबालिग मृतका के बारे में कैसे पता लगाया किसकी बेटी है? 
एफएसएल ने भट्टी से निकाली लाश की जली हुई हड्डियों से डीएनए सैम्पल लिए। इसके बाद लापता किशोरी की मां और पिता के डीएनए सैम्पल लेकर जांच की तो इन सभी के डीएनए मैच कर गए। इससे साबित हुआ कि लापता किशोरी को ही भट्टी में डालकर जलाया था।

जली हुई हड्डियों से रेप कैसे साबित किया?
एफएसएल ने जली हुई हड्डियों से डीएनए प्रोफाइल निकाली थी। इसके बाद आरोपियों के कपड़ों से डीएएन लिया गया। इसके अलावा आरोपियों के प्यूबिक एरिया (यूरेथल स्वाब) लिया गया। पीड़िता के गुप्तांग का स्त्राव आरोपियों के अंडरगारमेंट पर मिला। इन सबकी जांच से प्रूव हुआ कि आरोपियों ने नाबालिग के साथ रेप किया था।

पीड़िता की मौत कैसे हुई?
आरोपी कालू और कान्हा ने नाबालिग को मरा हुआ समझकर भट्टी में डालकर जला दिया था। एफएसएल की जांच में नाबालिग मृतका के फेंफड़ों में कार्बन मोनो ऑक्साइड की मौजूदगी मिली। फेंफड़ों में कार्बन मोनो ऑक्साइड की मौजूदगी से तय होता है कि जिंदा जलाया गया था। 

Read More दिलावर के बयान पर भड़के डोटासरा, प्राइवेट स्कूलों के सेल्समैन बनकर घूम रहे दिलावर

नाबालिग को जलाया कैसे?
पुलिस को मौके से लकड़ियां काटने की मशीन मिली। वह मशीन तेल से चलाई जाती है। पुलिस के जब्त पीपे से तेल के सैम्पल लिए। इसके अलावा भट्टी में रखे कोयलों से तेल के सैम्पल जुटाए। इन दोनों सैम्पल की जांच की तो पता चला कि दोनों सैम्पल एक ही हैं। इस तरह खुलासा हुआ कि इसी तेल को डालकर नाबालिग को जलाया था।

Read More NEET Exam निरस्त करने की मांग पर AAP ने किया प्रदर्शन

विशेष टीम का किया गठन रीक्रिएट था किया सीन
नाबालिग का रेप कर भट्टी में जलाकर हत्या करने के मामले में सरकार की ओर से एफएसएल निदेशक डॉ. अजय शर्मा के नेतृत्व में एक विशेष टीम का गठन किया गया। टीम में डॉ. राजेश सिंह उप निदेशक, डॉ. राकेश रोशन शर्मा सहायक निदेशक अजमेर और राजवीर अतिरिक्त निदेशक अजमेर को शामिल किया। इन सभी ने पूरी घटना का सीन रीक्रिएट किया और साक्ष्य जुटाए। 

Read More मोबाइल ओटीपी से राशन लेने का खेल होगा खत्म

Post Comment

Comment List

Latest News

UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द UGC NET Exam : 18 जून को हुआ पेपर गड़बड़ी के चलते रद्द
यूजीसी द्वारा 18 जून को करवाया गया नेट का एग्जाम परीक्षा में गड़बड़ी के चलते रद्द कर दिया गया है। ...
प्राइवेट अस्पतालों के डॉक्टर चिरंजीवी योजना को बदनाम करने से बचें: गहलोत
24000 खानों को ईसी मंजूरी का मामला : 21422 खानधारकों के दस्तावेज वेलिडेटेड, जल्द जारी होगी ईसी
Silver & Gold Price चांदी दो सौ रुपए सस्ती और सोना दो सौ रुपए महंगा
युवा विरोधी भजनलाल सरकार को सड़क से लेकर सदन में घेरेंगे: पूनिया
मोदी कैबिनेट में हुए 5 बड़े फैसले, 14 खरीफ की फसलों की एमएसपी बढ़ाई
नीट में धांधली के खिलाफ 24 जून को संसद घेराव करेगी NSUI