पारस्परिक कौशल का हुनर न्यू एज मैनेजर्स के लिए जरूरी: वीसी अल्पना कटेजा

पारस्परिक कौशल का हुनर न्यू एज मैनेजर्स के लिए जरूरी: वीसी अल्पना कटेजा

कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि रहे पूर्व आई एफ एस अफसर तथा संस्थान के 1978 बैच के गोल्ड मेडलिस्ट गौरी शंकर गुप्ता तथा पोद्दार संस्थान के एलुमनी एसोसिएशन के वाइस प्रेसिडेंट डॉ अनुबंध रॉय रहे।

जयपुर। आर ए पोद्दार प्रबंधन संस्थान में गोल्डन जुबिली बैच के ओरियंटेशन कार्यक्रम आज सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता राजस्थान विश्वविद्यालय की कुलपति अल्पना कटेजा द्वारा की गई । कार्यक्रम में विशिष्ठ अतिथि रहे पूर्व आई एफ एस अफसर तथा संस्थान के 1978 बैच के गोल्ड मेडलिस्ट गौरी शंकर गुप्ता तथा पोद्दार संस्थान के एलुमनी एसोसिएशन के वाइस प्रेसिडेंट डॉ अनुबंध रॉय रहे।

संस्थान के डीन प्रोफेसर प्रदीप शर्मा ने अतिथियों का और नए बैच का स्वागत किया और कहा की संस्थान के पचास वर्ष के बैच को संबोधित करते हुए उन्हें अपार हर्ष हो रहा है। प्रदीप शर्मा ने यह भी कहा की हाल ही में उनकी अध्यक्षता में इंडस्ट्री की डिमांड और बदलते समय के अनुसार नया सिलेबस लागु किया है, जो मैनेजमेंट स्टूडेंट्स के स्किल डेवलपमेंट के लिए मील का पत्थर साबित होगा।

गौरी शंकर ने विद्यार्थियों को इस नई यात्रा की शुरुआत के लिए शुभकामनाएं प्रेषित की तथा डिसिप्लिन लाइफ के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा मैनेजमेंट प्रोफेशनल्स होने के नाते न सिर्फ प्रोफेशनल दक्षता होनी जरूरी है, बल्कि लाइफ स्किल मैनेजमेंट भी उतना ही जरूरी है।
राजस्थान यूनिवर्सिटी की वाइस चांसलर प्रोफेसर अल्पना कटेजा ने इंटरपर्सिनल स्किल्स को डेवलप करने पर जोर दिया साथ ही कहा, की संस्थान के गोल्डन बैच के लिए शीघ्र ही एक रोड मैप तैयार किया जायेगा जो आगे तक संस्थान के विद्यार्थियों के लिए एक मिसाल बनेगा।

Post Comment

Comment List

Latest News

सतर्कता से आम नागरिक बन सकता है देश का प्रथम सिपाही : दवे सतर्कता से आम नागरिक बन सकता है देश का प्रथम सिपाही : दवे
यह यात्रा जयपुर से होकर यह श्रीगंगानगर, अमृतसर, जम्मू और कश्मीर होते हुए द्रास कारगिल पहुंचकर सम्पन्न होगी। 
शातिर ई-रिक्शा चोर गिरफ्तार
BJP विधायक का सरकार के खिलाफ संदेश, यूपी में हलचल
जमीनी विवाद में रिश्तेदार की हत्या करने वाले बुजुर्ग को आजीवन कारावास
चुनावी रैली के दौरान फायरिंग में डोनाल्ड ट्रंप घायल, शूटर सहित एक दर्शक की मौत 
विकास में नहीं छोड़ेंगे कोई कसर, प्राथमिकता से कराएं जाएंगे कार्य- रामबिलास मीना
शिक्षा में नवाचार : यूजी की पढ़ाई के साथ मिलेगी स्किल शिक्षा की ट्रेनिंग