80 वर्ष बाद ऐसी बारिश, दक्षिणकोरिया में पानी से लबालब

र पड़ोसी राज्यों में बिजली गुल हो गई

80 वर्ष बाद ऐसी बारिश, दक्षिणकोरिया में पानी से लबालब

मूसलाधार बारिश होने के कारण घरों, वाहनों, इमारतों और मेट्रो स्टेशनों में बाढ़ का अर्लट जारी किया गया है। राजधानी के पश्चिमी बंदरगाह शहर इंचियोन और ग्योंगगी प्रांत के सियोल के कुछ हिस्सों में वर्ष 1942 के बाद रात 100 मिमी प्रति घंटे से अधिक की भारी बारिश हुई।

सोल। दक्षिण कोरिया के सोल के कुछ इलाकों में 80 वर्षो के बाद हुई भीषण बारिश के कारण आई भयावह बाढ़ में कम से कम 8 लोगों की मौत हो गई है। 6 छह लापता  गए हैं और अन्य 14 घायल हो गए हैं। आसपास के क्षेत्रों में लगातार भारी बारिश हो रही है, जिससे सड़कों पर पानी भर गया, मेट्रो स्टेशनों में पानी भर गया और शहर और पड़ोसी राज्यों में बिजली गुल हो गई है। मौसम विभाग ने  कहा कि कुछ क्षेत्रों में पिछले 80 वर्षों में यह सबसे ज्यादा बारिश हुई है। विभाग का अनुमान है कि बारिश कई दिनों तक जारी रह सकती है। मूसलाधार बारिश होने के कारण घरों, वाहनों, इमारतों और मेट्रो स्टेशनों में बाढ़ का अर्लट जारी किया गया है। राजधानी के पश्चिमी बंदरगाह शहर इंचियोन और ग्योंगगी प्रांत के सियोल के कुछ हिस्सों में वर्ष 1942 के बाद रात 100 मिमी प्रति घंटे से अधिक की भारी बारिश हुई। सोल के डोंगजाक जिले में प्रति घंटे वर्षा एक बिंदु पर 141.5 मिमी को पार कर गई, जो प्रति घंटे अब तक का सबसे अधिक बारिश रिकॉर्ड है। मौसम विज्ञान प्रशासन ने कहा कि गुरुवार तक राजधानी सोल के क्षेत्र में 300 मिमी और बारिश होने का अनुमान है, दक्षिणी ग्योंगगी प्रांत में 350 मिमी से अधिक बारिश हो सकती है। सरकार के अनुसार, मंगलवार सुबह 11 बजे तक सोल में बारिश से पांच लोगों की मौत हो गई और चार अन्य लापता हो गए, जबकि ग्योंगगी प्रांत में तीन की मौत हो गई और दो अन्य लापता हो गए।

तस्वीरों में देखा जा सकता है कि बाढ़ का पानी मेट्रो की सीढ़ियों से नीचे उतर रहा है, खड़ी कारें अपनी खिड़कियों तक डूबी हुई हैं और लोग घुटनों तक पानी में सड़कों पर अपना रास्ता बना रहे हैं।  स्थानीय रिपोर्टों में कहा गया है कि तीन पीड़ित - दो बहनें, जो लगभग चालीस वर्ष की है और एक 13 वर्षीय लड़की-एक अर्ध-तहखाने वाले अपार्टमेंट में रह रही थीं, जिसे बंजीहा कहा जाता है। बीबीसी ने कहा कि इन अपार्टमेंटों को आॅस्कर विजेता दक्षिण कोरियाई फिल्म पैरासाइट में प्रदर्शित होने के बाद प्रमुखता मिली थी, जिसमें इस तरह के एक अपार्टमेंट में एक गरीब परिवार की कहानी को दिखाया गया है कि किस तरह दो वक्त की रोटी के लिए उन्हें संघर्ष करना पड़ता है। बचाव अधिकारियों ने कहा कि वे अपार्टमेंट तक पहुंचने का भरसक प्रयास करने में लगे हुए है क्योंकि सड़क पर बाढ़ का पानी कमर तक बढ़ गया था। अन्य पीड़ितों में से एक को करंट लगा, एक बस स्टॉप के मलबे के नीचे पाया गया और दूसरा भूस्खलन में दब कर मर गया। समाचार एजेंसी  योनहाप के अनुसार, सोल में कम से कम 163 लोग बेघर हो गए हैं और उन्होंने स्कूलों और सार्वजनिक सुविधाओं में शरण ली है। बारिश ने सार्वजनिक परिवहन को भी प्रभावित किया है। बाढ़ वाले रेलमार्गों ने सियोल और इंचियोन में रेलवे सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है। राष्ट्रपति यूं सुक-योल ने सरकारी अधिकारियों को उच्च जोखिम वाले क्षेत्रों से लोगों को निकालने का आदेश दिया। मौसम विभाग ने राजधानी और आसपास के महानगरीय क्षेत्रों में भारी बारिश की चेतावनी जारी रखा है और देश के मध्य भाग में कम से कम भारी बारिश जारी रहने अनुमान है।

 

Read More म्यांमार में हवा में उड़ रहे प्लेन पर जमीन से चलाई गोली

Post Comment

Comment List

Latest News