खाने वाले तेल का हुआ ईंधन के रूप में इस्तेमाल, यात्री विमान पहुंचा जेएफके एयरपोर्ट

अमेरिका के न्यूयॉर्क स्थित जेएफके एयरपोर्ट पहुंचा

खाने वाले तेल का हुआ ईंधन के रूप में इस्तेमाल, यात्री विमान पहुंचा जेएफके एयरपोर्ट

दुनिया में पहली बार एक यात्री विमान खाने वाले तेल को ईंधन के तौर पर इस्तेमाल किया गया हैं। इस विमान ने सफलतापूर्वक अटलांटिक महासागर पार कर एक देश से दूसरे देश को पार किया है।

दुनिया में पहली बार एक यात्री विमान में खाने वाले तेल को ईंधन के तौर पर इस्तेमाल किया गया हैं। इस विमान ने सफलतापूर्वक अटलांटिक महासागर पार कर एक देश से दूसरे देश को पार किया है। अरबपति कारोबारी रिचर्ड ब्रैनसन की वर्जिन अटलांटिक के बोइंग-787 ड्रीमलाइनर विमान ने यह यात्रा पूरी की गई। इस विमान ने अमेरिका के न्यूयॉर्क स्थित जेएफके एयरपोर्ट पहुंचा।

इस विमान में उड़ान भरने वाले में वर्जिन अटलांटिक के संस्थापक सर रिचर्ड ब्रैनसन के अलावा ब्रिटेन के परिवहन मंत्री भी मौजूद रहे। 

Post Comment

Comment List

Latest News

केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय में होगा रूपक महोत्सव केंद्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय में होगा रूपक महोत्सव
निदेशक प्रो. सुदेश कुमार शर्मा ने कहा कि केन्द्रीय संस्कृत विश्वविद्यालय, नई दिल्ली के प्रायोजित जयपुर परिसर में 20वां रूपक...
संघर्ष विराम पर बातचीत के लिए नहीं आए इजरायली प्रतिनिधि 
तकनीकी विकास से ही देश की रक्षा : राजनाथ 
तीस हजार विजिटर और 500 करोड़ के व्यापार का कीर्तिमान
आईटी में नवीन अनुसंधान और टेक्नीकल एजुकेशन पर अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठी 
पीआरएन में सोसायटी पट्टे के मकानों पर बिजली कनेक्शन क्यों नहीं दिया : हाईकोर्ट
कर्ज से परेशान युवती ने फांसी लगाकर की आत्महत्या की