ब्लाइंड मर्डर का खुलासा:  जिसकी हमदर्दी में ग्रामीणों ने किया धरना प्रदर्शन, वहीं निकली पति की हत्यारी

 दो बच्चों की मां ने प्रेमी संग मिलकर उतारा पति को मौत के घाट, दोनों गिरफ्तार 

ब्लाइंड मर्डर का खुलासा:  जिसकी हमदर्दी में ग्रामीणों ने किया धरना प्रदर्शन, वहीं निकली पति की हत्यारी

पूजा मीणा के लिए राजकीय सेवा में नियुक्ति तथा 50 लाख रुपए मुआवजा उपलब्ध कराने जाने की मांग रखी, लेकिन अनुसंधान में पूजा ही पति की हत्यारी निकली। 

सीकर। पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर का खुलासा कर मामले में  मृतक की पत्नी और उसके प्रेमी को गिरफ्तार किया है। पुलिस अधीक्षक परिस देशमुख ने बताया कि मृतक रामधन मीणा की पत्नी ही हत्या की मुख्य सूत्रधार थी। जानकारी अनुसार गत  29 जनवरी को सिहोट बड़ी ग्राम में रामधन पुत्र धूड़ाराम मीणा निवासी शिवसिंहपुरा सीकर हाल खेत तन सिहोट बड़ी की हत्या हो गई थी। सूचना पर सिहोट बड़ी से रैवासी की तरफ जाने वाले कच्चे रास्ते पर आवारा पशुओं की रोकथाम के लिए लगाए गए लकड़ियों के खिड़का के निकट रेत पर एक युवक की खून से सनी लाश पड़ी हुई थी। बाद में मृतक की शिनाख्त खेत मालिक रामधन मीणा के रूप में हुई। घटना के संबंध में परिवादी विनोद पुत्र हरिराम मीणा ने बताया कि मेरा ताऊ का लड़का रामधन मीणा निवासी शिवसिंहपुरा थाना उद्योग नगर हाल सिहोट बड़ी थाना धोद जिला सीकर खेती का काम करता था। वह 29 जनवरी को अपने मकान के सामने खेत का गेट बंद करने गया था, लेकिन अगले दिन उसका शव गेट के निकट  कच्चे रास्ते पर रेत पर पड़ा मिला। प्रकरण में आरोपी सुरेश कुमार उर्फ  काल उर्फ नानू पुत्र सांवरमल मीणा निवासी सिहोट बड़ी पलिस थाना धोद जिला सीकर और पूजा देवी पत्नी रामचन मीणा निवासी वार्ड 3, पुजिन मौहल्ला शिवसिंहपुरा पुलिस थाना उद्योगनगर जिला सीकर हाल सिहोट बड़ी पुलिस थाना धोद जिला सीकर को गिरफ्तार किया है।

 हत्या के समय पहने जूते जला डाले
रामधन की हत्या में उसकी पत्नी ही मुख्य आरोपी निकली। रामधन की पत्नी पूजा मीणा ने हत्या से पूर्व अपराध से जुड़ी कई फिल्में व वेब सीरीज देखी तथा अपने प्रेमी से मिलकर हत्या को अंजाम दिया। हत्या करने के बाद सुरेश और पूजा ने पांव के निशान पहचान में नहीं आए, इसलिए हत्या के समय पहने जूतों को जला दिया तथा दूसरे जूते खरीद कर पहन लिए। पूजा पढ़ी लिखी है तथा दो बच्चों की मां है। गौरतलब है कि दोषियों को पकड़ने के लिए 31 जनवरी से 2 फरवरी तक गांव वालों ने थाने के सामने धरना प्रदर्शन किया तथा इसी पूजा मीणा के लिए राजकीय सेवा में नियुक्ति तथा 50 लाख रुपए मुआवजा उपलब्ध कराने जाने की मांग रखी, लेकिन अनुसंधान में पूजा ही पति की हत्यारी निकली। 

Tags:

Post Comment

Comment List

Latest News