16 साल से मूलभूत सुविधाओं की राह तक रहे वार्ड वासी

खाली भूखंडों में भरा रहता है क्षतिग्रस्त व असमतल नालियों का गंदा पानी

16 साल से मूलभूत सुविधाओं की राह तक रहे वार्ड वासी

ना तो आज तक नई टंकी बनी और ना ही समस्या का कोई समाधान हुआ।

रावतभाटा। रावतभाटा शहर की नगर पालिका के वार्ड नंबर 40 द्वारा 2005 में आवंटित बालाजी नगर, गणेश नगर कॉलोनी अपनी दुर्दशा का शिकार हो रही है। जानकारी के अनुसार नगर पालिका रावतभाटा द्वारा 2005 में नगर पालिकाध्यक्ष लीला शर्मा की अगुवाई में गणेश नगर, बालाजी नगर आवासीय कॉलोनी काटी गई थी। कॉलोनी काटे 16 साल बीत गए, लेकिन मूलभूत सुविधाओं पानी और सड़क का अभाव बना हुआ है। 2005 में आबादी केवल 200 लोगों की थी। तब पानी की टंकी बनाई गई। लेकिन आज 850 परिवारों के साथ लगभग 3000 लोग निवास करते हैं। कई बार शिकायत देने पर भी प्रशासनिक स्तर पर केवल नई टंकी बनाकर देने का आश्वासन दिया गया। ना तो आज तक नई टंकी बनी और ना ही समस्या का कोई समाधान हुआ। 

अंतिम छोर तक तो पानी की लाइन तक नहीं बिछी
वार्ड वासियों ने बताया कि कॉलोनी में मूल समस्या पानी की आपूर्ति की कमी जस की तस बनी हुई है। सर्दी में तो पानी मिलता है, लेकिन गर्मी के दिनों में पानी की इतनी समस्या हो जाती है कि लोगों को पानी के टैंकर लगवाने पड़ते हैं। नगर पालिका प्रशासन द्वारा विकास के नाम पर शुल्क तो लिया जाता है। लेकिन आज तक विकास हुआ ही नहीं। सबसे बड़ी विडंबना तो यह है कि कॉलोनी के अंतिम छोर तक तो पानी की लाइन ही नहीं बिछी हुई है। 

विकास के नाम पर जमा कराया शुल्क
नगर पालिका प्रशासन द्वारा आवासीय कॉलोनी में निवास करने वाले वार्ड वासियों से विकास के नाम पर लगभग 35000 की शुल्क राशि जमा करवाई गई। लेकिन अभी तक मूल सुविधाएं जिसमें पानी और सड़क, टूटी नालियां, खाली भूखंडों में भरा पानी लोगों के लिए समस्या बना हुआ है। शहर का सबसे प्रतिष्ठित क्षेत्र होने के बावजूद  वार्ड वासी निरंतर 16 सालों से समस्याओं का दंश झेलने को मजबूर हैं।

यह कॉलोनी मेरे नगर पालिका अध्यक्ष रहते काटी गई थी। परंतु आज भी पानी की समस्या जैसे पहले थी वही बरकरार है। पहले आबादी कम थी। लेकिन आज 16 साल बाद आबादी काफी बढ़ चुकी है और पानी की टंकी वही पुरानी वाली है। नई टंकी बनने का केवल आश्वासन ही मिलता है।

Read More भाजपा विधायकों को खरीदकर बनाती है सरकार : गहलोत

नगर पालिका प्रशासन हम सभी लोगों से विकास के नाम पर शुल्क तो लेता है, लेकिन विकास कहां हुआ यह नजर नहीं आता। सड़क और पानी दोनों ही मूल सुविधाओं से हम रिटायर्ड कर्मचारी वंचित हैं।
- राजवर्धन श्रोत्रिय, रिटायर्ड कर्मचारी

Read More आमजन को किया लिवर रोगों के प्रति जागरूक

हमारे आसपास के क्षेत्र में केवल 24 घंटे में मात्र आधा घंटा ही पानी आता है। उसमें भी पानी रुक-रुक कर और धीरे-धीरे आता है। जिससे हमें पानी के टैंकरों की मदद से ही अपना काम चलाना पड़ रहा है। 
- चेतन सिंह सांखला, पैथोलॉजी लैब ओनर

Read More भाजपा के लिए एकतरफा जीत इस बार आसान लड्डू नहीं

गर्मी के मौसम में पानी केवल आधा घंटा ही आता है। यही हाल सड़कों का भी है। वर्षों पूर्व बनी सड़क को आज तक नहीं सुधारा गया है। नालियां भी लगभग टूटी हुई हैं। नालियां एक समान नहीं होने से खाली पड़े भूखंडों में निरंतर पानी भरा रहता है।
- प्रभुलाल मेहरा, वार्ड वासी

पानी की समस्या को दूर करने के लिए वैकल्पिक तौर पर दो बार पानी की टंकी को भरवाया जाएगा और सरकार को नई टंकी के लिए प्रस्ताव बनाकर भेजा जाएगा।
- कमलेश कुमार कुलदीप, कार्यवाहक ईओ नगर पालिका रावतभाटा

Post Comment

Comment List

Latest News

कांग्रेस ज्यादातर सीटों पर जीत के लिए है आश्वस्त, दूसरे फेज में भाजपा की हालत होगी खराब : गुर्जर कांग्रेस ज्यादातर सीटों पर जीत के लिए है आश्वस्त, दूसरे फेज में भाजपा की हालत होगी खराब : गुर्जर
लोकसभा क्षेत्र में भाजपा नेताओं की यह हालत हो गई की वह अपने लोकसभा छोड़कर दूसरी जगह भी नहीं जा...
समित शर्मा ने पेयजल आपूर्ति का लिया जायजा, अवैध बूस्टरों के विरुद्ध कार्रवाई के दिए निर्देश
मणिपुर में 11 मतदान केंद्रों पर फिर होगा मतदान
भाजपा के लिए एकतरफा जीत इस बार आसान लड्डू नहीं
दूसरे फेज की सीटों में कांग्रेस दलित-अल्पसंख्यकों तक पहुंचने में जुटी
अफगानिस्तान में एक चिपचिपी खदान में बम विस्फोट, एक व्यक्ति की मौत
महावीर जयंती पर निकाली शोभा यात्रा, घरों पर फहराया पचरंगा जैन ध्वज