अंता का सामुदायिक भवन चार साल से बेकार पड़ा

रोशनदान को असामाजिक तत्वों ने तोड़ दी, बिजली और पानी की भी समुचित व्यवस्था तक नहीं

अंता का सामुदायिक भवन चार साल से बेकार पड़ा

तीन साल तक यहां तक पंहुचने का मार्ग नहीं बनाया गया जिसके कारण इस भवन का उपयोग नहीं किया जा सका।

अंता। भारत सरकार के नौ रत्नों में से एक एनटीपीसी अंता द्वारा 70 लाख रुपए की लागत से निर्मित सामुदायिक भवन वार्ड नंबर 33 का लोकार्पण हुए चार साल गुजर गए लेकिन आज तक एक बार भी किसी जरुरतमंद व्यक्ति के काम नहीं आया है जिसके कारण इस पर खर्च की गई राशि का लाल फीता शाही के कारण दुरूपयोग हो रहा है। नगरपालिका अंता द्वारा इस सामुदायिक भवन की नैतिक जिम्मेदारी स्वीकार नहीं कर इस भवन को लावारिस हालत में छोड़ दिया गया जिसके कारण इस भवन के रोशनदान, खिड़कियां, असामाजिक तत्वों द्वारा तोड़फोड़ कर क्षतिग्रस्त बना दिया गया। जानकारी के अनुसार एनटीपीसी अंता द्वारा सामाजिक नैसर्गिक उत्तर दायित्व के तहत  इस सामुदायिक भवन का निर्माण लगभग पांच वर्ष पूर्व आम जनता विशेष कर आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के लोगों के सामाजिक कार्य के उपयोग के उद्देश्य से इस का निर्माण किया गया। तीन साल तक यहां तक पंहुचने का मार्ग नहीं बनाया गया जिसके कारण इस भवन का उपयोग नहीं किया जा सका। आम जनता व समाचार पत्रों में प्रकाशित खबरों से तिलमिला कर एनटीपीसी अंता ने 20 जून 2020 को एक समारोह में लोकार्पण कर नगर पालिका अंता के सुपुर्द कर दिया गया।

असामाजिक तत्वों रोशनदान तोड़ दिए 
नगरपालिका अंता द्वारा इस सामुदायिक भवन की नैतिक जिम्मेदारी स्वीकार नहीं कर इस भवन को लावारिस हालत में छोड़ दिया गया जिसके कारण इस भवन के रोशनदान, असामाजिक तत्वों द्वारा तोड़ फोड़ कर क्षतिग्रस्त बना दिया गया। हालात यह है कि न तो बिजली और नहीं पानी की समुचित व्यवस्था की गई। नहीं सुरक्षा गार्ड लगाया गया। जिसके कारण यह अनुपयोगी ही सिद्ध हो रहा है। आश्चर्यजनक बात यह है कि नगरपालिका अंता और प्रशासन ने मिलकर इस सामुदायिक भवन को दिसंबर 23 से चंबल कॉल़ोनी के सभी सीएडी के दफ्तर स्थानांतरित कर दिए गए हैं। जिससे अब सामुदायिक भवन का औचित्य ही समाप्त हो गया है। आम जनता एवं जनप्रतिनिधियों की आवाज को कोई सुनने वाला नहीं है। सीएडी कार्यालय कहां संचालित है अधिकांश किसान व आम जन अनभिज्ञ हैं। तहसील क्षेत्र के किसानों की मांग है कि क्षेत्रीय विधायक डाक्टर कंवरलाल मीणा इस समस्या का समाधान कर सामुदायिक भवन को सीएडी कार्यालय से मुक्त कर आम जनता को राहत दिलाने में सहायक बने। सीएडी के कार्यालय पुरानी चंबल कॉल़ोनी स्थित उप खंड अ कार्यालय , गेस्ट हाउस तथा अधिशासी अभियंता कार्यालय एवं निवास में स्थानांतरित करवाने की कार्रवाई करें।

क्या बोल रहे क्षेत्रवासी
सामुदायिक भवन एनटीपीसी अंता द्वारा आम जनता के हित में बनाया गया है,इसलिए इस भवन का उपयोग सरकारी कार्यालयों में नहीं किया जाना चाहिए । यह आम जनता के साथ अन्याय है।
- सतीश नागर, युवा नेता भाजपा

सामुदायिक भवन जनता के लिए जनता के हित में बनाया गया है। इसके एप्रोच सड़क निर्माण 3.50 करोड रूपए से निमार्णाधीन हैं। इसका लाभ जनता को मिले। वे प्रयास करेंगे।
- पवन दाधीच, वार्ड पार्षद 

Read More भाजपा के बूथ पर प्रत्याशी के बैनर तक नहीं, मोदी के नाम पर मांग रहे वोट 

एनटीपीसी अंता द्वारा निर्मित सामुदायिक भवन को सीएडी कार्यालय भवन से मुक्त करने के लिए क्षेत्रीय विधायक एवं जिला कलेक्टर बारां से निवेदन किया जायेगा।
- रामेश्वर खंडेलवाल, भाजपा नगर अध्यक्ष एवं प्रतिपक्ष नेता नगर पालिका अंता

Read More अर्विक बैराठी ने लोगों को वोटिंग के लिए किया प्रोत्साहित 

इनका कहना है
सामुदायिक भवन वार्ड नंबर 33 में जनता के उपयोग के लिए बनाया गया है। वर्तमान में सीएडी कार्यालय संचालित हो रहे है। इस मामले की जानकारी लेकर उचित कार्रवाई करेंगे। 
- चंद्रप्रकाश मीणा, कार्यवाहक चेयरमैन नगर पालिका अंता

Read More गर्मियों की छुट्टियों में ट्रेनें फुल, 3 अतिरिक्त स्पेशल ट्रेन का होगा संचालन

Post Comment

Comment List

Latest News

मणिपुर में 11 मतदान केंद्रों पर फिर होगा मतदान मणिपुर में 11 मतदान केंद्रों पर फिर होगा मतदान
कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि हथियारबंद लोगों ने चुनाव अधिकारियों पर हावी होकर एक खास उम्मीदवार के पक्ष में...
भाजपा के लिए एकतरफा जीत इस बार आसान लड्डू नहीं
दूसरे फेज की सीटों में कांग्रेस दलित-अल्पसंख्यकों तक पहुंचने में जुटी
अफगानिस्तान में एक चिपचिपी खदान में बम विस्फोट, एक व्यक्ति की मौत
महावीर जयंती पर निकाली शोभा यात्रा, घरों पर फहराया पचरंगा जैन ध्वज
मोदी को 20 करोड़ लोगों को देना था रोजगार, उल्टे छीन ली युवाओं की नौकरियां : खड़गे
लोकसभा चुनाव में शहर में मतदाताओं का रुझान कम