असर खबर का - मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पास व्यवस्था फिर शुरु

चोरियों पर लगेगी लगाम

असर खबर का - मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पास व्यवस्था फिर शुरु

नवज्योति में खबर प्रकाशित की थी जिसमें अधीक्षक ने पास व्यवस्था को वापस चालू करने का आश्वासन दिया था।

कोटा। मेडिकल कॉलेज अस्पताल के वार्ड में परिजनों के लिए फिर से पास व्यवस्था शुरु कर दी गई है। जहां अब एक मरीज के परिजनों के लिए पास जारी किए जाएंगे, वार्ड में प्रवेश के लिए परिजनों या तीमारदारों को अब पास दिखाना होगा उसके बाद ही वार्ड में जा सकेंगें। गौरतलब है कि मेडिकल कॉलेज अस्पताल में पास व्यवस्था नहीं होने से कोई भी व्यक्ति अंदर चल जाता था। साथ ही वार्ड में आने जाने वालों की जानकारी भी नहीं रहती थी। जिससे चोरों को अपने काम को अंजाम देने में आसानी होती थी, और चोरी की घटनाएं लगातार बढ़ रही थी।

एक मरीज पर होंगे दो पास
अस्पताल प्रशासन अब पास की पुरानी व्यवस्था को लागू करते हुए वार्ड में प्रवेश के लिए पास जारी करेगा जिससे भर्ती मरीज के परिजन या परिचित ही वार्ड में प्रवेश कर पाएंगे। अधीक्षक आरपी मीणा ने बताया कि अस्पताल में चोरी की घटनाएं बढ़ रही थी और वार्ड में प्रवेश करने वालों की जानकारी नहीं होने के चलते ये फैसला लिया गया है। जहां अब प्रत्येक मरीज पर दो पास जारी किए जाएंगे ताकी वार्ड में प्रवेश करने वालों की जानकारी हो।

चोरी की घटनाओं पर लगेगी लगाम
पास जारी होने से अस्पताल में होने वाली चोरियों पर काफी हद तक लगाम लगेगी। क्योंकि पास नहीं होने की दशा में कोई भी व्यक्ति आसानी से वार्ड में प्रवेश कर जाता था। जहां मरीजों व तीमारदारों की वस्तुओं के चोरी होने का अंदेशा बना रहता था।

नवज्योति ने उठाया था मुदÞ्दा
अस्पताल में चोरी की घटनाएं लगातार बढ़ रही थी ऐसे में नवज्योति ने पड़ताल में पाया था की अस्पताल में वार्डों में प्रवेश पर कोई रोक टोक नहीं थी। इस संबंध में दैनिक नवज्योति ने 28 फरवरी को पेज नं 7 पर तीसरी आंख में धूल झौंक कर चोर ले रहे मौज शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी जिसमें अधीक्षक आरपी मीणा ने पास व्यवस्था को वापस चालू करने का आश्वासन दिया था।

Read More बाड़मेर पुलिस की अवैध मादक पदार्थ व हथियार तस्करी के विरुद्ध बड़ी करवाई

Post Comment

Comment List

Latest News